Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पहले दिया अधिक वेतन और शिकायत होने पर वापस लिया, डीईओ को निलंबित करने की मांग

    पहले दिया अधिक वेतन और शिकायत होने पर वापस लिया, डीईओ को निलंबित करने की मांग

    राजनांदगांव। शिक्षा विभाग में भ्रष्ट्राचार थम नही रहा है कोरोना के आड़ में फर्नीचर घोटाला, बर्तन घोटाला अभी ठंडा हुआ ही नही था कि शानिवार को वेतन घोटाले ने पूरे जिले को हिला कर रख दिया। छत्तीसगढ़ पैरेंट्स एसोसियेशन के प्रदेश अध्यक्ष क्रिष्टोफर पाॅल ने बताया कि जिला शिक्षा अधिकारी राजनांदगांव हेतराम सोम जब से जिले में पदभार संभाला है उनके द्वारा लगातार लाखों करोड़ों का भ्रष्ट्राचार किया जा रहा है और विभाग में भ्रष्ट्राचार के मामले लगातार उजागर हो रहे है और अपने कार्यालय में कार्यरत् कर्मचारीयों एंव अधिकारीयों की नाराजगी दूर करने और उनका मुंह बंद करने की नियत से डीईओ ने अपने कार्यालय में कार्यरत कर्मचारीयों एंव अधिकारीयों के खाते में फरवरी माह का निर्धारित वेतन से अधिक वेतन दिए जाने की चर्चा चल रही है। ऐसी जानकारी मिल रही है कि मंहगाई भत्ता 12 प्रतिशत है लेकिन अपनी और इन जीपीएफ कर्मचारीयों एंव अधिकारीयों को 21 प्रतिशत मंहगाई भत्ता दे दिया गया है। इस प्रकार जानबूझकर सुनियोजित ढंग से शासन को लाखों रूपये का आर्थिक क्षति पंहुचा दिया गया जो गंभीर प्रवृति का अपराध है।

    पाॅल ने बताया कि वेतन घोटाले के समाचार जैसे ही वायरल हुआ शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया और आनन-फानन में अधिक वेतन पाए अधिकारीयों और कर्मचारीयों से नगद राशि वापस लिया गया जो कि एक और अपराध है यानि एक अपराध को छिपाने के लिए दुसरा अपराध। पाॅल का कहना है कि अब बढ़े हुए वेतन का इंकमटैक्स भी कर्मचारीयों और अधिकारीयों का कट गया है तो सिर्फ अधिक वेतन नगद वापस लेने से मामला शांत हो जाएगा ऐसा सोचना ही अपराध है क्योकि आयकर विभाग ने जो रकम कटौती किया है वह तो कर्मचारीयों और अधिकारीयों का व्यक्तिगत नुकसान है और इसके लिए कौन जिम्मेदार होगा यह भी तय होगा यानि दोषि व्यक्ति को बचाने के चक्कर में कई और लोगों पर भी गाज गिर सकता है। पाॅल ने बताया कि वेतन घोटाले में जिला शिक्षा अधिकारी को निलबिंत करने की मांग मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव और शिक्षा सचिव से की गई है।

    हेमंत वर्मा
    आईएनए न्यूज़, 
    राजनांदगांव, छत्तीसगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.