Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जिला पदाधिकारी अभिषेक सिंह ने वजीरगंज प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का निरीक्षण किया

    जिला पदाधिकारी अभिषेक सिंह ने वजीरगंज प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का निरीक्षण किया

    गया : जिला पदाधिकारी, अभिषेक सिंह द्वारा वजीरगंज प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का निरीक्षण किया गया। जिला पदाधिकारी ने प्रखंड के निरीक्षण के क्रम में कैश बुक, शिकायत पंजी, महत्वपूर्ण पत्रों से संबंधित गार्ड फाइल, प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा, जल जीवन हरियाली अभियान, पंचायत सरकार भवन का निर्माण इत्यादि कार्यों का प्रखंड कार्यालय में निरीक्षण तथा समीक्षा किया। निरीक्षण के क्रम में उप विकास आयुक्त ने बताया कि प्रखंड के पास बहुत अनुपयोगी बैंक खाते है। जिलाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को सभी बैंक खाते 07 दिनों के अंदर बन्द करने का निदेश दिया। जिला पदाधिकारी द्वारा वजीरगंज प्रखंड अंतर्गत भ्रमण करते हुए नवनिर्मित डाटा सेन्टर का उद्घाटन फीता काटकर किया। जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी, वजीरगंज को अंचल संबंधी कार्य यही डाटा सेन्टर में करने को कहा। इसके उपरांत जिलाधिकारी द्वारा 21 लोगों को भूमि बंदोबस्ती परवाना का पर्चा वितरित किया गया। इनमें मुनेश्वर चौधरी, रामचन्द्र साव, कमरूनी खातून, कारू मांझी, सलाहउद्दीन मियां इत्यादि को जिला पदाधिकारी एवं अपर समाहर्ता ने पर्चा दिया। 

    जिला पदाधिकारी द्वारा वजीरगंज प्रखंड के बिच्छा पंचायत में निर्मित पानी टंकी का जायजा लिया गया। वहां उपस्थित ऑपरेटर से मोटर की स्थिति की जानकारी प्राप्त की। निरीक्षण के क्रम में मोटर के साथ स्टेबलाइजर नहीं लगा हुआ था, जिसपर जिलाधिकारी ने ऑपरेटर को स्पष्ट निदेश दिया कि एक सप्ताह के अंदर स्टेबलाइजर लगाना सुनिश्चित करेंगे। इसके उपरांत बिच्छा पंचायत में चल रहे आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया। सेविका द्वारा बताया गया की आंगनबाड़ी में 38 बच्चो का नामांकन है। इसके उपरांत उन्होंने ग्रामीणों से जलापूर्ति एवं अन्य योजनाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त किया। क्षेत्र निरीक्षण के बाद जिलाधिकारी द्वारा पंचायत जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर वजीरगंज प्रखंड के विभिन्न पंचायतों, वार्डों, गांव की समस्याओं के संबंध में जानकारी प्राप्त किया। पंचायत जनप्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी ने कहा कि कुछ ही दिनों में पंचायत निर्वाचन का घोषणा होगा। अतः आप सभी पंचायत जनप्रतिनिधि पूरे मन लगाकर विकास योजना का कार्य करें। उन्होंने सुझाव दिया कि अपने क्षेत्र के अन्य समस्याओं के निदान के लिए लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम का उपयोग कर सकतें हैं। इसके लिए आप शिकायतों के निष्पादन हेतु अपने अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के पास आवेदन दे सकते हैं।

    जिला पदाधिकारी ने पंचायत जनप्रतिनिधियों को कहा कि पंचायत सरकार भवन जहां भी पूर्ण है, उसे काम करना प्रारंभ करें। उन्होंने सम्बंधित प्रमुख, सरपंच, मुखिया एवं अन्य पंचायत जनजनप्रतिनिधि को कहा कि अपना कार्यालय पंचायत सरकार भवन में रखना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होने कहा कि यदि कोई पंचायत सरकार भवन मरम्मती के लिए है तो वह कार्य स्वयं आप अपने फण्ड से कर सकते हैं। ज़िलाधिकारी ने बताया कि जल जीवन हरियाली अभियान के कारण हमलोग पिछले वर्ष गर्मी में पानी की समस्या से काफी हद तक बचे थे। इसीलिए इस वर्ष भी काफी गर्मी की संभावना को देखते हुए उन्होंने सभी जन प्रतिनिधियों को कहा कि यथासंभव सभी जगहों पर पौधरोपण करें एवं उसकी सुरक्षा भी करें। साथ ही जल संचयन का कार्य भी करे। उन्होंने बताया कि पंचायत में काफी फंड है, जिससे आंगनबाड़ी केंद्र, पंचायत सरकार भवन, सामुदायिक भवन की मरम्मती कार्य एवं आहर, पईन, पोखर, कुओं का जीर्णोद्धार भी कर सकते हैं। उन्होंने सभी पंचायत जनप्रतिनिधियों को निर्देश दिया कि जहां भी पानी टंकी बना हुआ है, उसका इस्तेमाल केवल ग्रामीणों को पानी पहुँचाना है। यदि पानी का इस्तेमाल दूसरे कार्य यथा खेत पटवन, जानवर को नहलाने इत्यादि में करने की शिकायत मिलेगी तो सम्बंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। ज़िला पदाधिकारी ने बताया कि अब पंचायत में किये गए कार्य के विपत्र का भुगतान पीएफएमएस के माध्यम से किया जाएगा, इसके लिए सभी  मुखिया का डिजिटल हस्ताक्षर बन चुका है। बैठक में प्रखंड प्रमुख, उप विकास आयुक्त सुमन कुमार, अपर समाहर्ता मनोज कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी सहित मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति के सदस्य, वार्ड सदस्य एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

    प्रमोद कुमार यादव
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, गया, बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.