Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    राजस्थान/जालौर/सांचौर। कोरोना काल में गौधन को बचाने वाले किसान धनाराम

    राजस्थान/जालौर/सांचौर। किसान का दिल कितना बड़ा होता है, इसका पता धनाराम के कार्यों को जानकर लगाया जा सकता है। कोरोना महामारी में जहां सभी लोग अपनी अपनी जान बचाने में लगे हैं, वहीं गांव बिजरोल खेड़ा के धनाराम चौधरी की कहानी सबसे अलग है। वो स्वयं की सुरक्षा तो रखते ही हैं इससे भी ज्यादा उन्हें पशु पक्षियों की परवाह है। 

    धनाराम चौधरी अलसुबह अपने घर से टेंकर भरकर निकल जाते हैं और जहां भी आवारा पशुओं के लिए बने हुए अवाड़ा और हौज खाली मिलते हैं उन्हें भरने में लग जाते हैं। चाहे वो गांव की गोशाला हो या और कोई जगह उनसे पशुओं को प्यासे नहीं देखा जा सकता। इसके लिए जो भी खर्च आता है वो स्वयं ही वहन करते हैं। धनाराम ने बताया कि मैं लगभग एक माह से गांव के जितने भी आवारा पशु हैं उनकी प्यास बुझाने में लगा हुआ हूँ। 

    यदि गांव के और लोग मेरी सहायता करें तो मैं यह कार्य आस पास के गांवों में भी कर सकता हूँ। हम तो कोरोना से स्वयं की सुरक्षा कर लेंगे लेकिन इन पशु-पक्षिओं की जान भी हमें ही बचानी होगी तभी पर्यावरण में संतुलन रहेगा, अन्यथा इस प्रकार की महामारियां आती रहेगी। हमें स्वयं के अलावा अन्य जीवों पर भी ध्यान देना चाहिए। उनके अलावा प्रकाश दर्जी दिनेश कुमार सहित गांव के कई युवा इस हेतु सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं।


    अरविन्द सुथार

    Initiate News Agency(INA), राजस्थान 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.