Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लकड़ी के बॉक्स के भीतर गंगा में बहती मिली बच्ची गंगा, बॉक्स में बच्ची की कुंडली भी मिली,

    लकड़ी के बॉक्स के भीतर गंगा में बहती मिली बच्ची गंगा, बॉक्स में बच्ची की कुंडली भी मिली,

    गाजीपुर : खबर गाजीपुर से जहां  सदर कोतवाली इलाके के ददरी घाट के किनारे लकड़ी के बॉक्स में एक बच्ची के रोने की आवाज लोगों को सुनाई दी तो लोग डर गए वहीं इसकी जानकारी जब घाट के किनारे रहने वाले एक मल्लाह परिवार को हुआ तो वह कुछ लोगों के साथ वहां पहुंचा और लकड़ी के बॉक्स को जब खोला|

    गंगा में बहती मिली बच्ची

    तब उसमें बच्ची को देखकर सब अवाक रह गए इतना ही नहीं उस बॉक्स में देवी दुर्गा और भगवान विष्णु का चित्र भी लगा हुआ था और बच्ची के कमर में चुंदरी बाधा हुआ था इसके साथ ही बच्ची की कुंडली भी उसमें रखी मिली| जिसमें उसका नामकरण गंगा किया गया था।

    ************

     21 दिन की बच्ची को गंगा ने दिया एक नया जीवन...

    बच्ची गंगा की कुंडली

    गंगा जिसे मोक्षदायिनी और जीवनदायिनी भी कहा जाता है इसी गंगा में जहां पिछले दिनों लाशों के मिलने का सिलसिला शुरू हुआ तो आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हुआ। लेकिन आज इसी गंगा ने एक 21 दिन की गंगा को एक नया जीवन देने का कार्य किया है।

    मल्लाह की बहन सोनी

    जो गंगा में एक लकड़ी के बॉक्स में देवी और देवताओं के सानिध्य में अपनी जन्म कुंडली के साथ बहती हुई गंगा घाट के किनारे रहने वाले मल्लाहओ के हाथ लगी। जिसे पाने के बाद मल्लाह परिवार इसे अपनाने के लिए जिला अधिकारी के यहां गुहार लगाए हैं तो वही जिलाधिकारी ने अगले 7 दिनों तक इंतजार करने की बात कही है।

    ************

    बॉक्स में देवी दुर्गा और भगवान विष्णु का चित्र भी लगा हुआ था और बच्ची के कमर में चुंदरी बाधा हुआ था...

    गुल्लू मल्लाह

    गंगा नदी में लोगों के बहाने और फिर उन्हें जिंदा मिल जाने की कहानियां बहुत सुनी होगी । लेकिन गाजीपुर में 1 दिन पूर्व यह हकीकत में देखने को मिला जब सदर कोतवाली इलाके के ददरी घाट के किनारे लकड़ी के बॉक्स में एक बच्ची के रोने की आवाज लोगों को सुनाई दिया तो लोग डर गए वहीं इसकी जानकारी जब घाट के किनारे रहने वाले एक मल्लाह परिवार को हुआ तो वह कुछ लोगों के साथ वहां पहुंचा और लकड़ी के बॉक्स को जब खोला तब उसमें बच्ची को देखकर सब अवाक रह गए इतना ही नहीं उस बॉक्स में देवी दुर्गा और भगवान विष्णु का चित्र भी लगा हुआ था और बच्ची के कमर में चुंदरी बाधा हुआ था।

    ************

    जन्म कुंडली के साथ मिली गंगा में गंगा...

    इसके साथ ही बच्ची के कुंडली भी उसमें रखा हुआ था जिसमें उसका नामकरण गंगा किया गया था। मल्लाह परिवार के द्वारा उस बच्ची को पाए जाने के बाद उसे अपने घर लाया गया और उसे फिर नहला धुला कर अपने घर रखा गया तभी तेज बारिश होने लगी और कई घंटे बारिश होने के चलते इस परिवार ने इसकी सूचना पुलिस को नहीं दे पाया तब देर शाम सिविल ड्रेस में एक युवक और युवती उसके घर पहुंचे और बच्ची की मांग करने लगे तब इन लोगों ने देने से इनकार किया तब इसके बाद पुलिस भी पहुंची और इन लोगों ने बच्ची के साथ मिले हुए सभी सामान को लेकर कोतवाली पहुंचे और पुलिस को सुपुर्द कर दिया इसके पश्चात इस परिवार ने बच्ची को पालने की लालसा से इन लोगों ने जिला अधिकारी को एक पत्र भी सौंपा जिस पर जिलाधिकारी ने इन लोगों से 1 सप्ताह बाद इस संबंध में निर्णय लेने की बात कही, जिसे इन लोगों ने मीडिया के सामने बताया।

    महताब आलम, गाजीपुर
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.