Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नगर निगम द्वारा शामिल किए गए 41 गांव पर टैक्स लगाने को लेकर समाजवादी पार्टी भड़की और पुरजोर विरोध का किया ऐलान

    नगर निगम द्वारा शामिल किए गए 41 गांव पर टैक्स लगाने को लेकर समाजवादी पार्टी भड़की और पुरजोर विरोध का किया ऐलान

    जब तक इन गांवो  मे पार्षद  का चुनाव न हो, नगर निगम  द्वारा  विकास  कार्य  न कराये  जाय, मूलभूत  सुविधा  न उपलब्ध  कराया  जाय तब तक कैसा टैक्स 

    अयोध्या - उत्तरप्रदेश : मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की  धर्म नगरी अयोध्या  में अयोध्या व फैजाबाद नगर पालिका को मिलाकर अयोध्या  नगर निगम   बनाया गया। और अयोध्या नगर निगम की सीमा को बढ़ाने के लिए आसपास के  41 गांव को नगर निगम में शामिल कर लिया गया। जहां पर मौजूदा समय में ना तो प्रधानी है। और ना ही पार्षद है। ऐसे गांव पूरी तरह से बेगाने लग रहे हैं। क्योंकि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव वहां पर नहीं हुए। इसलिए गांव सभा से भी विकास नहीं हो पा रहा है। सालों बीत जाने के बाद अभी तक इन 41 गांव में पार्षद का भी चुनाव नहीं कराया जा सका है। लेकिन नगर निगम द्वारा  41 गांवो पर भी नगर निगम का टैक्स लगाया जा रहा है। जिसको लेकर एक तरफ गांव वाले नाराज हैं। तो दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी ने  41 गाँवों पर टैक्स लगाने पर भड़क गए हैं। और 41 गांव के पर लगाये  जा रहे टैक्स का पुरजोर विरोध कर रहे हैं। कहा कि जब तक पार्षद का चुनाव ना हो जाए, बिजली पानी सड़क आदि मूलभूत सुविधाओं को नगर निगम द्वारा न कराया जाए। तब तक कैसा टैक्स? रहते हैं गांव में, टैक्स अदा करें नगर निगम का।

    समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडे उर्फ पवन ने नगर आयुक्त व महापौर पर लगाया मिलीभगत का आरोप।कहा दोनों मिलकर कर रहे हैं लूट खसोट। नगर निगम कर रहा है नियम विरुद्व कार्य। कोई सुविधा दिये बगैर नगर निगम नहीं लगा सकता कोई टैक्स। नगर निगम द्वारा  शहरी क्षेत्र और नगर निगम द्वारा निर्धारित  जब तक मूलभूत सुविधाएं  इन 41 गांव को नहीं दिया जाएगा तब तक टैक्स लगाने का कोई सवाल नहीं उठता है।  जो सुविधाएं मिलनी चाहिए नहीं मिल पा रही है। इन 41 गांव के लोगों का उत्पीड़न किया जा रहा है।  नाली, पानी, सड़क, बिजली तथा अन्य मूलभूत सुविधाएं  बगैर उपलब्ध कराएं  टैक्स कैसे लगाया जा सकता है। नगर निगम द्वारा कुछ अखबारों मे 41 गांवों पर लगने वाले टैक्स का विज्ञापन छपाया गया है।

    साथ ही हवाई अड्डे के लिये किसानों की जमीनें जबरन लिखवाने का भी प्रशासन पर लगाया आरोप। गांव वालों को जबरन धमका कर हवाई अड्डे के नाम पर अधिकारी लिखवा रहें हैं किसानों की ज़मीनें। एक सप्ताह में अधिकारियों को सौंपेंगे ज्ञापन । अगर उसके बाद भी 41 गांवों को लेकर अधिकारियों ने न मानी गांव वालों की मांगे तो समाज वादी पार्टी कोविड नियमों का पालन करते हुये करेगी धरना प्रदर्शन व आंदोलन।

    पूर्व मंत्री ने कहा भाजपा सरकार के कार्यकाल के बचे सिर्फ 6 महीनें। 2022 में सपा की सरकार बनने पर किया जायेगा अयोध्या में राम राज्य कायम। किया जायेगा अयोध्या को सभी टैक्सों से मुक्त। साथ ही अधिकारियों को भी दी चेतावनी। कहा सपा सरकार बनने पर अगर किसी किसान ने लिखवाया उनके विरद्व मुकदमा तो जेल जाने को तैयार रहें अधिकारी।

    देव बक्श वर्मा, अयोध्या - उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency) 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.