Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने बसपा छोड़ सपा का थामा दामन

    पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने बसपा छोड़ सपा का थामा दामन

    बलिया- उत्तरप्रदेश : पूर्वांचल की  राजनीति मैं  धुरंधर माने जाने वाले  अम्बिका चौधरी ने घर वापसी के क़यास लगाए जा रहे हैं। शनिवार को बहुजन समाज पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया  । श्री चौधरी के अपना यह त्यागपत्र अपने पुत्र को सपा द्वारा बलिया में जिला पंचायत अध्यक्ष का उम्मीदवार बनाने के बाद नैतिकता के आधार पर दिया है । लेकिन राजनीति की थोड़ी भी सोच रखने वाला व्यक्ति श्री चौधरी के स्थिति के कारण समझ सकता है । पिछले दो चुनावों से भाजपा उम्मीदवार व मंत्री उपेन्द्र तिवारी से चुनाव हारने के पश्चात व सपा मुखिया अखिलेश यादव से मनमुटाव के बाद पार्टी छोड़ बसपा में शामिल होने के बाद से श्री चौधरी के सितारे गर्दिश मैं चल रहे थे । लेकिन पिछले पंचायत चुनाव के बाद इनके सितारे चमकते हुए और एक बार फिर साथ देते नज़र आ रहे हैं ।

    अंबिका चौधरी, पूर्व मंत्री

    जहां श्री चौधरी अपने क्षेत्र के निकटतम प्रतिद्वंद्वी उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री उपेन्द्र तिवारी को फेफना विधान सभा में जिला पंचायत सदस्य जितानें नहीं दिया ,तो वहीं अब लाख विरोध के बावजूद अपने बेटे को जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठाते दिख रहें हैं, और विरोधी सिर्फ निगाह लगाए देख भर रहे है ।पार्टी की ओर से सरकार में मंत्री  रह चुके अंबिका चौधरी का बसपा छोड़ देना पूर्वांचल की सियासत में बड़ा फैसला माना जा रहा है।  पार्टी छोड़े जाने के बाबत पूर्व मंत्री ने पत्र जारी कर बताया है कि विधान सभा चुनाव 2017 के पूर्व बसपा में शामिल होने के बाद एक निष्ठावान कार्यकर्ता के रूप में कार्य किया। जो भी दायित्व दिया गया उसका निर्वहन करता रहा। 2019 लोकसभा चुनाव के बाद मुझे कोई जिम्मेदारी नहीं सौंपी गई। पूर्व मंत्री की ओर से बसपा में उनकी उपेक्षा का भी आरोप लगता रहा है। ऐसे में उनके पार्टी से किनारा करने की चर्चाएं पूर्व में भी रही हैं।

    आसिफ हुसैन जैदी, बलिया- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.