Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मुख्यमंत्री के असंवेदनहीनता एवं कुप्रबंधन के कारण ही बिहार के लोग अपने जान गवाँ रहे हैं- बीरेन्द्र गोप

    मुख्यमंत्री के असंवेदनहीनता एवं कुप्रबंधन के कारण ही बिहार के लोग अपने जान गवाँ रहे हैं- बीरेन्द्र गोप
    गया/बिहार : राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव सह ओबीसी महासभा बिहार के प्रदेश अध्यक्ष अधिवक्ता बीरेन्द्र कुमार उर्फ बीरेन्द्र गोप ने वयान जारी कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री के कुप्रबंधन, अहंकार, भ्रष्टाचार, लापरवाही, उदासीनता, संवेदनहीनता, विपक्ष के प्रति हिन भावना एवं बिहार सरकार की जर्जर स्वास्थ्य व्यवस्था के कारण ही बिहारवासियों को अपने जान से हाथ धोना पड़ रहा है।सही मायने में कहा जाय तो बिहार वासियों से उनका जीने का अधिकार छिना जा रहा है। बीरेन्द्र गोप ने कहा कि सरकार उन्हें उचित इलाज,ऑक्सिजन और जीवन रक्षक दवाओं के अभाव में मरने के लिए मजबूर कर रही है। अगर उन्हें बिहार और बिहार वासियों का जरा सा भी चिंता है तो नीतीश कुमार की ड़बल इंजन वाली सरकार जरूरत के अनुसार केंद्र से ऑक्सीजन की मांग क्यों नहीं कर रही? फिलवक्त केन्द्र सरकार से बिहार के लिए जो भी आवंटित ऑक्सिजन है, उसे बिहार लाने में सक्षम क्यों नहीं हो रही है? क्या यही 16 वर्षों की उपलब्धि है? 
    बीरेन्द्र गोप बिहार में वर्तमान हालात के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी दोषी ठहराया है, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महज एक राज्य में चुनाव जितने एवं सत्ता हासिल करने के लिए करोड़ों भारतीयों को लाशों के ढेर पर खड़ा कर दिया। बीरेन्द्र गोप ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सिवान से चार बार सांसद रहे मरहूम सैय्यद शहाबुद्दीन की मौत के कारणों का पता लगाने के लिए उंच्चस्तरीय जांच कि भी मांग की है।साथ ही बीरेन्द्र गोप ने उच्च न्यायालय के द्वारा बिहार को सेना के हवाले करने के लिए कहे जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार में अगर थोड़ी सी भी नैतिकता बची है तो उन्हें राजनीति में सुचिता का ख्याल रखते हुए अबिलम्ब मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

    प्रमोद कुमार यादव, गया/बिहार
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.