Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मध्यप्रदेश से चयनित जिलों में गोल्ड केटेगरी में बैतुल का नाम शामिल, टीबी नियंत्रण के लिए देश मे मिली पहचान

    मध्यप्रदेश से चयनित जिलों में गोल्ड केटेगरी में बैतुल का नाम शामिल, टीबी नियंत्रण के लिए देश मे मिली  पहचान 

    बैतुल| मध्यप्रदेश के बैतुल का नाम टीबी नियंत्रण में गोल्ड मैडल की दौड़ में शामिल हुआ देश मे मिली एक अलग पहचान मिल सकता है बैतूल को गोल्ड टीबी फ्री इंडिया के सब नेशनल सर्टिफिकेशन कार्यक्रम के लिए बैतूल जिले का गोल्ड कैटेगरी के लिए राज्य की तरफ से चयन किया गया है। बैतूल में राज्य टीबी अधिकारी ने इसकी औपचारिक शुरुआत की । इसके साथ ही अब जिले में आईसी गतिविधियों की शुरुआत हो जाएगी।

    बैतूल के लिए यह गौरव का विषय है कि जिले को गोल्ड कैटेगरी के लिए नामित किया गया है। इस सर्टिफिकेशन की शुरुआत के मौके पर स्टेट टीबी आफिसर डॉ वर्षा राय,सेंट्रल टीबी डिवीजन से डॉ अलमास, डॉ कृष्ना, who से डॉ संजय सूर्यवंशी खासतौर पर मौजूद थे।

    आपको बता दे कि इस समय इस प्रमाणीकरण के लिए जिले के दस विकासखण्ड में दस टीमें लगातार सर्वे कर रही है। डोर टू डोर पहुचकर ये दल लोगों में टीबी के लक्षणों की पड़ताल कर रहे है। खास बात यह है कि बैतूल में पांच साल पहले टीबी की स्थिति, जहां 210 प्रति लाख थी वह आंकड़ा गिरकर 81 प्रति लाख पर पहुच गया है।

    2015 से 2020 जून तक जिला क्षय अधिकारी रहे डॉ राहुल श्रीवास्तव की मेहनत का ही फल रहा कि जिले को इस सर्टिफिकेशन के लिए चयनित किया गया है। फिलहाल डॉ आनंद मालवीय इस कार्यक्रम को जिले में।लीड कर रहे है। वे यहां बेहतर प्रयास कर रहे है। माना जा रहा है कि इस सर्वे के बाद जिले को यह गोल्ड जरूर मिलेगा।

    बैतूल से शशांक सोनकपुरिया की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.