Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    छत से गिरी बच्ची तड़पती रही, शहर के बेरहम डॉक्टरों ने अस्पताल से भगाया

    छत से गिरी बच्ची तड़पती रही, शहर के बेरहम डॉक्टरों ने अस्पताल से भगाया

    शाहजहाँपुर- उत्तरप्रदेश : कल रात महमंद हद्दफ चौकी निवासी एडवोकेट मोहम्मद शादमान की 06 साल की बेटी छत पर खेलते समय गिर गई जिसका बायां हाथ फ्रैक्चर हो गया बच्चे की चीख-पुकार सुनकर आस पड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए जब बच्ची को लेकर परिवार शहर के नामचीन डॉ0 राकेश दीक्षित व डॉ0 अनवार के हॉस्पिटल पहुँचे तो सबने इलाज के लिए मना कर दिया और भगा दिया ये बात एडवोकेट मोहम्मद शादमान नें सोशल मीडिया पर अपना वीडियो वायरल करके बताई।

    उन्होंने बताया डॉक्टरों को बच्ची पर कोई तरस नहीं आया हम लोग हाथ जोड़ते रहे मगर किसी ने 06 साल की बच्ची पर तरस नहीं खाया। ऐसे में मां-बाप परेशान होकर बच्ची को लेकर जब डॉ0 आकाश कुमार श्रीवास्तव के हॉस्पिटल पहुँचे तो डॉक्टर सकाश कुमार श्रीवास्तव ने अपना फ़र्ज़ निभाते हुए बच्ची के बाएं हाथ की टूटी हड्डी पर  प्लास्टर किया तो बच्ची को आराम मिला और पूरे परिवार नें राहत की सांस ली और डॉ0 आकाश कुमार श्रीवास्तव का आभार व्यक्त किया।

    ऐसे में देखने वाली बात यह है कि इस कोरोना काल की महामारी में ऐसे हादसे हो जाते हैं तो क्या डॉक्टर ऐसे मरीजों को मरने के लिए छोड़ देंगे इनको किसी के दर्द का अहसास नहीं है एक 06 साल की बच्ची रोती तड़पती रही मगर इलाज तो दूर अस्पताल के गेट से ही भगा दिया एक 06 साल की बच्ची पर तरस तक नहीं आया। ऐसे डॉक्टरों पर प्रशासन को कार्रवाई करनी चाहिए। ताकि इस कोरोना जैसी महामारी में किसी मरीज़ को परेशानी न उठाना पड़े।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर, उत्तर प्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.