Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ज़िला शांति समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित

    ज़िला शांति समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित 

    गया| होली त्यौहार एवं शब ए बारात को देखते हुए ज़िला पदाधिकारी, गया अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में दोनों पर्व को शांतिपूर्ण सद्भाव एवं भाईचारे के माहौल में मनाने हेतु ज़िला शांति समिति की बैठक समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में ज़िला पदाधिकारी एवं वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा होली एवं शब ए बारात त्यौहार के लिए शांति समिति के सदस्यों एवं जिलावासियों को शुभकामना दी गयी। ज़िला पदाधिकारी ने शांति समिति के सदस्यों से कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी होली त्यौहार को शांतिपूर्वक मनाने हेतु आप सबो का सहयोग मिलेगा, ऐसी हमे आशा है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष होली एवं शब ए बारात का त्यौहार एक साथ मनाया जाना है, आशा एवं विश्वास है कि यह दोनों त्यौहार आप सबों की सहयोग से शांतिपूर्वक एवं सद्भाव के साथ मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड 19 संक्रमण को देखते हम सब सादगी के साथ भीड़ भाड़ से बचते हुए होली का त्यौहार मनाएंगे। उन्होंने कहा कि होली त्यौहार के अवसर पर किसी प्रकार का अश्लील गाने को नहीं बजाया जाएगा। अगर अश्लील गाने बजाते हुए डीजी अथवा कोई वाहन देखे जाएंगे तो उन्हें जब्त कर लिया जाएगा तथा डीजे/वाहन मालिक पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया कि रंग लगाने हेतु अगर कोई व्यक्ति अनिच्छा ज़ाहिर करे तो उन्हें ज़बरदस्ती रंग न लगाया जाए। उन्होंने झुमटा, मटका फोड़ने तथा होलिकादहन के अवसर पर कम से कम लोगों की उपस्थिति सुनिश्चित करने का निदेश दिया। साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर होली मिलन समारोह आयोजित न करने की हिदायत दी। 

    ज़िला पदाधिकारी ने शांति समिति के सदस्यों से अनुरोध किया कि अगर कहीं से शराब आने की सूचना आपको प्राप्त हो तो आप तुरंत ज़िला प्रशासन/पुलिस प्रशासन के संज्ञान में लावें। साथ ही अगर कहीं असामाजिक तत्वों द्वारा उपद्रव की सूचना प्राप्त हो तो तुरंत ज़िला प्रशासन को सूचित करें। उन्होंने स्पष्ट रूप से निदेश दिया कि अगर कोई व्यक्ति/असामाजिक तत्व शांति भंग करने का कार्य करेंगे, तो उनपर सख्ती से कार्रवाई होगी। शांति समिति की बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार द्वारा अनुरोध किया गया कि होली तथा शब ए बारात के अवसर पर भीड़ भाड़ लगाने से बचे तथा ऐसे कार्यक्रम में न जाये जहां अधिक लोगों की उपस्थिति हो। शांतिपूर्वक तथा सद्भाव के वातावरण में इन दोनों त्यौहार हो मनावे। उन्होंने शांति समिति के सदस्यों से अनुरोध किया कि वे अपने समाज, अपने मोहल्ले के युवाओ को प्रेरित करे कि वे किसी झगड़े/झंझट में न फसे, शांतिपूर्वक त्यौहार का आनंद लें। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि अगर कोई युवा झगड़ा/फसाद/हुड़दंग में शामिल होता है और प्रशासन के संज्ञान में बात आती है तो ऐसे युवाओ का कैरियर प्रभावित हो सकता है। अतः बच्चो के अविभावक अपने बच्चो को संयामित एवं अनुशासित रखने का प्रयास करें। उन्होंने अनुरोध किया कि अगर कहीं कोई समस्या होती है तो त्यारित रूप से जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों को सूचित करें। ज़िला शांति समिति की बैठक में शांति समितियों की सदस्यों ने अनुरोध किया कि संवेदनशील स्थलों पर नियमित रूप से पुलिस पेट्रोलिंग कराई जाए। साथ ही होलिकादहन, झुमटा, मटका फोड़ने के आयोजन पर भी पुलिस की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। उन्होंने अनुरोध किया कि अगर शांति समिति के सदस्य वरीय पदाधिकारी को फ़ोन द्वारा सूचित करें तो तेजी से कार्रवाई की जाए। बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर बाहर से आने वाले यात्रियों को कोविड 19 की जांच सख्ती के साथ अवश्य कराई जाए। ज़िला पदाधिकारी द्वारा शांति समिति के सदस्यों से अनुरोध किया गया कि यदि आपके आस पास य परिवार में कोई व्यक्ति बाहर से आता है तो उसकी कोविड 19 की जांच अवश्य कराई जाए, क्यों की समाज तथा स्वयं के हित में कोविड 19 की जांच कराना आवश्यक है। शांति समिति के सदस्यों ने अनुरोध किया कि डुमरिया, इमामगंज, बाराचट्टी, बाँकेबाज़ार, फतेहपुर के कुछ भाग, शेरघाटी थाना क्षेत्र से शराब की आवाजाही पर अंकुश लगाने की व्यवस्था की जाए। 

    ज़िला पदाधिकारी अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, थानाध्यक्ष, अंचलाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को निदेश दिया कि वे गुरुआ, गुरारू, कोंच, खिजरसराय, डोभी, मानपुर, इत्यादि स्थानों पर स्थिति का पूर्व से आंकलन अवश्य कर लें। साथ ही अगर कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना मिले तो बिना समय गवाए घटना स्थल की ओर प्रस्थान करते हुए डीएम, एसपी एवं वरीय पदाधिकारी को अवश्य सूचित करें तथा घटना का अपडेट देते रहें। अगर शांति समिति के सदस्यों/आमजनों का कॉल आता है तो इसे इंटरटेन अवश्य करे तथा इन लोगों से फीडबैक नियमित रूप से प्राप्त करें। वरीय पुलिस अधीक्षक ने अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को निदेश दिया कि असामाजिक तत्वों को चिन्हित करते हुए निरोधात्मक कार्रवाई करें तथा इन्हें बाउंड डाउन अवश्य करें। ज़िला शांति समिति की बैठक में नगर पुलिस अधीक्षक, नगर आयुक्त, नगर निगम, गया, अपर समाहर्ता, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, सभी पुलिस उपाधीक्षक, विशेष कार्य पदाधिकारी सहित सभी धर्मों के प्रतिनिधि, समाजसेवी, ज़िला शांति समिति के सदस्य, जनप्रतिनिधि एवं बुद्धिजीवी उपस्थित थे।

    प्रमोद कुमार यादव

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, गया, बिहार

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.