Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    छत्तीसगढ़ सरकार के नरवा, घुरवा, बाड़ी व गौठान योजना फेल- राजेश श्यामकर

    छत्तीसगढ़ सरकार के नरवा, घुरवा, बाड़ी व गौठान योजना फेल- राजेश श्यामकर                                              गौठानो में सेट नही बनने से  मवेशियों को रखने में हो रही है परेशानी                                                                राजनांदगांव- छत्तीसगढ़ : डोगरगढ़ विधानसभा सहित पुरे जिले में जो कांग्रेस सरकार अपने आप में महत्वकांक्षी योजना बतला रहे हैं, वह योजना आम जनता के सामने पूरी तरह फेल हो चुकी है, जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 09 जिला सदस्य एवं आबकारी विभाग  समिति के सलाहकार राजेश श्यामकर ने डोगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक भुनेश्वर बघेल को आड़े हाथ लेते हुए बताया है कि छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वकांक्षी नरवा, घुरवा, बाड़ी व  गोधन न्याय गौठान योजना सत्ता पक्ष के विधायक होने के बावजूद  प्रशासन कि अनुशासन नहीं होने के कारण छत्तीसगढ़ सरकार की पूरी योजना फेल हो रही है, इसका मुख्य कारण स्थानीय क्षेत्रीय विधायक अपनी सरकार की योजनाओं पर मजबूती के साथ समाज के अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने में कोई रुचि नहीं नही ले रहा है,  जिसके कारण छत्तीसगढ़ सरकार की सारी योजना डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र में फेल साबित हो गई हैं।        

    श्यामकर ने आगे बताया कि  सरकार की सारी योजना का सही क्रियान्वयन जिम्मेदारी के लिए प्रशासन की अहम भूमिका होती है, लेकिन प्रशासन छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं का समाज के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने में फेल होने के कारण  विधायक स्वयं जिम्मेदार है, जो प्रशासन को अपनी सरकार की योजनाओं पर मजबूती के साथ योजनाओं का क्रियान्वयन कराने में विधायक सक्षम नहीं है, जिसके कारण योजनाओं का करोड़ों रुपए नेता और अधिकारी कमीशन खोरी में लगे हुए हैं, नरवा, घुरवा, बाड़ी व गौठान योजना जमीनी स्तर पर कमीशन खोरी के चलते योजनाओं में करोड़ों रुपए खर्च करने के बावजूद गौठान पर मवेशियों के लिए कोई आज तक सेड नहीं बना है, जिसके कारण पिछले साल लगातार बारिस से बहुत से मवेशियों के मौत हो गई थी ,और ना ही कोई चारा के सुरक्षा व्यवस्था है जिसके कारण बारिश में पैरा खराब हो जाता है , तथा मवेशियों के लिए पीने के पानी का भी व्यवस्था नहीं कर पा रहे हैं, मैं सरकार से निवेदन करता हु इस बारिस से पहले सभी गौठानो में मवेशियों और चारा के लिए सुरक्षा व्यवस्था के लिए तत्काल सेड का निर्माण हो ।सिर्फ फाइलों में ही शासन प्रशासन के करोड़ों रुपए की खर्चा कर सफल साबित करके शासन से अपना विभाग का नाम रोशन के अलावा कुछ नहीं कर रहे हैं, किंतु ग्रामीण क्षेत्रों में सरकार की योजनाओं का सही क्रियान्वयन नहीं होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में नरवा, घुरवा, बाड़ी व गौठान योजना को ग्रामीण क्षेत्र के आम जनता को विकास और योजनाओं को देखने के लिए तरस गए हैं, सिर्फ शासन - प्रशासन सरकार की योजनाओं का अखबारों में ही सफल होने का दावा कर रहे हैं, उन्होंने  विधायक सहित छत्तीसगढ़ सरकार को आड़े हाथ लेते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार की शासन प्रशासन पर कोई दबाव नियंत्रण नहीं होने के कारण शासन प्रशासन छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं का सही क्रियान्वयन नहीं कर पा रहे हैं, ना ही डोंगरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के  विधायक जो सत्ता पक्ष के होने के बाद भी अपने ही सरकार की योजनाओं पर ग्रामीण क्षेत्रों को लाभ दिलाने के लिए कोई भ्रमण ना कोई मीटिंग में प्रशासन के साथ ना ग्रामीणों के साथ सिर्फ जो अपने क्षेत्र के दो और चार स्थानीय नेताओं को लेकर सिर्फ दिखावे के लिए भ्रमण कर रहे हैं, जो आगामी विधानसभा चुनाव में आम जनता स्थानीय विधायक की लापरवाही को अपने मत से जवाब देंगे।                                      ग्रामीण क्षेत्रों के गौठानो का निरीक्षण करने के दौरान मुख्य रूप से राजेश श्यामकर के साथ घुमका भाजपा मंडल अध्यक्ष जागेश्वर साहू, मंडल महामंत्री परदेशी सोनबोइर, मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र वर्मा, भाजयुमो उपाध्यक्ष अक्षय कुमार, चारभांठा सरपंच गणेशराम साहू, घनश्याम साहू, तेजराम साहू उपस्थित थे ।

    हेमंत वर्मा, राजनांदगांव- छत्तीसगढ़
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.