Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। डॉक्टर पर मुकदमा

    कानपुर। कानपुर में रैपिड रिस्पांस टीम (आरआरटी) के निर्धारित लक्ष्य को पूरा न करने पर आरआरटी प्रभारी को जिलाधिकारी के स्कॉर्ट ने देर रात समीक्षा बैठक के बाद सिटी मजिस्ट्रेट की रिपोर्ट पर हिरासत में ले लिया। स्कॉर्ट ने आरआरटी प्रभारी पर मुकदमा दर्ज कराए जाने के लिए उन्हें स्वरूप नगर थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया। इस मामले की जानकारी पर जिले भर के डॉक्टरों थाने पहुच गए। 

    आपको बता दे बीते 23 अप्रैल को पतारा सीएचसी अधीक्षक डॉ. नीरज सचान को रैपिड रिस्पांस टीम (आरआरटी) का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया था। इसमें जिले में 40 टीमें घर-घर जाकर कोविड जांच के लिए सैम्पलिंग करते हैं। सोमवार की रात जिला प्रशासन द्वारा जनपद में कोविड महामारी को लेकर समीक्षा बैठक की गई। बैठक में सिटी मजिस्ट्रेट ने आरआरटी की जांच में लापरवाही बरतने व लक्ष्य से कम सैम्पल लिए जाने पर कार्यवाही की संस्तुति करने की रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप दी। इस रिपोर्ट पर जिलाधिकारी ने बैठक के बाद डॉ. नीरज सचान को अपने स्कॉर्ट से हिरासत में लेकर स्वरूप नगर थाने भेजते हुए मुकदमा दर्ज किए जाने के आदेश दे दिए। 

     डॉ अनु सचान ( पत्नी)

    इस मामले की जानकारी मिलते ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी  के थाने पहुच गए। सभी ने जिला प्रशासन पर इस कार्यवाही को तानाशाही बताया और गहरा रोष व्यक्त किया। इस बीच डॉ. सचान की पत्नी डॉ अनु सचान भी थाने में आ पहुची और पुलिस पर राजपत्रित अधिकारी को थाने में इस तरह से न बैठाए जाने की लिखित आपत्ति की। उन्होंने कहा कि तीन दिन पूर्व ही पति को आरआरटी का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया। जबकि जिले में वर्तमान में पिछली वर्ष की अपेक्षा पांच गुना केस सामने आ रहे हैं लेकिन सैम्पलिंग में वही 40 टीमें ही अभी भी काम कर रही हैं। 

    डॉ नीरज सचान


    डॉ नीरज सचान ने बताया है कि बैठक चल रही थी तभी मेरे काम गणपति डीएम साहब ने नाराजगी व्यक्त की जिसको लेकर मैंने उनसे सॉरी भी बोला उसके बाद भी उन्होंने अपने सपोर्ट के साथ मुझे थाने भिजवा दिया। जबकि 3 दिन पूर्व ही मुझे रैपिड रिस्पांस टीम का अतिरिक्त चार्ज दिया गया।एडीसीपी, सीएमओ व डॉक्टरों के बीच हुई बातचीत के बाद लगभग 9 घंटे बाद निजी मुचलके पर थाने से रिहा किया गया। सीएमओ व पुलिस के आला अधिकारी कुछ भी बोलने से मना कर दिया।


    इब्ने हसन ज़ैदी 

    Initiate News Agency (INA), कानपुर 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.