Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शहीद के परिजनों से मिले जिला अध्यक्ष रामधारी यादव

    शहीद के परिजनों से मिले जिला अध्यक्ष रामधारी यादव 

    गाजीपुर : जनपद के बहरियाबाद थाना क्षेत्र के वृंदावन गांव का जांबाज सैनिक जो असम में तैनात था पिछले31 मई को अरुणाचल प्रदेश असम के बॉर्डर पर गश्त के दौरान ड्यूटी से लौटने के वक्त गाड़ी के पलट जाने से 3 जवान सहित दो की मौत हो गई थी, गाजीपुर का जांबाज सिपाही अभिषेक  सिंह यादव गंभीर रूप से घायल हो गया था जिससे अरुणाचल के ही मिलिट्री हॉस्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई|

    इस का पार्थिव शरीर 3 जून को पैतृक आवास वृंदावन लाया गया जहां राजकीय सम्मान के साथ श्रद्धांजलि दे सैदपुर घाट पर अंतिम संस्कार हुआ आपको बता दें कि दिवंगत सेना का जवानअभिषेक गांव के एक किसान का बेटा जिसके परिवार में 1214 लोगों का कुनबा इस पूरे कुनबे का दारोमदार अभिषेक के ऊपर था लेकिन अब यह गरीब किसान का परिवार अपने बीच अभिषेक को नापा अपने जिंदगी और भरण पोषण पर भी सोच रहा है वृंदावन गांव के लोग ज्यादातर खेती-बाड़ी किसानी कर अपना जीवन यापन करते हैं और बहुत ही सीधे साधे ईमानदार प्रवेश के लोग हैं|

    रामजन्म यादव (दिवंगत फौजी के पिता)

    मेहनत के बल पर दो वक्त की रोटी का गुजारा करना है इनका मूल उद्देश्य है गरीबी में अपने बच्चों को पढ़ा लिखा देश की रखवाली करने में यह अपने आपको गौरवान्वित महसूस करते हैं|

    दिवंगत फौजी अभिषेक के पिता रामजन्म यादव का कहना है कि हमने बड़ी गरीबी में बच्चों को पाला पोछा और सेना में भर्ती कराया लेकिन मुझे गर्व है कि मेरा बेटा देश के नाम अपने प्राणों की आहुति दिया लेकिन दुख इस बात का है कि भाई बुढ़ापे में 12 -13 लोगों के परिवार का खर्च शिक्षा दीक्षा और चिकित्सा को यह जर्जर हाथ दुधली निगाहें कैसे पूरा कर सकती हैं, सेना के अधिकारी गाना आए थे लेकिन सरकार और प्रशासन से कोई आर्थिक और मजबूत मदद नहीं मिली गम इस बात का भी है कि मेरे बेटे को शहीद का दर्जा नहीं दिया गया।

    महताब आलम, गाजीपुर
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.