Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जीवन के लिए प्रकृति से जुड़ाव जरूरी : कलेक्ट्रेट

    जीवन के लिए प्रकृति से जुड़ाव जरूरी : कलेक्ट्रेट
    कलेक्टर ने किया पुष्प महोत्सव का शुभारंभ
    पुष्प महोत्सव में रंग-बिरंगे फूलों से गुलजार आनंद वाटिका
    फूलों से बने मोर, हिरण, वन भैंसा, नाव एवं बैलगाड़ी बना आकर्षण का केन्द्र
    राजनांदगांव। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने आज नगर पालिका निगम राजनांदगांव द्वारा आयोजित पुष्प महोत्सव 2021 का आनंद वाटिका में शुभारंभ किया। अपने उद्बोधन में कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि शहर के आनंद वाटिका में आयोजित यह दो दिवसीय पुष्प महोत्सव विशेष है। यहां विभिन्न विभागों के स्टॉल तथा महिला स्वसहायता समूह स्टॉल लगाए गए हैं। लोग स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हुए हैं और योग के प्रति भी चेतना बढ़ी है। 
    शहर में उद्यान की संख्या बढ़ी है। उन्होंने कहा कि शहर में केवल सड़क और कांक्रीट के भवन होना ठीक नहीं है, बल्कि प्रकृति के प्रति झुकाव होना चाहिए। नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने शहर के विभिन्न स्थानों में पौधरोपण करवाएं है, जिसका असर अब दिखने लगा है। आज यहां फूल से बने पशु-पक्षी लोगों के आकर्षण का केन्द्र है। यहां सभी लोग सेल्फी ले रहे हंै।
    उन्होंने कहा कि किसानों को फूलों की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करने की जरूर है। बहुत से शासकीय योजनाओं के तहत किसान गेंदे, रजनीगंधा एवं गुलाब की खेती कर सकते हैं, जिससे उनके आय में बढ़ोत्तरी होगी। जिले में उन्नत कृषक है और उन्हें फूलों की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करने की जरूरत है।
    पुलिस अधीक्षक डी श्रवण ने कहा कि सुंदर फूलों को देखकर खुशी होती है और आज यहां नगर निगम आयुक्त ने आनंद वाटिका में रूचि लेकर पुष्प महोत्सव का आयोजन किया है। यहां बर्थडे पार्क भी बनाया गया है। पुष्प महोत्सव में शीत ऋतु के बहुत से फूल देखने को मिल रहे हंै, जो बहुत ही अद्भुत लग रहे हैं। उन्होंने नगर निगम, उद्यानिकी विभाग एवं सभी विभागों को ऐसे आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी। वन मंडलाधिकारी बीपी सिंह ने कहा कि फूल हमें जीने की कला सिखाते है। यह महोत्सव जीवंत और मधुर आयोजन है। प्रकृति के निकट मानसिक एवं मनोवैज्ञानिक रूप से भी इसका अच्छा असर पड़ता है और तनाव दूर होता है। जिला पंचायत सीईओ अजीत वसंत ने कहा कि प्रकृति एवं पर्यावरण के प्रति झुकाव के लिए नगर निगम का यह प्रयास सराहनीय है। नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने आयोजन के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि 2020 में भी त्रि-दिवसीय पुष्प महोत्सव का आयोजन किया गया था। राजनांदगांव में आयोजन का यह दूसरा वर्ष है। उद्यानिकी महाविद्यालय एवं उद्यानिकी विभाग का भरपूर सहयोग मिला। इस अवसर पर  पद्मश्री फूलबासन बाई यादव, नगर निगम के कार्यपालन अभियंता दीपक जोशी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
    उल्लेखनीय है कि दो दिवसीय इस पुष्प महोत्सव में आनंद वाटिका में रंग-बिरंगे फूलों से बने हुए मोर, हिरण, वनभैंसा, बैलगाड़ी, नाव लोगों के आकर्षण का केन्द्र है। यहां विभिन्न प्रजातियों के फूल लगाए गए है। आनंद वाटिका में नरवा, घुरूवा, गरूवा, बाड़ी का मॉडल तथा शासकीय विभागों के स्टॉल भी लगाए गए है। जनसंपर्क विभाग, वन विभाग, उद्यानिकी विभाग, नगर निगम, कृषि, आदिवासी विकास विभाग, राजवन फूड्स सहित विभिन्न विभागों के स्टॉल लगाए गए है। विभिन्न प्रतियोगिताओं एवं कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया है। 
    हेमंत वर्मा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.