Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    चिकित्सक पर लगा साढ़े चार लाख का जुर्माना

    चिकित्सक पर लगा साढ़े चार लाख का जुर्माना

    सम्भल- उत्तरप्रदेश : सम्भल में न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग मरीज के इलाज में लापरवाही बरते जाने के मामले में पीड़ित  को साढ़े चार लाख मुआबजा देने का फैसला सुनाया है। न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग के अध्यक्ष ने आरोपी  चिकित्सक को आदेश जारी किया है कि चिकित्सक मुआवजे की धनराशि निर्धारित समय सीमा के अंदर पीड़ित को अदा करे। कंज्यूमर कोर्ट का यह फैसला 5  साल तक चली लंबी सुनबाई के बाद सामने आया है।

    सम्भल में कंज्यूमर कोर्ट में पीड़ित के मामले की पैरवी करने वाले अधिवक्ता देवेंद्र  कुमार ने बताया की सम्भल जनपद में चंदौसी थाना इलाके के मौलागढ़ गांव में रहने ग्रामीण राजाराम ने वर्ष 2016 में अपने घुटने में दर्द की शिकायत के चलते चंदौसी में सृष्टि नर्सिंग होम के संचालक डॉ राजीव गुप्ता से अपना इलाज कराया था। राजाराम का आरोप था कि डॉक्टर ने उसके घुटने के इलाज के जो इंजेक्शन लगाए थे।

    उसकी वजह से उसके पूरे शरीर में इंफेक्शन फैल गया था। जिसकी वजह उसे लम्बे समय तक अपना इलाज मुरादाबाद में कराना पड़ा, डॉक्टर राजीव गुप्ता की लापरवाही से उसे घुटने के इलाज के लिए लगभग 6 लाख से अधिक रूपए खर्च करने पड़े साथ ही मानसिक परेशानी से भी  गुजरना पड़ा। राजाराम के इस मामले में 20 मई 2017 को   न्यायालय जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग में केस दायर किया गया। जिसकी 5 साल से अधिक समय तक चली सुनवाई के बाद कंज्यूमर कोर्ट के अध्यक्ष राम अचल यादव ने आरोपी डॉक्टर राजीव गुप्ता को इलाज में लापरवाही का दोषी मानते हुए पीड़ित राजाराम को 3,44,517 मुआबजा, मानसिक परेशानी से गुजरने के लिए 1 लाख की धनराशि समेत 4,44,517 रूपए देने का फैसला सुनाया है।

    जबकि पीड़ित के इलाज में लापरवाही के  दोषी बताये जा रहे डॉक्टर राजीव गुप्ता ने इस फैसले को लेकर सवाल खड़े किए है, उनका  आरोप है कंज्यूमर कोर्ट में सुनवाई के दौरान उनका पक्ष ही नहीं सुना गया न ही सुनवाई के दौरान किसी मेडिकल एक्सपर्ट की राय ही ली गई, डॉक्टर राजीव गुप्ता ने फैसले के खिलाफ कोर्ट में अपील किए जाने की बात कही है।

    उवैश दानिश, सम्भल- उत्तरप्रदेश 
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.