Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नगर निगम ने प्रयागराज वासियों को दी राहत नहीं होगी गृह कर में वृद्धि

    प्रयागराज-उत्तर प्रदेश : संगम नगरी प्रयागराज में वर्तमान में कोरोना महामारी का प्रकोप शहर में पुन प्रति दिन बढ़ रहा है।जिसको देखते हुए प्रयागराज नगर निगम ने आम आदमी को राहत देने का काम किया है दरअसल हुए प्रयागराज के नगर निगम प्रयागराज में गृहकर बढ़ाने के लिए 75% प्रस्ताव रखा गया था लेकिन अब इस पर रोक लगा दी गई है। जो आम आदमी के हित में है इस बात की जानकारी प्रयागराज की मेयर अभिलाषा गुप्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पत्रकारों को दी है।साथ ही कहा जहां 75 फ़ीसदी गृह कर बढ़ाने की बात कही जा रही थी वही कार्यकारिणी की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि किसी भी दशा में 35 प्रतिशत से अधिक मासिक किराया दरों में वृद्धि न की जाए। 

    जबकि वर्तमान में शासन द्वारा जी 0 आई 0 एस 0 सर्वे हेतु निर्धारित ऐजेन्सी द्वारा प्रयागराज नगर निगम सीमान्तर्गत स्थित भवनों के सर्वे का कार्य आज तक पूर्ण नहीं किया जा सका है । इसके अतिरिक्त नगर निगम प्रयागराज द्वारा कामर्शियल भवनों पर करारोपड़ का कार्य आज भी पूर्ण रूप से निस्तारित नहीं किया जा सका है । सर्वे का कार्य विस्तारित क्षेत्र सहित पूर्ण किया जाय सभी भवनों को गृहकर की परिधि में लाते हुये गृहकर की वसूली की जाय । यहाँ भी उल्लेखनीय है कि निगमों जैसे लखनऊ , कानपुर , वाराणसी , आगरा , गाजियाबाद , बरेली तथा मुरादाबाद में भी गृहकर की मासिक किराया दरों के वृद्धि के प्रस्ताव लाये गये थे जिन्हे कोरोना महामारी के दृष्टिगत स्वीकार नहीं किया गया ।साल 2020-21 में भी कोरोना महामारी के कारण गृहकर की मासिक किराया दरों की वृद्वि को नगर की जनता की आर्थिक स्थिति को देखते हुये स्थगित कर दिया गया था । वर्तमान में भी कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुये जनहित में मासिक किराया दरों की वृद्वि स्थगित की जाती है। 

    इखलाक हैदर
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, प्रयागराज-उत्तर प्रदेश 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.