Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    महाराणा प्रताप जयंती पर विचार गोष्ठी का आयोजन

    महाराणा प्रताप जयंती पर विचार गोष्ठी का आयोजन

    सम्भल-उत्तर प्रदेश : हिंदू जागृति मंच के तत्वावधान में गूगल मीट द्वारा महान पराक्रमी शासक महाराणा प्रताप की जयंती पर विचार गोष्ठी आयोजित की गई। जिसमें हिंदू जागृति मंच के सदस्यों ने घर पर ही इस विचार गोष्टी में अपनी सहभागिता प्रदान की। सर्वप्रथम विचार गोष्ठी का शुभारंभ हिंदू जागृति मंच के उपाध्यक्ष विष्णु कुमार ने सुंदर कविता के माध्यम  से बताया जब महाराणा प्रताप हल्दीघाटी के युद्ध के लिए तैयार हो रहे थे तो उनकी पत्नी ने चेतक से कहा- ओ पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े, तुझ पर सवार जो मेरा सुहाग है, वह रखता तू उसकी लाज है, तेरे कंधे पर आज भार है मेवाड़ का। तदुपरांत हिंदू जागृति मंच के संगठन मंत्री अमन सिंह ने अपने विचार रखते हुए कहा कि महाराणा प्रताप का नाम इतिहास में वीरता और दृढ़ता के लिए अमर है क्योंकि उन्होंने मुगल  शासक अकबर की अधीनता स्वीकार नहीं की।

    कई वर्षों तक उससे संघर्ष किया और बार बार मुगलों को युद्ध में परास्त किया। मंच के उपाध्यक्ष अरविंद शंकर शुक्ला ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा महाराणा प्रताप ने जिस प्रकार हल्दीघाटी के युद्ध में अंग्रेजों के दांत खट्टे किए यह दर्शाता है कि उन जैसा पराक्रमी शासक इस भारत भूमि के लिए एक महान प्रेरणा व मिसाल है।        हिंदू जागृति मंच के जिला महामंत्री सुबोध कुमार गुप्ता ने अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि महाराणा प्रताप जैसे शासक ने जिस प्रकार भारत का मस्तिष्क पूरे विश्व में ऊंचा किया है वह आज के समाज के लिए प्रेरणादायक व अनुकरणीय हैं। आज हमें आवश्यकता है कि ऐसे महान पुरुषों की जयंती मनाई जाए जिससे हमारी युवा पीढ़ी प्रेरित हो और एक अच्छे समाज का निर्माण हो। अमित शुक्ला ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा जब महाराणा प्रताप ने इस पवित्र पावन भूमि के लिए अपने प्राण न्योछावर किए तो अकबर जैसा प्रतिद्वंदी भी उनकी इस शहादत पर दुखी था क्योंकि वह हृदय से महाराणा प्रताप के गुणों का प्रशंसक था और वह जानता था कि महाराणा प्रताप जैसा वीर कोई और इस धरती पर नहीं है उनकी मृत्यु का समाचार सुनकर उसकी आंखों में भी आंसू आ गये।

    नवनीत कुमार ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हिंदू जागृति मंच सदैव ऐसे महापुरुषों की जयंतीआयोजित करता रहा है और करता रहेगा जिससे समाज को प्रेरणा मिले। हिंदू जागृति मंच के संस्थापक अजय कुमार शर्मा ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आज समाज को ऐसे ही महापुरुषों की आवश्यकता है ताकि भारत पुनः विश्व गुरु बने और उसका लोहा पूरा विश्व माने। हम भारतीय ऐसे महान पुरुषों के चरणों में नमन वंदन करते हैं। अन्य वक्ताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किये। इस दौरान अजय गुप्ता, दीपक शर्मा, विष्णु कुमार, सुबोध कुमार गुप्ता, भरत मिश्रा,  अमन सिंह, अमित शुक्ला, अरविंद शुक्ला, नवनीत कुमार, दुष्यंत मिश्रा आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मंच के संस्थापक अजय कुमार शर्मा व संचालन महामंत्री विकास कुमार वर्मा ने किया।

    उवैश दानिश
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, सम्भल-उत्तर प्रदेश 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.