Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया/बिहार। कोविड-19 संक्रमण के बचाव एवं सुरक्षा संबंधी जिला पदाधिकारी अभिषेक सिंह ने की समीक्षा बैठ

    गया/बिहार। जिला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में कोविड 19 संक्रमण के बचाव एवं सुरक्षा संबंधी विभिन्न कार्यों यथा कोरोना टेस्टिंग, कोरोना टीकाकरण, सामुदायिक रसोई की समीक्षा, होम आइसोलेशन में मरीजो की स्थिति की समीक्षा, डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेन्टर में बेड की उपलब्धता सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर विचार विमर्श किया गया।

    बैठक में डीपीएम स्वास्थ्य द्वारा बताया गया कि ज़िले में अबतक 14,41,267 लोगों का सैंपल लिया गया है, जिसमें 29,124 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। 27,165 लोग रिकवर हो चुके हैं। ज़िले में अबतक 180 लोगों की मृत्यु हुई है। ज़िले में 1,779 एक्टिव केस हैं। 1,565 लोग होम आइसोलेशन में भर्ती हैं।  

    बैठक में डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेन्टर की समीक्षा में बताया गया कि ज़िले में कुल 22 लोग भर्ती हैं, जिसमे अम्बेडकर छात्रावास, मानपुर में 02, गया संग्रहालय में 09, एएनएम शेरघाटी में 03 एवं एएनएम टिकारी में 08 मरीज भर्ती हैं। 

    बैठक में सामुदायिक रसोई की समीक्षा में बताया गया कि ज़िले में 27 स्थानों पर रसोई चलाया जा रहा था। प्रखंडों के आवश्कतानुसार 09 अतिरिक्त स्थानों में सामुदायिक रसोई की व्यवस्था की गई है। अब ज़िले में 36 सामुदायिक रसोई संचालित है, जिसमे आज 4,573 लोगों ने दिन का भोजन एवं 3,492 लोगों ने रात्रि भोजन किया है। आज कुल 8,065 लोगों में भोजन किया। जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि भोजन की गुणवत्ता में कमी नहीं होनी चाहिए। साथ ही भोजन मेनू के अनुसार प्रतिदिन बने, यह सुनिश्चित करेंगे। 

    बैठक में ऑक्सीजन बैंक कोषांग के नोडल पदाधिकारी मो शाहबाज़ खां द्वारा बताया गया कि अबतक कुल 09 लोगों ने ऑक्सीजन सिलिंडर हेतु आवेदन दिया है, जिसमे सभी को ऑक्सीजन सिलिंडर दिया गया है। उन्होंने बताया कि आज से ऑक्सीजन कॉन्सेंटरेटर भी दिया जा रहा है, जिसमे 01 व्यक्ति को दिया है। उन्होंने ऑक्सीजन कॉन्सेंटरेटर के बारे में बताया कि इसे लेने के लिए 5,000 रुपये सिक्योरिटी मनी के रूप में जमा करना है। 10 दिनों के लिए दिया जाएगा। 10 दिन के बाद यदि समय पर वापस नही किया जाता है तो 500 रुपये/दिन दंड लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन बैंक कोषांग में 05 ऑक्सीजन कॉन्सेंटरेटर उपलब्ध है।

    बैठक में ट्रैकिंग एंड मोनिटरिंग सेल की समीक्षा में बताया गया कि कांटेक्ट ट्रेसिंग में लोगों को लगातार ट्रेस किया जा रहा है एवं उनका कोविड जांच भी किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि कोविड जांच में पॉजिटिव आने वाले लोगों को मेडिकल किट ससमय देना सुनिश्चित करेंगे। 

    जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि यदि कोई व्यक्ति कोविड टेस्ट टीम को कोविड जांच करवाने से मना करती है, तो उनके विरुद आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत कार्रवाई करना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही उन्होंने सभी डीडीओ को निदेश दिया कि फ्रंट लाइन वर्कर में जो लोग अभी तक प्रथम खुराम नही लिए हो, या जो दूसरा खुराक नही लिए हैं, तो उनका वेतन बन्द रखना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को टीकाकरण हेतु गया जिला को टीका प्राप्त हो चुका है, कल से टीका टीकाकरण सत्र स्थल पर शुरू किया जाएगा।

    बैठक में टीकाकरण के पंजीकरण हेतु कोविन पोर्टल पर लॉगिन करके स्वयं पंजीकरण कर सकते हैं। यदि पंजीकरण हेतु किसी प्रकार की समस्या होने पर संबंधित प्रखंड के आरटीपीएस काउंटर पर सम्पर्क कर पंजीकरण करा सकते हैं। आरटीपीएस काउंटर पर अपना आधार कार्ड एवं पंजीकृत मोबाइल नंबर ले जाना अनिवार्य है।

    जिलाधिकारी ने कहा कि यदि कोई संस्था कोरोना काल मे समाजहित/जनहित में जिलेवासियों के स्वास्थ्य सुविधा हेतु स्वास्थ्य उपकरण दान स्वरूप देना चाहते हैं, तो 9958554719 अथवा जिला नियंत्रण कक्ष के दूरभाष संख्या-0631-2222253/2222259 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

    बैठक में अपर पुलिस अधीक्षक, उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्त्ता, जिला भूअर्जन पदाधिकारी, सिविल सर्जन, प्राचार्य, मगध मेडिकल, निदेशक, डीआरडीए, जिला नजारत उप समाहर्त्ता, जिला पंचायत राज पदाधिकारी, डीपीएम स्वास्थ्य, विशेष कार्य पदाधिकारी, वरीय उप समाहर्त्तागण सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।


    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency(INA), गया/बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.