Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कन्नौज। अंतिम संस्कार के लिए लगानी पड़ रही है लाइन यह हालात है कन्नौज के मेहंदी घाट के

    कन्नौज। कोरोना महामारी ने पिछले एक हफ्ते में श्मशान घाट पर भी भीड़ बढ़ा दी है। कन्नौज के महँदीघाट पर तो हाल यह है की शवों के अंतिम संस्कार के लिये लाइन लगी है। नम्बर न आने से परेशान कई लोग दूसरे स्थानों पर अंतिम संस्कार करा रहे हैं। श्मशानों में बढ़ी भीड़ से यहां के कर्मी भी हैरान हैं। उनका कहना है कि पूरी नौकरी में कभी इतने ज्यादा शव यहां नही जलाये गये। 

    कन्नौज के मेहंदीघाट पर रोजाना आमदिनों में 20 से 25 शव अंतिम संस्कार के लिये आते थे, लेकिन 18 अप्रैल से अचानक यहां शवों की संख्या दोगुनी हो गयी। शवदाह क्लर्क की माने तो ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी संख्या में लगातार रोजाना शव आ रहे हैं। यहां हाल यह है की एक शव का अंतिम संस्कार हो रहा है तो 10 शवों का नम्बर लगा है। 

    नम्बर लगने से परेशान कई लोग आसपास के छोटे घाटों पर मरने वाले का अंतिम संस्कार करा रहे हैं। महँदीघाट शवदाह गृह के कर्मचारी भी अचानक मरने वालों की बढ़ी संख्या से हैरान हैं। उनकी माने तो अकेले महँदीघाट पर 6 दिन में करीब साढ़े तीन सौ लोगों के शव आ चुके हैं। 

    राज नारायण पांडेय( क्लर्क महँदीघाट कन्नौज)

    यह शव कोरोना से मरने वालों के हैं याए कोरोना की दहशत से इसका जवाब किसी के पास नही है। लेकिन जितने भी लोग मरे हैं, उनमें ज्यादातर 45 साल से ऊपर उम्र के हैं। सबसे बड़ी लापरवाही यहां यह सामने आ रही है कि घाट पर कोविड नियमों का कोई पालन नही हो रहा है। 

    नवाब सिंह यादव सपा नेता कन्नौज



    रईस खान 

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, कन्नौज 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.