Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शहर की बेटी राणावत ने बायोलॉजिकल साइंसेज में रसायन अनुसंधान संस्थान गुजरात से पीएचडी की

    शहर की बेटी राणावत ने बायोलॉजिकल साइंसेज में रसायन अनुसंधान संस्थान गुजरात से पीएचडी की

    चित्तौड़गढ़ : शहर की एक बेटी ने गुजरात में पीएचडी कर नाम कमाया है। स्टडीज ऑन हेलो-टोलरेंट बैक्टीरिया फॉर एग्रिकल्चरल एप्लिकेशन विषय पर शोध कर वैज्ञानिक और औघोगिक अनुसंधान परिषद- केंद्रीय नमक व समुद्री रसायन अनुसंधान संस्थान भावनगर गुजरात से (जैविक विज्ञान) मे पीएचडी की उपाधि प्राप्त की है।

     डॉ. बबलेश राणावत

    चंदेरिया थाना क्षेत्र के गांव रोजड़ा हॉल मधूवन सेंती निवासी 30 वर्षीय डॉ. बबलेश राणावत पुत्री एएसआई कोतवाली भूरसिंह राणावत ने शहर के गांधीनगर स्थित मेवाड़ गर्ल्स कॉलेज से जैव प्राघोगिकि में बीएससी की।

    उत्तराखंड यूनिवर्सिटी एचएनबीजी से बायोटेक्नोलोजी में एमएससी करने के बाद बायोलॉजिकल साइंसेज में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (पीएचडी)के लिए पांच साल तक वैज्ञानिक और नवीकृत अनुसंधान अकादमी, गाजियाबाद, न्यू दिल्ली से संबद्ध केंद्रीय नमक व समुद्री रसायन अनुसंधान संस्थान भावनगर गुजरात में रहकर संस्थान की गाइड-डॉ. अनिशासिंह व कोगाईड डॉ.संध्या मिश्रा के सानिध्य में पीएचडी पूर्ण की।

    डॉ.बबलेश राणावत ने बताया कि इस उपाधी का श्रेय वह गुरुजनों के साथ अपने पिता को देना चाहती है।जिन्होने हर समय उसकी हौंसला अफजाई की उसे आगे बढ़ने के लिए प्रेरीत किया।आगे वह बायोलॉजिकल साइंसेज में ही उच्च स्तर पर अगला कदम बढ़ाएगी।

    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.