Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पुलिस ने शाहबाजनगर के गन्ना क्रय केन्द्र पर चौकीदार की हत्या का किया खुलासा

    पुलिस ने शाहबाजनगर के गन्ना क्रय केन्द्र पर चौकीदार की हत्या का किया खुलासा

    (लूटी गयी दोनों ट्राली व मृतक का लूटा गया मोबाइल सहित घटना मे प्रयुक्त दो ट्रैक्टर, चोरी की मोटरसाइकिल एंव अवैध असलहा बरामद,  07 शातिर अभियुक्तो पुलिस मुठभेड मे किया गिरफ्तार)

    शाहजहाँपुर| बीते 23 जनवरी को थाना क्षेत्र मे ग्राम शहवाजनगर स्थित गन्ना क्रेय केन्द्र पर अज्ञात लोगो द्वारा गन्ने से लदी ट्राली को गन्ना सहित चोरी कर ले गए थे और  मौके पर मौजूद चौकीदार रामनाथ की हत्या कर दी थी जिसके संबंध मे थाना सदर बाजार पर वादी मुकदमा प्रमोद कुमार पुत्र रामनाथ निवासी निवाडी थाना निगोही शाहजहांपुर द्वारा मु0अ0सं0 57/21 धारा 460 भादवि पंजीकृत कराया गया। गन्ना सेन्टर पर हत्या की इस घटना होने पर एस.आनन्द पुलिस अधीक्षक शाहजहांपुर द्वारा तत्काल घटना स्थल का निरीक्षण किया गया तथा संजय कुमार पुलिस अधीक्षक नगर व प्रवीण कुमार, क्षेत्राधिकारी नगर के निर्देशन मे सर्विलांस की टीम सहित 05 पुलिस टीमे गठित कर घटना का अनावरण कर अभियुक्तो को शीघ्र गिरफ्तार किये जाने के सम्बन्ध मे आवश्यक निर्देश दिये तथा पुलिस टीमों की प्रत्येक दिवस की कार्यवाही का पर्यवेक्षण पुलिस अधीक्षक शाहजहाँपुर द्वारा स्वंय किया जा रहा था।


    पुलिस टीमो द्वारा अपने मुखबिरों को अलर्ट कर घटना की गहनता से छानबीन की जाने लगी । पुलिस टीम के अथक प्रयास से दिनांक 5 फरवरी की देर रात को थाना सदर बाजार व सर्विलांस की संयुक्त टीम द्वारा मुकदमा उपरोक्त के अनावरण हेतु की जा रही कार्यवाही के दौरान मुखबिर द्वारा दी गयी सूचना पर विरांगना अवन्ति बाई तिराहे चिनौर पर चैकिंग के दौरान मोटर साइकिल को रोका गया तो मोटर साइकिल सवार 03 व्यक्तियों ने पुलिस टीम पर तमन्चो से जान से मारने की नीयत से फायर किया गया । जिसमे पुलिस टीम बाल बाल बची । पुलिस टीम द्वारा आवश्यक बल प्रयोग कर उक्त 03 अभियुक्तों 1-बृजेश 2-मोहन 3-रामआसरे को गिरफ्तार कर 02 अदद देशी तमन्चा 315 बोर मय 03 जिन्दा कार0 व 1- 1 खोखा कारतूस बरामद किया गया तथा पीछे पीछे आ रहे अभियुक्तो 1-राघुवेन्द्र 2-नीरज 3-जोगेन्द्र 4-मुकेश जो लूटी गयी ट्राली को ट्रेक्टर मे लगाकर  बेचने उत्तराखण्ड जा रहे थे को पुलिस टीम ने पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया।

    पूछताछ पर बताया कि दिनांक 22 जनवरी की रात में शहबाजनगर स्थित गन्ना क्रय केन्द्र की घटना के सम्बन्ध में तीनों ने सामूहिक रूप से स्वीकार किया कि राघुवेन्द्र प्रताप उर्फ अर्जुन पुत्र कैलाशनाथ, निवासी ग्राम चिरंजीवपुरवा, थाना फतेहपुर चौरासी, जनपद उन्नाव तथा उनके दोस्त नीरज पुत्र गिरन वर्मा, नि0 ग्राम लठपुर, थाना हरपालपुर, जिला हरदोई ने घटना से करीब 15 दिन पूर्व हम लोगों से दो ट्राली चुराकर लाने की बात कही थी तथा उन्होंने कहा था कि हम लोग उन ट्रालियों को बेचकर तुम्हें तुम्हारा हिस्सा दे देंगे तो हम तीनों लोगों ने सलाह कर चार पाँच दिन में ट्रालियों को चोरी करके देना बताया तथा हम सभी लोग 1. राम आसरे यादव 2. नीरज 3. राघुवेन्द्र प्रताप उर्फ अर्जुन 4. मोहन वर्मा 5. ब्रजेश वर्मा  6. मुकेश 7. जोगेन्द्र राठौर ने घटना वाले दिन से चार पाँच दिन पहले शहबाजनगर क्रसिंग के पास आकर ट्राली चोरी करने की योजना बनायी कि हम तीन लोग शाहबाजनगर गन्ना क्रय केन्द्र पर आने वाली गन्ना से भरी ट्राली, जो तौल न होने के कारण सेण्टर पर रात मे खड़ी रहती हैं चोरी कर लेंगे । सेण्टर पर चौकीदार रात में अकेला रहता है । यदि वह ट्राली चोरी करने का विरोध करेगा तो उसे मार देंगे । हम लोगों को कोई नहीं जान पायेगा और योजना बनाने के बाद हम लोग उस दिन मौके से अपने अपने घर चले गये थे।

     दिनांक 22 जनवरी की रात में हम तीनों राम आसरे यादव, ब्रजेश व मोहन वर्मा ने आपस में मोबाइल पर वार्ता कर शहबाजनगर क्रासिंग पर इकट्ठा हुए और क्रसिंग से ब्रजेश के मोबाइल से जोगेन्द्र राठौर को फोन करके बताया था कि हम लोग गन्ना क्रय केन्द्र पर ट्रली चोरी करने जा रहे हैं। तुम गाँव के बाहर आकर निगरानी करना यदि गन्ना सेण्टर की तरफ गाँव से कोई आता हुआ दिखाई दे तो तुरन्त हम लोगों को फोन करके बता देना। यह बताकर बृजेश तथा मोहन व राम आसरे के साथ दोनों ट्रैक्टर लेकर शहबाजनगर क्रसिंग से गन्ना क्रय केन्द्र पर आये और गन्ना क्रय केन्द्र पर खड़ी दो ट्रालियों को मोहन व रामआसरे ने ट्रैक्टर से जोड़ने लगे तभी गन्ना केन्द्र पर देख रेख हेतु मौजूद चौकीदार जग गया और शोर मचाने लगा तो हम लोगों ने मिलकर चौकीदार को पकड़ लिया, चौकीदार कहने लगा कि मैंने तुम लोगो को पहचान लिया है और मैं कल सुबह तुम्हारी शिकायत करूँगा । इस पर हम तीनों लोगों ने मिलकर चौकीदार को पकड़कर उसके हाथ पैर बाँधकर तख्त पर डाल दिया और उसके मुँह पर कपड़ा ठूंसकर गन्ने से पीट पीटकर मार दिया । जब चौकीदार मर गया तो हम तीनों लोगों ने मोहन व रामआसरे के ट्रैक्टरों में गन्ना क्रय केन्द्र पर खड़ी दोनों ट्रालियों को जोड़कर ग्राम निवाड़ी से निकलते हुए निगरानी कर रहे अपने साथी जोगेन्द्र को बताया कि तुम घर जाओ काम हो गया है। बाद में तुम्हारा हिस्सा तुम्हें भिजवा देंगे। हम लोग टिकरी चौकी होते हुए शहर में अण्टा चौराहा से हरदोई बाईपास होते हुए शाहबाद गये और लोनी मिल के बाहर एक चलते फिरते खाली गन्ना ट्रक वाले आदमी से बात करके उसको 30,000/- रूपये में गन्ना बेच दिया । जिन ट्रैक्टर से ट्रालियां चोरी करके खींचकर लाये थे, उन्हीं ट्रैक्टरों सहित चोरी की गई दोनों ट्रालियों को हम लोगों ने हमारे साथी नीरज, मुकेश, जोगेन्द्र के हवाले कर नीरज के घर पर भिजवा दिया था। हम लोगों ने दोनों ट्रालियों को नीरज के घर से निकालकर शहर से होते हुए पुवायाँ पूरनपुर होते हुए उत्तराखण्ड में ले जाकर बेचने के लिए जा रहे थे। हम लोग आगे आगे रास्ता देखते हुए जा रहे थे कि आप लोगों ने पुलिस मुठभेड मे  हम लोगों को पकड़ लिया ।  चोरी की ट्रालियां पीछे पीछे आ रही हैं, जो अभी यहाँ पहुँचने वाली होंगी, हम लोग ट्रालियों के साथ साथ चौकीदार का मोबाइल भी चोरी करके ले गये थे। अभियुक्तों से चोरी गई ट्रालियां एवं मृतक चौकीदार रामनाथ का चोरी गया मोबाइल व मु0अ0सं0 44/21 धारा 379 भादवि थाना सदर बाजार से सम्बन्धित चोरी की मोटर साइकिल UP 27 AJ 1843 अपाचे अभियुक्तगण से बरामद हुई है । मुकदमा उपरोक्त मे धारा 120बी/411 भादवि की बढोत्तरी करते हुए अभियुक्तगण के विरूद्ध अवैध बरामदगी के संबंध मे मु0अ0सं0 77/21 धारा 307 भादवि (पुलिस मुठभेड) व मु0अ0सं0 78/21 धारा 3/25 शस्त्र अधि0 बनाम बृजेश व मु0अ0सं0 79/21 धारा 3/25 शस्त्र अधि0 बनाम मोहन पंजीकृत किया गया तथा अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.