Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पंचायतों के काम-काज को नौकरशाही के हवाले करने वाले अध्यादेश की जगह पंचायतों के कार्यकाल को 6 माह बढ़ाने वाला अध्यादेश लाओ : भाकपा माले

    पंचायतों के काम-काज को नौकरशाही के हवाले करने वाले अध्यादेश की जगह पंचायतों के कार्यकाल को 6 माह बढ़ाने वाला अध्यादेश लाओ :  भाकपा माले

    • सरकार के अलोकतांत्रिक कदम के खिलाफ माले का जिले भर में विरोध कार्यक्रम-धरना
    • पंचायतों के काम का अधिकार नौकरशाही को सौंपने का विरोध करेगा- माले

    गया- बिहार : भाकपा माले का राज्यव्यापी प्रतिवाद दिवश के तहत आज 30 मई को गया जिले प्रखंडों में पार्टी काम-काज के महत्वपूर्ण केन्द्रों पर मांगों से संबंधित तख्ती के साथ नारे लगाते हुए धरना और अन्य विरोध कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। मुख्य कार्यक्रम गया जिला मुख्यालय स्थित पार्टी जिला कार्यालय रमा भवन,रमना रोड हुआ जंहा जिला कमिटी सदस्य रामचंद्र प्रसाद, आनंद कुमार,नवल किशोर यादव, रामप्रवेश शर्मा समेत अन्य कार्यकर्ता भाग लिया।

    भाकपा माले जिला सचिव निरंजन कुमार,ऐपवा जिला सचिव रीता बर्नवाल ने कहा कि बिहार में पंचायतों के कार्यकाल अगले जून महीने में समाप्त होने वाली है। लेकिन कोरोना महामारी-लॉकडाउन के कारण समय पर चुनाव होना संभव नही है और चुनाव कराने का मतलब राज्य की जनता को मौत के मुंह में धकेल देना होगा। ऐसे में भाजपा-जदयू गठबंधन की नीतीश कुमार सरकार की मंशा साफ नही है। और एक अध्यादेश लाकर पंचायतों के अधिकार को नौकरशाही के हवाले कर देने का है।जो घोर जनविरोधी व अलोकतांत्रिक कदम होगा।जिसका भाकपा-माले पुरजोर प्रतिवाद करेगा।

    जिले के डोभी-शेरघाटी में रामलखन प्रसाद, शीला वर्मा, संजय मंडल, मोहनपुर में पुलेन्द्र कुमार,अजय प्रसाद, मानपुर में सुदामा राम,बढन दास, बीरेंद्र, कमलेश दास,टिकारी रोहन यादव,रवि कुमार,कोंच में सुरेन्द्र यादव, प्रेम कुमार,शिवप्रसाद गुप्ता आदि नेताओं ने धरना का नेतृत्व किया।

    प्रमोद कुमार यादव, गया- बिहार
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.