Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    महापुरुषों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी पर कानून बनाने की मांग

    महापुरुषों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी पर कानून बनाने की मांग

    सम्भल-उत्तर प्रदेश : उलेमाओ ने यती नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करते हुए गिरफ्तारी की मांग करते हुए विज्ञापन तहसीलदार को महामहिम राष्ट्रपति के नाम सौंपा। शुक्रवार को मौलाना मोहम्मद मियां के नेतृत्व में मुस्लिम समाज के लोगों ने एक ज्ञापन तहसीलदार को महामहिम राष्ट्रपति के नाम सौंपा। जिसमें कहा गया कि यती नरसिंहानंद सरस्वती कस्बा डासना थाना मसूरी जिला गाजियाबाद की एक वीडियो यूट्यूब पर एक अप्रैल से वायरल हो रही है।

    जिसमें उसने अल्लाह के रसूल मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैहिस्सलाम की शान में गुस्ताखी की है। आगे कहा कि महामहिम भारत एक लोकतांत्रिक देश है। जिसका संविधान समस्त धर्मों एवं धर्मगुरुओं के सम्मान का वचन देता है। पिछले कुछ समय से देखा जा रहा है, कि देश की अमन शांति को नुकसान पहुंचाने के लिए कुछ लोग धार्मिक भावनाओं को भड़काते हैं। जिससे लोगों की धार्मिक भावनाएं उत्तेजित हो और वह कोई असामाजिक कार्य करें। अंत में मांग की गई, कि नरसिंह आनंद सरस्वती को जल्द से जल्द गिरफ्तार करके कड़ी कार्यवाही की जाए तथा एक ऐसा कानून बनाया जाए जिसमें किसी भी धर्म के महापुरुष के खिलाफ तीखी टिप्पणी बोले जाने पर सजा का प्रावधान हो।

    उवैश दानिश
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, सम्भल-उत्तर प्रदेश 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.