Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जिला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह ने किया बोधगया के पर्यटन स्थलों का निरीक्षण

    जिला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह ने किया बोधगया के पर्यटन स्थलों का निरीक्षण

    गया| जिला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह द्वारा बोधगया क्षेत्र का भ्रमण कर बोधगया के पर्यटन स्थलों, उद्यानों, जल निकासी की व्यवस्था, ड्रेनेज सिस्टम सहित बोधगया के पर्यटन स्थलों का निरीक्षण कर उसकी सौंदर्यीकरण, सफाई व्यवस्था का संबंधित पदाधिकारियों को निदेश दिया ताकि बोधगया को अंतरराष्ट्रीय स्तर का पर्यटक स्थल तथा विश्वधरोहर बनाया जा सके। साथ ही आने वाले पर्यटकों एवं विदेशी यात्रियों/सैलानियों को अच्छे दर्जे की सुविधा प्राप्त हो सके। ज़िला पदाधिकारी द्वारा हैंडलूम तथा टेक्सटाइल उद्योग को और अधिक बढ़ावा देने तथा बुनकरों के परिवार को और अधिक काम देने, उनके प्रोडक्ट को बाजार में उपलब्धता बढ़ाने तथा बोधगया के रामपुर क्षेत्र को टेक्सटाइल हब के रूप में विकसित करने हेतु बुनकरों से मिलकर उनकी आर्थिक स्थिति, उनके द्वारा प्रोडक्ट/सामग्रियों का उत्पादन, कच्चे माल की स्थिति, रामपुर में हैंडलूम कैफेटेरिया बनाने तथा बोधगया आने वाले पर्यटकों/विदेशी मेहमानों के लिए टेक्सटाइल मार्केट के निर्माण की संभावनाओं को तलाशने हेतु विस्तार से समीक्षा की गई। 

                  उन्होंने भेड़ के उन से कंबल तैयार कर रहे कारीगरों से जानकारी प्राप्त किया। साथ ही पॉवरलूम पर गमछा, चादर, तैयार कर रहे अनुभवी कारीगर विश्वनाथ पाल से जानकारी प्राप्त किया कि इस हैंडलूम कारोबार को और कैसे बढ़ाया जाए, कच्चा माल की उपलब्धता को बढ़ाने तथा उत्पादित सामग्रियों का बाजार तैयार करने हेतु उद्योग विभाग एवं हैंडलूम विभाग के पदाधिकारियों को निदेश दिया गया। उन्होंने बोधगया के रामपुर में हैंडलूम, कैफेटेरिया के निर्माण हेतु भूमि का निरीक्षण, सड़क का निर्माण, नाले का निर्माण, सोलर लाइट लगाने, पोस्ट ऑफिस के लिए भूमि का चयन, इत्यादि कार्यो हेतु निदेश दिया। रामपुर क्षेत्र में 2 बड़े एवं आकर्षक गेट बनाने तथा नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी को और अधिक जन सुविधा बढ़ाने तथा बोधगया के सौंदर्यीकरण का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बोधगया को और अधिक स्वच्छता प्रदान करने की आवश्यकता है, ताकि विदेशी मेहमान एवं पर्यटक बोधगया के संबंध में अच्छी छवि लेकर जाए। जिला पदाधिकारी द्वारा कल्चरल सेंटर (कन्वेंशन सेंटर) का चल रहे निर्माण का निरीक्षण करते हुए इस परिसर से पानी की निकासी की व्यवस्था के सम्बंध में बुडको के अभियंता एवं इस केंद्र के जीएम बी के पांडेय से विचार विमर्श किया। जीएम ने बताया कि इस केंद्र को पूर्ण करने का निर्धारित समय 26 मई, 2021 है। ज़िला पदाधिकारी ने निदेश दिया कि इस परिसर में जल जमाव नहीं रहे, इसकी व्यवस्था पूर्व से ही कर लें। उन्होंने कन्वेंशन सेंटर के पीछे से होकर मायासरोवर के बनने वाले रास्ते के संबंध में भी जानकारी प्राप्त किया। 

    ज़िला पदाधिकारी द्वारा बोधगया में निर्माणाधीन साइंस सिटी का निरीक्षण किया। वहां भी पानी की निकासी हेतु ड्रेनेज सिस्टम के सम्बंध में विचार विमर्श किया। इसी परिसर में तारा मंडल का भी निर्माण किया जाना है, जिसके लिए साइट का चयन किया गया। बताया गया कि लगभग 7 एकड़ भूमि साइंस सिस्टम तथा तारामंडल के लिए चिन्हित है। ज़िला पदाधिकारी ने कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत, बोधगया को निर्देश दिया कि यूनेस्को गाइडलाइन के अनुसार बोधगया में बनने वाले भवन के आलोक में ही नक्शा का अनुमोदन करें। साथ ही अंचलाधिकारी को निदेश दिया कि आस पास के सरकारी भूमि को चिन्हित करें तथा अतिक्रमित भूमि को मुक्त करने की कार्रवाई करें। ज़िला पदाधिकारी द्वारा बोधगया के निर्माणाधीन प्रखंड एवं अंचल कार्यालय का निरीक्षण किया गया। ज़िला पदाधिकारी ने शौचालय, कमरे, बैठक कक्ष, प्रखंड एवं अंचल अधिकारी के क्वार्टर तथा पर्यवेक्षीय पदाधिकारी के आवास का भी निरीक्षण किया। बताया गया कि अप्रैल-मई माह में नया प्रखंड सह अंचल कार्यालय का कार्य पूर्ण हो जाएगा। 

    ज़िला पदाधिकारी द्वारा ढिबराही पोखर का निरीक्षण करते हुए निदेश दिया कि इसे सुंदर बनाया जाय तथा पोखर के किनारे रंगीन सोलर लाइट व्यवस्था कराई जाए। ज़िला पदाधिकारी को बताया गया कि वर्षा में पोखर में पानी आने की संभावना है साथ ही बोरिंग के द्वारा भी पोखर में पानी दिया जाएगा। उन्होंने पोखर की खुदाई का बारीकी से निरीक्षण करते हुए निदेश दिया कि पूरी गहराई तक पोखर की खुदाई करें तथा इसकी मिट्टी को अन्य कार्यों में उपयोग करें। ज़िला पदाधिकारी द्वारा साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के आरएमयू (रिंग मेन यूनिट) के अंतर्गत बने ट्रांसफार्मर का निरीक्षण किया। उन्हें बताया गया कि 11,000 सप्लाई का आना जाना इस आरएमयू के माध्यम से होगा। ज़िला पदाधिकारी द्वारा ताराडीह अंतर्गत पुरातात्विक विभाग के लिए आवंटित ज़मीन का निरीक्षण करते हुए भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को निदेश दिया कि वे शीघ्र बाउंडरी वाल का काम पूर्ण करें। अगर कही ज़मीन की समस्या है तो अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी द्वारा आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।  ज़िला पदाधिकारी द्वारा बीटीएमसी के निर्माणाधीन बैरक का निरीक्षण किया। साथ ही बीटीएमसी के पदाधिकारियों एवं कर्मियों के लिए आवास हेतु भूमि का चयन लुम्बनी के पास किया गया। निदेश दिया गया कि यूनेस्को गाइडलाइन के आलोक में आवास का निर्माण कराया जाए। 

    ज़िला पदाधिकारी द्वारा माया सरोवर उद्यान तथा चिल्ड्रन पार्क का निरीक्षण करते हुए निदेश दिया कि इसमें लगाए जा रहे मटेरियल तथा बच्चो के झूले, स्लाइडिंग इत्यादि सामग्रियों की गुणवत्ता सही हो इसे सुनिश्चित करेंगे। मायासरोवर उद्यान के संबंध में बताया गया कि यहां बुद्ध थीम पर आधारित लाइट एवं साउंड कार्यक्रम की व्यवस्था की जाएगी। मायासरोवर तालाब की खुदाई करने के संबंध में उन्होंने आवश्यक निदेश दिया। उन्होंने निदेश दिया कि इस उद्यान में आवश्यक सैनेजेज़ लगाए जाएं। ज़िला पदाधिकारी के बोधगया भ्रमण के क्रम में उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्त्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, सदर, ज़िला जन सम्पर्क पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग, भवन निर्माण, विधुत,  विशेष कार्य पदाधिकारी, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत, बोधगया, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी द्वारा ज़िला पदाधिकारी के निरीक्षण कार्य मे सहयोग दिया गया।

    प्रमोद कुमार यादव

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, गया, बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.