Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    वरिष्ठ आईएएस अधिकारी एवं एसीएस सुधीर राजपाल ने अनाज मंडी में आढ़तियों की समस्याओं को सुना

    वरिष्ठ आईएएस अधिकारी एवं एसीएस सुधीर राजपाल ने अनाज मंडी में आढ़तियों की समस्याओं को सुना

    गेहूं के प्रमुख खरीद एजेंसी हैफेड पर एक हफ्ते का बैन लगा दिया

    पलवल : प्रदेश सरकार के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी एवं एसीएस सुधीर राजपाल ने पलवल अनाज मंडी में आढ़तियों की गेहूं खरीद संबंधी समस्याओं को सुनने के बाद गेहूं के प्रमुख खरीद एजेंसी हैफेड पर एक हफ्ते का बैन लगा दिया। वह यहां पर पलवल अनाज मंडी का दौरा करने आए थे लेकिन पलवल अनाज मंडी एसोसिएशन द्वारा उन्हें घेर लिए जाने के बाद वह आढतियों की गेंहू उठान में हो रही देरी के सम्बन्ध में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुए वापस चले गए। अतिरिक्त मुख्य सचिव नागरिक उड्डयन विभाग, हरियाणा सुधीर राजपाल ने पलवल अनाज मंडी में आढतियों ने  गेहूं की लिफ्टिंग की समस्या को प्रमुखता से उठाया था और कहा कि हैफेड द्वारा खरीदे हुए गेहूं की लिफ्टिंग अभी तक ना के समान हुई है,  जबकि दूसरी पैनल एजेंसी फूड सप्लाई तथा वेयरहाउसेस की लिफ्टिंग का काम अच्छे ढंग से चल रहा है । इस पर एसीएस सुधीर राजपाल ने मौके पर मौजूद डीएफएससी तथा हैफेड के अधिकारियों से स्पष्टीकरण लेते हुए माना कि पलवल अनाज मंडी में हैफेड के खराब सिस्टम के चलते आढ़तियों के खरीदे गए गेंहू के उठान की समस्या बन रही है। जिससे  गेंहू खरीद के लिए बनाई गई नई कार्यप्रणाली कारगर न होकर सरकार की बदनामी का कारण बन रही है| 

    आढ़तियों ने जिला प्रधान गौरव तेवतिया की अगुवाई में गेट पास और रैडी टू लिफ्टिंग  पासिंग का काम मैनुअल कराए जाने की मांग की। जिस पर ए सी एस सुधीर राजपाल ने कहा कि वह प्रदेश सरकार द्वारा बनाए गए सिस्टम को तो बदल नहीं सकते लेकिन अपनी सिफारिश जरूर सरकार तक पहुंचा सकते हैं। साथ ही उन्होंने अगले हफ्ते के 2 दिन हैफेड की होने वाली खरीद पर बैंन लगा दिया और उन्हें अपने सिस्टम और कार्यशैली में सुधार करने के आदेश दिए । साथ ही वरिष्ठ आई ए एस अधिकारी एवं  ए सी एस सुधीर राजपाल द्वारा अगले हफ्ते में होने वाली हैफेड के हिस्से की खरीद वेयर हाउस द्वारा किए जाने के निर्देश दिए ।

    पलवल अनाज मंडी में ए सी एस सुधीर राजपाल करीब 15 मिनट तक रहे लेकिन उन्होंने ना तो अनाज मंडी का दौरा किया और ना ही वहां पर किसी किसान से बातचीत की। वह केवल पलवल अनाज मंडी एसोसिएशन तथा गेहूं की सरकारी खरीद से जुड़ी एजेंसियों के अधिकारियों से बातचीत कर पलवल में अनाज मंडी से खड़े- खड़े ही  वापस चले गए। इसकी वहां पर मौजूद लोगों तथा किसानों में तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली लेकिन बड़े अधिकारी हैं हमारा कहीं नुकसान ना कर दें इसलिए कोई भी किसान बोलने के लिए तैयार नहीं हुआ।

    वही पलवल अनाज मंडी में जिला उपायुक्त के स्थान पर एसीएस सुधीर राजपाल के साथ बातचीत में मौजूद रहे एसडीएम कंवरसिंह से एसीएस सुधीर राजपाल  द्वारा किसानों से ना मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सर के मूड के बारे में क्या कह सकता हूं लेकिन उन्होंने कहा कि यदि उन्हें पलवल अनाज मंडी में किसी तरह की अनियमितता होती मिलती है या फिर उसकी कोई शिकायत मिलती है तो उस पर तुरंत कड़ा एक्शन लेंगे। गौरतलब है कि पलवल अनाज मंडी सहित दूसरी अनाज मंडियों में आढती किसानों से अतिरिक्त रूप से खर्चे ₹20 से लेकर ₹30 प्रति क्विंटल वसूल कर रहे हैं। एसीएस सुधीर राजपाल से बाईट लेने का प्रयास किया गया था ,लेकिन वह यह  कहते हुए अपनी गाड़ी में बैठ गए कि जो पूछना है एसडीएम साहब से  पूछ लो।

    ऋषि भारद्वाज
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, पलवल

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.