Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया/बिहार। जिला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, आदित्य कुमार ने गया जिलावासियों को ईद उल फितर (ईद) त्यौहार की दी शुभकामनाएं एवं बधाई

    गया/बिहार। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए ईद उल फितर का त्यौहार अपने घर पर ही मनाने  तथा ईद की नमाज़ भी अपने घर पर ही अदा करने की अपील  जिला पदाधिकारी  अभिषेक सिंह, एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, आदित्य कुमार ने की है।

    जिला पदाधिकारी ने लोगों से कहा है की गृह विभाग (विशेष शाखा), बिहार, पटना द्वारा दिए गए निदेश के आलोक में ज़िले में लॉकडाउन 25 मई, 2021 तक बढ़ाया गया है ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके। इसी परिप्रेक्ष्य में उन्होंने कहा है कि सरकार के दिशा निदेश के आलोक में ईद की नमाज़ सार्वजनिक स्थलों/मस्जिद/ईदगाहों पर अदा न करें। साथ ही सभी धार्मिक स्थलो को बंद रखने का निदेश सरकार द्वारा दिया गया है। इसके अतिरिक्त किसी प्रकार का धार्मिक/सामाजिक/सांस्कृतिक/राजनीतिक एवं अन्य कार्यक्रम समारोह के आयोजन पर पूर्णत: रोक लगाया गया है। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया है कि कोविड संक्रमण के प्रसार को देखते हुए जनहित एवं देशहित में ईद की नामज़ घर पर ही अदा करते हुए ईद त्यौहार को शांतिपूर्वक एवं प्रेम, सद्भाव के वातावरण में मनावे। उन्होंने इमाम/उलेमा से अनुरोध किया है कि वे मस्जिदों से माइक द्वारा ऐलान करावे की लोग कोरोना संक्रमण तथा सरकार द्वारा निदेश को देखते हुए ईद की नामज़ अपने घर पर ही अदा करे।

    इस परिप्रेक्ष्य में पूरे गया जिला में ईद त्यौहार को देखते हुए विधि व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु पूरे ज़िले में 17 स्थानों पर दंडाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस कर्मी की प्रतिनियुक्ति की गई है। 

    क्यू०आर०टी० (ब्रज वाहन) - परिचारी प्रवर, पुलिस केंद्र, गया को निदेश दिया गया है कि गया शहरी क्षेत्र के प्रमुख स्थानों यथा रेलवे स्टेशन, गया/कोतवाली थाना/सिविल लाइन थाना में 1-1 ब्रज वाहन में पर्याप्त संख्या में पुलिस पदाधिकारी/बल (राइट कंट्रोल गियर) के साथ क्यू०आर०टी० के रूप में प्रतिनियुक्त करना सुनिश्चित करेंगे। प्रतिनियुक्त पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल का दायित्व होगा कि भ्रमणशील रहकर पूरे गया शहर में विधि व्यवस्था बनाए रखना सुनिश्चित करेंगे। 

    नियंत्रण कक्ष - ईद त्यौहार के अवसर पर जिला आपातकालीन केंद्र-सह- जिला नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी/कर्मियों का दायित्व होगा कि उक्त तिथि को विधि व्यवस्था संधारण एवं प्रशासनिक सतर्कता एवं निरोधात्मक कार्रवाईयो की निगरानी हेतु आवश्यक कार्रवाई करना सुनिश्चित करेंगे। जिला स्तरीय आपातकालीन संचालन केंद्र -सह- जिला नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या 0631-2222253/2222259 24 घण्टे कार्यरत है।

    चिकित्सा व्यवस्था- सिविल सर्जन, गया को निर्देश दिया गया है कि आपातकालीन स्थिति से निपटने हेतु एंबुलेंस, चिकित्सक एवं जीवन रक्षक दवाइयों के साथ जिला नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त करेंगे। अधीक्षक, अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, गया को निर्देश दिया गया है कि वे अपने स्तर से सभी चिकित्सकों/कर्मियों को नियत समय पर अस्पताल में उपस्थित रहने एवं आपातकालीन स्थिति से निपटने हेतु तैयारी हालत में रहना सुनिश्चित करेंगे। 

    आसूचना संग्रह- पुलिस उपाधीक्षक (विशेष शाखा), गया को निदेश दिया गया है कि आसूचना संग्रह हेतु अपने स्तर से विशेष शाखा के पदाधिकारियों/कर्मियों को प्रतिनियुक्त करना सुनिश्चित करेंगे तथा प्राप्त आसूचनाओं के आधार पर अग्रेतर कार्रवाई हेतु सभी वरीय पदाधिकारियों को तत्काल अवगत कराते रहेंगे।

    कोविड 19- कोरोना के अप्रत्याशित संक्रमण में वृद्धि को देखते हुए गृह विभाग (विशेष शाखा), बिहार, पटना द्वारा सभी प्रकार के राजकीय सार्वजनिक आयोजनों पर रोक लगा दी गई है। सभी प्रकार के धार्मिक स्थल दिनांक 15 मई 2021 तक बंद करने का निर्देश दिया गया है। भारत सरकार/ बिहार सरकार के गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, गृह विभाग ,स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी कोविड-19 से संबंधित दिशा निर्देशों का अनुपालन करना अनिवार्य होगा। कोविड-19 महामारी के संक्रमण से बचाव हेतु पदाधिकारियों एवं कर्मी मास्क लगाकर एवं सैनिटाइजर का इस्तेमाल के साथ प्रतिनियुक्त स्थल पर उपस्थित रहेंगे तथा कोविड-19 के संदर्भ में मानक एस०ओ०पी० का अनुपालन सुनिश्चित कराएंगे।

    अनुमंडल पदाधिकारी, सदर, गया एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, बोधगया/वजीरगंज, पुलिस उपाधीक्षक, नगर/विधि व्यवस्था, गया स्वयं भ्रमणशील रहकर विधि व्यवस्था संधारित करेंगे तथा अपने अपने क्षेत्र में विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे। गया शहर के अंतर्गत सभी थानाध्यक्ष अपने उपलब्ध पुलिस बल के साथ भ्रमणशील रहकर अपने अपने क्षेत्र में विधि व्यवस्था संधारण करेंगे।

    गया जिला के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/थानाध्यक्ष को निर्देश दिया गया है कि वे थाना सुरक्षित के रूप में संबंधित थाना में उपस्थित रहकर विधि व्यवस्था का संधारण करना सुनिश्चित करेंगे।

    सभी अनुमंडल पदाधिकारी/अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी/पुलिस उपाधीक्षक, गया, जिला को निर्देश दिया गया है कि उक्त अवसर पर अपने अपने अनुमंडल क्षेत्र में विधि व्यवस्था संधारण करने हेतु उपलब्ध दंडाधिकारी/ उपलब्ध पुलिस पदाधिकारी/उपलब्ध पुलिस बल/दफादार/चौकीदार को आवश्यकतानुसार संवेदनशील स्थानों पर प्रतिनियुक्त करेंगे तथा उन्हें विधि व्यवस्था संधारण करने हेतु निर्देश निर्गत करेंगे। 

    साथ ही स्वयं भी अपने अनुमंडल क्षेत्र में भ्रमणशील रहते हुए विधि व्यवस्था संधारण करना सुनिश्चित करेंगे। संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी/अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी/पुलिस उपाधीक्षक अपने-अपने अनुमंडल के विधि व्यवस्था के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे। उक्त अवसर पर विधि व्यवस्था के संपूर्ण वरीय प्रभार में अपर समाहर्ता, गया एवं नगर पुलिस अधीक्षक, गया रहेंगे।


    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency(INA), गया/बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.