Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोविड नियमों का पालन करने का अनुरोध

    कोविड नियमों का पालन करने का अनुरोध

    मुरादाबाद- उत्तरप्रदेश : उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए सख्त से सख्त कदम उठा रही है, खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश की जनता से कोविड नियमों का पालन करने का अनुरोध कर रहे हैं, लेकिन उसके बाद भी उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में गंगा दशहरे के मौके पर थाना मझौला के बराबर में लगने वाले जेठ मेले में आज जमकर लॉक डाउन का उल्लंघन तो हुआ ही इसके साथ ही आस्था के नाम पर यहां छोटे-छोटे मासूम बच्चों के साथ लेकर लोगों की भीड़ जमा हुई, बकायदा यहां एक मेला लगाया गया जिसमे सैकड़ों लोग शामिल हुये, बिना सेनिटाइजर के वहां बैठे नाई बच्चों का मुंडन करते हुये नज़र आये, मुंडन के बाद गगन नदी में गिरने वाले शहर के गंदे पानी के नाले के आगे बैठकर बच्चों का मुंडन करा कर उसी गंदे पानी से उन बच्चों का स्नान कराया गया, आस्था में डूबे लोगों से जब यह जानना चाहा कि इस गंदे पानी में संक्रमण हो सकता है बच्चे बीमार हो सकते हैं तो उस पर बच्चों के माता-पिता का कहना है कि यह गगन देवी का मंदिर है और इस गंदे पानी में देवी वास करती हैं और वह बच्चों की बीमारियां दूर करती हैं इसलिए वह मान्यता के चलते यहां आए हैं और अपने बच्चों का मुंडन करा कर इसी पानी से स्नान कराकर प्रसाद चढ़ा रहे हैं।

    मुरादाबाद पुलिस और जिला प्रशासन की लापरवाही के चलते लॉकडाउन के बावजूद मुरादाबाद के दिल्ली रोड पर थाना मझौला के ठीक बराबर में गगन देवी के मंदिर के पास आज जेठ मेले के नाम पर सैकड़ों लोग अपने छोटे-छोटे बच्चों को लेकर जमा हुए और वहां पर आस्था व धार्मिक मान्यता के चलते बच्चों का मुंडन कराकर वहीं शहर के बड़े गंदे नाले के गिर रहे पानी से बच्चों का स्नान कराया और उन्हें कुल्ला कराकर उनके उज्जवल भविष्य के लिए गगन देवी से प्रार्थना की, नाले के गंदे पानी से बच्चों को स्नान करा रहे बच्चों के माता-पिता से यह जानना चाहा कि इससे तो संक्रमण हो सकता है तो बच्चों के माता-पिता ने बेबाक होकर जवाब दिया कि गगन देवी किसी भी बच्चों को बीमार नहीं होने देंगी और बच्चों की सुरक्षा करेंगी। चलो ये तो आस्था में डूबे हुए लोग थे जो अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए गंदे पानी से उन्हें स्नान करा रहे हैं, लेकिन मुरादाबाद के जिला प्रशासन और पुलिस की भी जिम्मेदारी है कि उसने लॉकडाउन में कैसे मेला लगाने की अनुमति दे दी और इतने लोगों को वहां जमा होने दिया, ठीक थाना मझौला के बराबर में सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा है सड़क किनारे दुकानें लगी हुई हैं पुलिस कर्मी भी साइड में आराम करते हुए नज़र आ रहे हैं। पुलिस प्रशासन की यह लापरवाही कहीं कोरोना वायरस की थर्डवेव को दावत तो नहीं दे रही है।

    मसूद अहमद, मुरादाबाद- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.