Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जीरो वैक्सीनेशन वाले क्षेत्रों में भगत भुमकाओं ने संभाली कमान, टीका व मास्क लगाने के लिए कर रहे जागरूक

    जीरो वैक्सीनेशन वाले क्षेत्रों में भगत भुमकाओं ने संभाली कमान, टीका व मास्क लगाने के लिए कर रहे जागरूक

    भगत भुमकाओं की प्रशासन ले रहा मदद, झाड़ फूंक करवाने आने वालों को भगत भूमका दे रहे टीका लगवाने की सलाह

    बैतूल- मध्यप्रदेश : आज तक आपने देखा होगा कि भगत भुमकाओं द्वारा झाड़फूंक कर इलाज किये जाने को लेकर शासन प्रशासन अंधविश्वास का नाम देते रहे है पर मध्य प्रदेश के बैतूल में एक नया नज़ारा देखने को मिला|

    जहां प्रशासन स्वयं इन भगत भुमकाओं की मदद ऐसे ग्रामीण अंचलों में वेक्सिनेशन के लिए ले रहा है जहां पर जीरो वेक्सिनेशन के आंकड़े है ।

    यहाँ प्रशासन ने इन आदिवासी गांवों में वैक्सीन लगवाने के लिए आदिवासी समाज के धर्मगुरु जिन्हें भगत भूमका कहते है जो झाड़ फूंक का काम करते है उनका सहारा लिया है और उनसे अपील करवाकर आदिवासियों को जागरूक किया जा रहा है ।

    देश में वैक्सीनेशन को लेकर जागरूकता के लिए तमाम इंतजामात किए जा रहे हैं इसके बावजूद भी मध्य प्रदेश का बैतूल जिला एक आदिवासी बाहुल्य इलाका है|

    ऐसे में यहां कई गांव है जहां पर एक भी  व्यक्ति ने  कोरोना की वैक्सीन नहीं लगवाई थी।

    यहां हाल ये है कि आदिवासी वैक्सीन लगाने वाले स्वास्थ्य कर्मियों से लड़ने झगड़ने को तैयार हो जाते है । महिलाएं तो गाली गलौज पर उतारू हो जाती है । इन आदिवासियों में भ्रम फैल गया है कि वैक्सीन लगाने से मौत हो जाती है ।

    डॉ. राजेश अतुलकर (बीएमओ चिचोली)

    अब इन गांवों में वैक्सीनेशन के लिए आदिवासी समुदाय के जो धर्मगुरु है जिन्हें भगत भूमका कहते हैं और आदिवासी इन पर भरोसा करते हैं और जब भी उनके बीच मे कोई बीमार होता है तो आदिवासी समुदाय के लोग अपने क्षेत्र के भगत भूमिका के पास जाते हैं और झाड़-फूंक करवाते हैं ।

    पंकज डोंगरे ( स्वास्थ्य कर्मी चिचोली )

    प्रशासन ने इन भगत भुमकाओं का सहारा लिया है उनसे बात की है कि जो भी लोग उनके पास आ रहे हैं उन्हें वैक्सीनेशन की सलाह दी जाए ।

    प्रशासन के प्रयास पर अमल भी शुरू हो गया  है और आदिवासी इलाके के जो गांव है वहां के भगत भुमका उनके पास आने वाले लोगों को झाड़-फूंक के साथ साथ टीका लगवाने और मास्क लगाने की भी सलाह दे रहे हैं इनका कहना है कि उन्होंने भी वैक्सीन लगवा ली है और अब ग्रामीणों को भी सलाह दे रहे हैं । ताकि कोरोना जैसी विकट महामारी से लड़ने के लिए अपने आप को तैयार किया जा सके साथ ही मास्क का उपयोग और 2 गज की दूरी बनाकर रखने की भी सलाह दे रहे है ये भगत भुमका।

    शशांक सोनकपुरिया, बैतूल- मध्यप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.