Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीतापुर जनपद में धारा 144 लागू, कड़ाई से पालन कराने के डीएम ने दिए निर्देश

    सीतापुर उत्तर प्रदेश : अपर जिला मजिस्ट्रेट विनय कुमार पाठक ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2021 के दृष्टिगत राज्य निर्वाचन आयोग, उ0प्र0 द्वारा लागू की गई आदर्श आचार संहिता एवं माध्यमिक शिक्षा परिषद, उ0प्र0, प्रयागराज द्वारा प्रस्तावित हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट परीक्षा तथा इस वर्ष 13 अप्रैल, 2021 को चेटीचन्द, 14 अप्रैल, 2021 को डा० भीमराव अम्बेडकर जी का जन्म दिवस, 21 अप्रैल, 2021 को रामनवमी, 25 अप्रैल 2021 को महाबीर जयन्ती, 07 मई, 2021 को जमात-उल-विदा (अलविदा), 14 मई, 2021 को परशुराम जयन्ती, 14/15 मई, 2021 को ईद-उल-फितर, 26 मई 2021 को बुद्ध पूर्णिमा आदि पर्व/त्यौहार तथा समय-समय पर विभिन्न आयोगों/भर्ती बोर्डों आदि द्वारा आयोजित होने वाली प्रतियोगी आदि परीक्षाओं तथा गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा कोविड-19 के संबंध में निर्गत आदेश दिनांक 23 मार्च, 2021 एवं शासनादेश दिनांक 26 मार्च, 2021 तथा शासनादेश दिनांक 23 मार्च, 2021 तथा कोविड-19 के बढ़ते हुये संक्रमण के दृष्टिगत सर्विलांस गतिविधियों के सम्बन्ध में निर्गत शासनादेश दिनांक 03 अप्रैल 2021 में दिये गये अद्यतन निर्देशों के अनुपालन के दृष्टिगत दण्ड प्रक्रिया संहिता-1973 की धारा-144, महामारी अधिनियम-1897 (अधिनियम संख्या-3 सन् 1897) की धारा-2 के अधीन प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जनहित में दिनांक 06.04.2021 से 26.05.2021 तक जनपद सीतापुर की सीमाओं में प्रतिबंधात्मक आदेश पारित किये हैं। 


    1- जनपद सीमा के अन्दर समस्त शासकीय/अर्द्धशासकीय/सार्वजनिक/व्यवसायिक कार्यस्थलों एवं आवागमन पर फेस कवर/मास्क का उपयोग किया जाना अनिवार्य होगा। 

    2- जनपद सीमा के अन्दर समस्त शासकीय अर्द्धशासकीय/सार्वजनिक/व्यवसायिक कार्य स्थलों पर सोशल डिस्टेसिंग 6 फिट की दूरी (02 गज की दूरी) का अनुपालन किया जाना अनिवार्य होगा। 

    3- सार्वजनिक स्थलों पर थूकना दण्डनीय अपराध होगा। उल्लघंन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध नियमानुसार अर्थदण्ड आदि की कठोर कार्यवाही की जायेगी। 

    4- सार्वजनिक स्थलों पर शराब, पान, गुटका, तम्बाक का सेवन प्रतिबन्धित होगा। 

    5- 05 से अधिक व्यक्त्तियों को सार्वजनिक स्थल पर एक साथ इकट्ठे होने की पूर्णतः मनाही रहेगी। 

    6- किसी भी प्रकार के जुलूस/सभा/रैली एवं सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन सक्षम स्तर से अनुमति प्राप्त करने के पश्चात ही आयोजित किये जायेगें। 

    7- अनुमति प्राप्त करने के पश्चात जुलूस/सभा/रैली व सार्वजनिक कार्यक्रम के आयोजक के लिए यह अनिवार्य होगा कि सामाजिक दूरी, सभी के लिए हाथ धुलने, मास्क लगाने तथा सेनेटाईजर की व्यवस्था करेंगे। 

    8- अत्याधिक कोविड संक्रमण से ग्रसित प्रदेशो से जनपद मे आने वाले व्यक्तियों की कोविड जॉच अनिवार्य रूप से करायी जाये। 

    9- 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति, सह-रूगणता अर्थात एक से अधिक अन्य बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति, गर्भवती स्त्रियाँ और 10 वर्ष की आयु से नीचे के बच्चे, घरों के अन्दर ही रहेंगे, सिवाय ऐसी परिस्थितियों के जिनमें स्वास्थ्य सम्बन्धी आवश्यकताओं हेतु बाहर निकलना जरूरी हो। 

    10- सम्पूर्ण जनपद के दुकानदार किसी भी बिना मास्क लगाये ग्राहक को विक्रय नहीं करेंगे तथा किसी भी दुकान पर 05 से अधिक व्यक्ति एक समय में नहीं होंगे। इसी प्रकार विक्रेता व उसके सहयोगी भी कवर/मास्क, ग्लब्स का इस्तेमाल करेंगे तथा सेनेटाइजर अनिवार्य रूप से रखेंगे। दुकानदारों द्वारा ग्राहकों के मध्य सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जायेगा। 

    11- समय-समय पर शासन एवं जिला स्तर द्वारा जारी निर्देशों तथा गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा कोविड-19 के संबंध में निर्गत आदेश दिनांक 23 मार्च, 2021 एवं शासनादेश दिनांक 26 मार्च, 2021 तथा शासनादेश दिनांक 23 मार्च, 2021 तथा कोविड-19 के बढ़ते हये संक्रमण के दृष्टिगत सर्विलेंस गतिविधियो के सम्बन्ध में निर्गत में दिये गये अद्यतन निर्देशों द्वारा कोविड-19 महामारी के रोकथाम के सम्बन्ध में निर्गत दिशा निर्देशों का समस्त नागरिकों को पालन करना अनिवार्य होगा। 

    12- उचित दर विक्रेताओं द्वारा राशन वितरण के समय कोविड-19 के प्रोटोकाल फेस मास्क एवं सोशल डिस्टेसिंग, सेनेटाईजेशन आदि का पूर्णतयः पालन सुनिश्चित कराया जायेगा। 

    त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन, 2021 के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग, उ0प्र0 द्वारा लागू की गई आदर्श आचार संहिता निर्वाचन की अधिसूचना जारी होने से और निर्वाचन प्रक्रिया समाप्त होने तक समस्त पंचायत क्षेत्रों, उम्मीदवारों, राजनीतिक दलों, मतदाताओं, शासकीय/अर्द्धशासकीय विभागों और चुनाव प्रक्रिया से सम्बद्व समस्त व्यक्तियों पर लागू होगी। 

    13- निर्वाचन के दौरान उम्मीदवारों/उनके प्रतिनिधियों द्वारा निम्नलिखित निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित किया जायेगा।

    (क) ऐसा कोई कार्य लिखकर, बोलकर अथवा किसी प्रतीक के माध्यम से नहीं करेंगे, जिससे किसी धर्म (मजहब), सम्प्रदाय, जाति या सामाजिक वर्ग एवं उम्मीदवार/राजनीतिक दल/राजनीतिक कार्यकर्ताओ की भावना आहत हो या उससे विभिन्न वर्गों/दलों/व्यक्तियों के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न हो। 

    (ख) किसी भी उम्मीदवार की आलोचना उनकी नीतियों, कार्यक्रमों, पूर्व के इतिहास व कार्य के संबंध में ही की जा सकती है। किसी उम्मीदवार के व्यक्तिगत जीवन से सम्बन्धित पहलुओं पर आलोचना नहीं की जाएगी। 

    (ग) मत प्राप्त करने के लिए जातीय, साम्प्रदायिक और धार्मिक भावना का परोक्ष या अपरोक्ष रूप से सहारा नहीं लिया जाएगा। 

    (घ) पूजा स्थलों जैसे मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर व गुरूद्वारा आदि का उपयोग निर्वाचन में प्रचार हेतु तथा निर्वाचन सम्बन्धी अन्य कार्यों हेतु नहीं किया जाएगा। 

    (ड) सभी उम्मीदवार ऐसे कार्यों से अलग रहेंगे जो निर्वाचन विधि के अन्तर्गत भ्रष्ट आचरण/अपराध माने गये हैं, जैसे-

    1. किसी चुनावी सभा में गड़बड़ी करना या करवाना।

    2. मतदाता को रिश्वत देकर या डरा धमकाकर या आतंकित करके अपने पक्ष में मत देने के प्रभावित करना।

    3. मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए चुनाव की प्रक्रिया के दौरान किसी भी प्रकार के मादक द्रव्य बॉटना। 

    14- चुनाव प्रचार हेतु किसी भी व्यक्ति की भूमि/भवन/अहाते/दीवार का उपयोग झंडा लगाने/झंडियां टांगने/बैनर लगाने जैसे कार्य उस व्यक्ति की अनुमति के बिना नही करेगें न ही अपने चुनाव कार्यकर्ताओं/एजेण्ट को ऐसा करने देगें। 

    15- किसी भी शासकीय/सार्वजनिक स्थल/भवन/परिसर में पर विज्ञापन, वॉल राइटिंग नही करेगें। कटआउट/होर्डिंग/बैनर आदि नही लगायेगें और न ही किसी प्रकार से गन्दा करेगें। 

    16- चुनाव प्रचार हेतु वाहनों एवं लाउडस्पीकर एवं साउण्ड बाक्स का प्रयोग सक्षम स्तर से पूर्वानुमति लेकर ही करेगें। ध्वनि विस्तारक यन्त्रों का प्रयोग रात्रि 10.00 बजे से प्रातः 06.00 बजे तक प्रतिबन्धित रहेगा। स्थाई तौर पर लाउडस्पीकर एवं साउण्ड बाक्स नही स्थापित किये जायेगें। 

    17- राज्य निर्वाचन आयोग, उ0प्र0 द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2021 के संबंध में लागू की गयी आदर्श आचार संहिता मे वर्णित समस्त निर्देशों का अनुपालन निर्वाचन प्रक्रिया से आच्छादित समस्त संबंधित पर प्रभावी होगें। आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। 

    18- शासन के निर्देशानुसार कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए परीक्षा केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क का अनिवार्यतः पालन सुनिश्चित किया जाये। 

    19- कोई भी व्यक्ति शासकीय डियूटी पर रहे अधिकारी/कर्मचारियों को डराने, धमकाने अथवा किसी प्रकार की क्षति पहुंचाने वाला कार्य नहीं करेगा। 

    20- कोई भी व्यक्ति परीक्षा केन्द्रों पर कोई भी पठन-पाठन सामग्री, सैल्युलर फोन, कैलकुलेटर, माचिस, ब्लूटूथ अन्य संचार संबंधी उपकरण एवं आई0टी0 गजेट्स आदि नहीं ले जायेगा। 

    21- कोई भी मुद्रक एवं प्रकाशक/स्टेशनरी विक्रेता परीक्षार्थियों को गुमराह करने वाली सामग्री का मुद्रण, प्रकाशन, विक्रय अथवा वितरण नहीं करेगा। 

    22- परीक्षा केन्द्रों के 500 मीटर की परिधि में फोटोस्टेट मशीन की दुकान, साइबर कैफे तथा पी0सी0ओ0 एवं पान मसाला गुटखा आदि ऐसी दुकानों को बन्द रखा जायेगा तथा किसी भी परिस्थिति में निर्धारित परिधि में व्यक्तियों को समूह को न तो एकत्रित करेगा और न ही एकत्रित होने के लिए प्रेरित करेगा। उक्त परिधि में किसी भी व्यक्ति द्वारा ध्वनि विस्तारक यंत्रों का प्रयोग नहीं किया जायेगा। 

    23- कोई भी व्यक्ति किसी सार्वजनिक स्थल पर जनपद सीमा क्षेत्रान्तर्गत किसी भी प्रकार के आग्नेयास्त्र, लाईसेंसी शस्त्र धारक अपने शस्त्रों यथा रिवाल्वर, पिस्टल, बन्दूक, रायफल, एवं फरसा, बॉका, बल्लम, तलवार, चाकू आदि लेकर नहीं चलेगा और न ही लाठी-डंडा धारण करेगा। 

    अपवाद- यह प्रतिबन्ध डियूटी पर तैनात अधिकारियों/कर्मचारियों अथवा ऐसे व्यक्तियों जो कि लाठी अथवा डंडे का सहारा लेकर चलते हैं अथवा ऐसे सिख सम्प्रदाय के व्यक्ति, जिन्हें धार्मिक अनिवार्यता के कारण निर्धारित रास्त्र रखना आवश्यक है पर लागू नहीं होगा। 

    24- बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के कोई भी व्यक्ति ध्वनि विस्तारक यंत्रों एवं डी0जे0 आदि का प्रयोग नहीं करेगा। 

    25- कोई भी व्यक्ति ऐसे हस्तलिखित अथवा मुद्रित पर्चे, पम्पलेट्स आदि वितरित नहीं करेंगा, न ही करायेगा, न ही मुद्रित करेगा और न करायेगा तथा न ही उत्तेजनात्मक भाषण देगा जिससे किसी जन साधारण अथवा किसी वर्ग विशेष की भावनाओं को ठेस पहुंचे, विद्वेष पैदा हो अथवा शॉति भंग की संभावना में वृद्धि हो। सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सऐप ग्रुप, फेसबुक, ट्वीटर आदि पर उक्त प्रकार की कोई सामग्री न पोस्ट करेगा न ही फारवर्ड करेगा। 

    26- आमजन को सूचना एवं सुविधा हेतु जिले के नियंत्रण कक्ष का नम्बर 05862-242400 एवं 05862-240009 स्थापित किये गये हैं ताकि आवश्यकतानुसार सूचना प्रदान कर सके। 


    डीएम ने कहा कि यह आदेश जनपद सीतापुर में दिनांक 06.04.2021 से 26.05.2021 तक, यदि इसके पूर्व वापस न ले लिया जाये, लागू रहेगा। उक्त आदेशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। उक्त आदेश का उल्लघंन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भा0द0सं0 की धारा-188 एवं आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के अन्तर्गत दिये गये प्राविधानों एवं अन्य विधिक प्राविधानों के अंतर्गत कठोर कार्यवाही की जायेगी। यह आदेश तत्काल प्रभावी होगा।

     शरद कपूर
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, सीतापुर उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.