Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या के विकास के लिए योगी सरकार का खुला खजाना, 3 अरब 21 करोड़ की मंजूरी

    अयोध्या के विकास के लिए योगी सरकार का खुला खजाना, 3 अरब 21 करोड़ की मंजूरी

    श्री राम एयरपोर्ट के लिए मोदी और योगी सरकार मेहरबान

    अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की धर्म नगरी अयोध्या विश्व के मानचित्र पर दिखाई पड़ेगा और यहां से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी उड़ेगी। पूरी दुनिया के लोग भगवान श्री राम के मंदिर आकर भगवान  राम  का दर्शन करने के लिए आएंगे। जिसके लिए मोदी और योगी सरकार मेहरबान है। अयोध्या का जिला प्रशासन पूरी तैयारी में जुटा है। 84 कोसी परिक्रमा 14 कोसी परिक्रमा नव्य अयोध्या के विकास और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा सहित तमाम विकास की योजनाएं चल रही है। जिसमें नदी, सरोवर, घाट, मंदिर, रास्ते, आदि का सर्वांगीण विकास किया जा रहा है आवश्यकता अनुसार कहीं फोरलेन तो कहीं टू लेन मार्ग प्रस्तावित हैं जिन पर काम भी शुरू हो गया है।

    दुनिया वालों के लिए अयोध्या नजदीक हो जाएगी और अयोध्या । जल्द ही देश दुनिया के लोग प्रभु श्रीराम के दर्शन के लिए अयोध्या में सीधे हवाई मार्ग से आ और जा सकेंगे। अयोध्या में एयरपोर्ट निर्माण का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है और अगले साल तक हवाई सेवाओं की शुरूआत भी हो जाएगी। इसके लिए केंद्र और प्रदेश सरकार ने खजाना खोल दिया है।  केंद्र सरकार ने अयोध्या एयरपोर्ट के लिए ढाई सौ करोड़ जारी किए, तो राज्य सरकार ने भी एयरपोर्ट की अतिरिक्त भूमि खरीदने के लिए तीन अरब 21 करोड़ 99 लाख 50 हजार सात सौ 20 रुपए की वित्तीय स्वीकृति दी है।

    मुख्यमंत्री योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम हवाई अड्डा अयोध्या के लिए 555.66 एकड़ अतिरिक्त भूमि खरीदने के लिए राज्य सरकार ने कुल 1001 करोड़ 77 लाख की धनराशि की स्वीकृति दी है।  अगले वित्त वर्ष 2020-21 में अयोध्या एयरपोर्ट के लिए सौ करोड़ की धनराशि का अलग से प्रावधान किया गया है। राज्य सरकार की ओर से भूमि खरीदने के लिए अब तक 9,47.91 करोड़ की धनराशि जारी की गई है। हवाई अड्डे के विकास के लिए अब तक एएआई को 377 एकड़ भूमि उपलब्ध भी कराई जा चुकी| योगी ने सत्ता में आने के बाद से ही अयोध्या के चहुंमुखी विकास के लिए रणनीति बनानी शुरू कर दी थी। मुख्यमंत्री की ओर से अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय स्तर का एयरपोर्ट विकसित करने के उद्देश्य से घोषणा में परिवर्तन करते हुए कोड-ई B 777-300 प्रकार के विमानों के लिए एअरपोर्ट का विकास करने का निर्णय लिया गया।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.