Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। रमजान सब्र, रहमतों और बरकतों वाला महीनाः अशरफ

    देवबंद। मुकद्दस रमजान माह की दसवीं शब में तरावीह में कुरआन पाक मुकम्मल होने का सिलसिला शुरु हो गया। बृहस्पतिवार को मोहल्ला खानकाह में तरावीह पूर्ण होने के अवसर पर लोगों ने रो-रोकर अल्लाह से पूरी इंसानियत की हिफाजत के लिए दुआएं मांगी।

     मौहल्ला खानकाह में तरावीह मुकम्मल होने पर दुआ कराते मौलान सालिम कासमी

    मोहल्ला खानकाह में नजर मंजिल में चल रही तरावीह में बृहस्पतिवार को कुरआन पाक मुकम्मल कराया गया। इस अवसर पर मदरसा अशराफुल उलूम के मोहतमिम मौलाना सालिम अशरफ कासमी ने कहा कि कुरआन पाक जैसी दूसरी कोई आसमानी किताब न है और न ही कभी होगी। कुरआन में जिस चीज को हजारों साल पहले बता दिया गया वो आज सच साबित होकर पूरी दुनिया के सामने आ रही है। उन्होंने कहा कि इस्लाम धर्म सबको अमन का पैगाम देने का संदेश देता है ओर सही रास्ते पर चलना सिखाता है। इसलिए सभी लोगों को चाहिए कि वह अपने बच्चों को कुरआन हाफिज जरुर बनाएं। अंत में उन्होंने मुल्क में अमनो अमान, गुनाह से तौबा और आसपी भाईचारे को मजबूत बनाने की दुआ कराई। इसमें नदीम उस्मानी, नजम उस्मानी, मो. ईसा, कोकब, नबील उस्मानी, डा. जमील, शाहनवाज उस्मानी, मो. जकी, डा. अनीस, दिलशाद उस्मानी, मो. मुजम्मिल, अब्दुल्लाह उस्मानी, कमर उस्मानी आदि मौजूद रहे।


    शिब्ली इक़बाल 

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, देवबंद 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.