Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया/बिहार। बिहार में मचा हाहाकार कहां है डबल इंजन सरकार:- बीरेन्द्र गोप

    गया/बिहार। राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव सह ओबीसी महासभा बिहार के प्रदेश अध्यक्ष अधिवक्ता बीरेन्द्र कुमार उर्फ बीरेन्द्र गोप एवं प्रदेश महासचिव रुबी गुप्ता ने संयुक्त बयान जारी कर  जारी कर बिहार की भयावह स्थिति का जिम्मेदार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं डबल इंजन की सरकार को ठहराया है।बीरेन्द्र गोप ने कहा कि बिहार से NDA के 40 में से 39 लोकसभा सांसद, 9 राज्यसभा सांसद और 5 केंद्रीय मंत्री है। 16 वर्षों से NDA के CM नीतीश कुमार और दो-दो उपमुख्यमंत्री है फिर भी बिहार वैक्सीन, ऑक्सीजन और बेड की उपलब्धता में देश में सबसे निचले पायदान पर है। 

    अधिवक्ता बीरेन्द्र कुमार उर्फ बीरेन्द्र गोप

    इतनी बेशर्म, विफल, नाकारा व निक्कमी सरकार बिश्ब पटल  पर कहीं और नहीं मिलेगी। गोप ने कहा कि विगत 3-4 वर्षों से आपदा-विपदा में बिहार को कभी भी केंद्र सरकार का सकारात्मक सहयोग नहीं मिला। 2019 में बिहारवासियों ने लोकसभा के चुनाव में NDA को प्रचंड बहुमत दिया लेकिन केंद्र सरकार की पक्षपाती नीतियों, निर्णयों और सौतेले व्यवहार से ऐसा प्रतीत होता है मानों केंद्र सरकार बिहार को देश का अभिन्न अंग मानती ही नहीं। बीरेन्द्र गोप ने कहा कि जनसंख्या व क्षेत्रफल के साथ साथ ग़रीबी, बेरोज़गारी, पलायन और कोरोना संक्रमण दर इत्यादि में बिहार देश के अव्वल प्रदेशों में से एक है लेकिन बिहार को उस अनुपात में केंद्र से सहयोग कभी नहीं मिलता। 

    इसका दोषी बिहार सरकार और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं,क्योंकि किसी भी बैठक या मोर्चे पर मज़बूती से उन्हें बिहार का हक़ और हिस्सा माँगते न देखा गया है और न ही सुना गया है। बाक़ी प्रदेशों के मुख्यमंत्री तार्किक, तथ्यात्मक तथा आक्रामक रूप से अपने प्रदेश की समस्याओं एवं संसाधनों की कमी, उपलब्धता और केंद्र द्वारा असहयोग इत्यादि को खुल कर अपने प्रदेशवासियों अथवा बैठकों में प्रधानमंत्री को व्यक्त करते है लेकिन बिहार के इतिहास अभी तक के सबसे कमजोर,लाचार, बेवश व अनुकंपाई मुख्यमंत्री डरे सहमे और दुबके से रहते है। वो ना तो प्रदेश में व्याप्त समस्याओं और संसाधनों की कमी को स्वीकार करते है और ना ही कुर्सी जाने के भय से केंद्र सरकार से कोई माँग करते है। 

    रुबी गुप्ता प्रदेश महासचिव

    बीरेन्द्र गोप ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस वक्त सिर्फ़ मौत और जाँच के आँकड़े कम करके बिहार वासियों को गुमराह करने में व्यस्त हैं। उन्होंने बिहार को भगवान एवं यमराज के भरोसे छोड़ दिया हैं। श्री बीरेन्द्र गोप ने कहा कि इससे शर्मनाक  बात और क्या होगी,अब तो वे उच्च न्यायालय को भी गुमराह करने लग गये हैं। हम जानते है अब उनमें विशेष राज्य का दर्जा माँगने की तो छोड़िए बिहार का वाजिब अधिकार व हिस्सा माँगने की भी है सियत नहीं बची है। 


    प्रमोद कुमार यादव 

    Initiate News Agency(INA), गया/बिहार 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.