Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जाम की समस्या से जूझ रहे हैं लोग, कोई ट्रैफिक रूल्स नहीं

    जाम की समस्या से जूझ रहे हैं लोग, कोई ट्रैफिक रूल्स नहीं

    बिसवां/सीतापुर। बिसवां नगर सहित ग्रामीण क्षेत्र की आम जनता सहित, व्यापारी गण काफी समय से बिसवां कस्बे में जाम की समस्या से जूझते दिखाई दे रहे हैं। इस समस्या का निदान सिर्फ कागजों पर होता दिखाई दे रहा है । स्थानीय प्रशासन और पुलिस प्रशासन की अनदेखी का नतीजा वर्तमान समय में आम जनता भोग रही है । स्थानीय जिम्मेदारों के द्वारा नगर में कोई भी ट्रैफिक रूल नहीं नजर दिखाई दे रहा है समय-समय पर जागरूक नागरिकों के द्वारा इस समस्या के लिए काफी लिखित व मौखिक तौर पर शासन व प्रशासन को अवगत भी करा चुके हैं परंतु वर्षों से बिसवां क्षेत्र की जनता इस जाम की समस्या से निजात पाने के लिए एक सपना सा सिद्ध होता दिखाई दे रहा है क्योंकि यहां पर एक कहावत सिद्ध होते दिखाई दे रही है जिसकी लाठी उसकी भैंस, उसी तरह पूर्व और वर्तमान की सरकार तरह-तरह की लाखों समस्याओं को लेकर जनता के प्रति  समर्पित होकर तमाम समस्याओं का निराकरण करने के लिए प्रतिबद्ध होने की बात कहती रहती हैं परंतु वर्तमान समय की स्थित अगर बिसवां नगर  की समस्या देखी जाए तो जनता मरे तो मरे मुझे क्या फर्क पड़े साबित हो रही है|

    जिसका जीता जागता सरकार द्वारा फरमान के आधार पर एंबुलेंस को भी ना रोका जाए परंतु जब जाम के आगे सरकार के दावे भी हवा हवाई साबित हो रहे हैं। जनता के द्वारा चुने गए प्रतिनिधि सहित शासन और स्थानीय पुलिस प्रशासन की अनदेखी के चलते बिसवां क्षेत्र की जनता वर्षों से इस जाम की समस्या से जूझ रहा है और इसका वर्तमान समय में  स्थानीय प्रशासन निराकरण करने में निष्क्रिय साबित हो रहा है । पूर्व के समय इस वर्तमान समय में अगर देखा जाए तो  यह समस्या और भी गंभीर होती दिखाई दे रही है । हर कोई आम नागरिक सरकार को कोसती हुई नजर आ रही है परंतु स्थानीय प्रशासन की खाऊ कमाऊ नीति के चलते इस समस्या का निदान कर पाना भविष्य में मुश्किल दिखाई दे रहा है|

     शरद कपूर
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी, सीतापुर  - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.