Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक में महिला दिवस का आयोजन

    डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक में महिला दिवस का आयोजन

    हाईलाइट्स:-

    • महिलाओं व पुरुष में से किसी को भी एक दूसरे का अपमान नहीं करना चाहिए- श्रद्धा सिंह
    • बिना महिला या पुरुष के यह समाज पूर्ण नहीं- विजय लक्ष्मी सिंह
    •  किसी भी महिला या बेटी को अत्याचार सहने की जरूरत नहीं- महिला थाना प्रभारी श्वेता त्रिपाठी
    • आज की नारियां स्वावलंबी, दूसरों भी दे रही हैं रोजगार- मैनेजर गीता सिंह

    हरदोई। शहर में स्थित डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक परिसर में सोमवार को महिला दिवस का आयोजन किया गया। जिसमें शहर की विभिन्न नारी शक्तियों ने अपने विचार प्रस्तुत किए। इससे पूर्व माल्यार्पण कर उनका भव्य स्वागत किया गया।

    कार्यक्रम में संबोधित करते डिस्ट्रिक्ट को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष विद्याराम वर्मा


    कार्यक्रम में संबोधित करते हुए को-ओपरेटिव बैंक अध्यक्ष विद्याराम वर्मा ने कहा कि हमें हर हाल में महिलाओं के सम्मान का ध्यान रखना चाहिए।

    कार्यक्रम में संबोधित करते जीएम मनोज कुमार मौर्या

    महिलाओं को प्रताड़ित नहीं करना चाहिए। एक महिला ही है, जिसकी वजह से पुरुष सफलता के रास्ते पर अग्रसर होता है। बिना किसी महिला के योगदान के पुरुष सफलता नहीं पा सकता है, वह महिला चाहें मां हो, पत्नी हो, बहन हो या फिर बेटी हो। टड़ियावां शाखा मैनेजर श्रद्धा सिंह ने कहा कि न तो पुरुष को महिलाओं का अपमान करना चाहिए और न ही महिलाओं को पुरुष का अपमान करना चाहिए|

    कार्यक्रम में महिलाओं को संबोधित करती शाखा मैनेजर श्रद्धा सिंह

    यदि इसके बाद भी कुछ गलत होता है तो अपनी आत्मसुरक्षा व सम्मान को ध्यान में रखकर ऐसे लोगों की शिकायत करनी चाहिए और उनका विरोध करना चाहिए। मैनेजर गीता सिंह ने कहा कि आज की नारियां स्वयं भी स्वावलंबी बनी हैं और दूसरों को भी रोजगार दे रही हैं|

    कार्यक्रम में संबोधित करतीं थाना प्रभारी श्वेता त्रिपाठी

    पहले की नारियां खुलकर घर से बाहर नहीं निकल पाती थीं और न ही कोई काम कर पाती थीं लेकिन आज सरकार द्वारा दिए गये फ़ास्ट ट्रैक की मदद से नारियां दूसरों को भी रोजगार दे पा रही हैं| आईएनए न्यूज़ एजेंसी की प्रधान संपादक विजय लक्ष्मी सिंह ने कहा कि समाज में महिला और पुरुष का समान योगदान होता है। बिना महिला या पुरुष के यह समाज पूर्ण नहीं है।

    कार्यक्रम में जीएम मनोज कुमार मौर्या का स्वागत किया गया|

    महिला और पुरुष साथ चलकर ही देश को आगे बढ़ा सकते हैं। महिला व पुरुष दोनों को एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए और उन्नति के पथ पर आगे बढ़ना चाहिए। सिर्फ बेटियों के पैरों में जंजीरें बांध देने से समाज का भला नहीं होगा। आजकल के लड़कों पर भी अभिभावकों को लगाम लगानी चाहिए और उन्हें अच्छे संस्कार देने चाहिए। ताकि लड़कों में महिलाओं व बेटियों के प्रति सम्मान का भाव हो और उनके दिमाग में शैतानी बीजों का रोपण न होने पाए। संस्कारों की पौधशाला का निर्माण करके ही इस समाज को सम्यक और उन्नत बनाया जा सकता है।

    कार्यक्रम में विचार व्यक्त करतीं आईएनए न्यूज़
    एजेंसी की प्रधान संपादक विजय लक्ष्मी सिंह|

    हमारे घरों की महिलाएं हमें समय पर खाना देती हैं, धुले कपड़े देती हैं तथा पूर्ण रूप से सहयोग देती हैं। तब जाकर हम समाज में उन्नति कर पाते हैं। बिना महिला के सपोर्ट के किसी भी सफलता की परिकल्पना तक नहीं की जा सकती हैं।

    कार्यक्रम में संबोधित करतीं ममता मिश्रा (संचालक, सन बीम पब्लिक स्कूल)

    समाज के विकास में महिलाओं का एक अहम रोल होता है। महिला थाना प्रभारी श्वेता त्रिपाठी ने कहा कि किसी भी महिला या बेटी को अत्याचार सहने की जरूरत नहीं है।

    किसी भी प्रकार से प्रताड़ित किये जाने पर महिला हेल्प डेस्क में निजतापूर्ण ढंग से अपनी शिकायत दर्ज कराएं या वीमेन हेल्पलाइन नंबर्स 112, 1098, 1076 आदि पर शिकायत करें। इस कार्यक्रम में अध्यक्ष विद्याराम वर्मा, जीएम मनोज मौर्या, श्रद्धा सिंह, मैनेजर गीता सिंह, आलोक सिंह चंदेल मैनेजर, अरविंद कुमार सिंह, श्वेता त्रिपाठी, ममता मिश्रा (संचालक, सन बीम पब्लिक स्कूल), अखिलेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

    संजय मिश्रा/कमल किशोर, संवाददाता 
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, डेस्क हरदोई|

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.