Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जूनियर प्राचार्य बंजारा को बनाया डीईओ, हुई हटाने की मांग, पैरेंट्स एसोसियेशन ने लिखा संचालक को पत्र

    जूनियर प्राचार्य बंजारा को बनाया डीईओ, हुई हटाने की मांग, पैरेंट्स एसोसियेशन ने लिखा संचालक को पत्र

    रायपुर। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में प्राचार्यो का सैकड़ों पद रिक्त है और संचालक, लोक शिक्षण संचालनालय के द्वारा शनिवार दिनांक 30 जनवरी 2021 को रायपुर जिले के जिला शिक्षा अधिकारी के सेवानिवृति होने के कारण आशोक नारायण बंजारा जिनका मूल पद प्राचार्य है और इनका नाम प्राचार्यो की वरिष्ठता सूचि में सैकड़ों प्राचार्यो के नीचे है यानि बहुत जूनियर प्राचार्य है उनको जिला शिक्षा अधिकारी रायपुर का प्र्रभार सौंप दिया गया जिसको लेकर अब छत्तीसगढ़ पैरेंट्स एसोसियेशन ने आपत्ति दर्ज करायी है क्योंकि एसोसियेशन के प्रदेश अध्यक्ष क्रिष्टोफर पाॅल का कहना है कि जिला शिक्षा अधिकारी का पद उप संचालक(संवर्ग)के समकक्ष अधिकारी का पद है एंव उसी संवर्ग के अधिकारी को ही पदस्थ किये जाने का प्रावधान है लेकिन संचालक के द्वारा शिक्षा संहिता मे उल्लेखित भर्ती पदोन्नति नियम और सामान्य प्रशासन के स्थायी निर्देश दिनांक 04/08/2011 को बाइपास करते हुए आशोक नारायण बंजारा जिनका मूलपद प्राचार्य है और सैकड़ों प्राचार्यो से बहुत जूनियर है उन्हे दिनांक 30/01/2021 को जिला शिक्षा अधिकारी रायपुर का प्रभार सौंपा गया है।

    पाॅल का कहना है कि प्रदेश में मूल संवर्ग(उप संचालक)के प्रथम श्रेणी अधिकारी के रहते हुए संचालक के द्वारा द्वितीय श्रेणी अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी का प्रभार दिया जाना सामान्य प्रशासन विभाग के स्थायी निर्देश दिनांक 04/08/2011 का स्पष्ट रूप से उल्लंघन है। छ.ग. पैरेंट्स एसोसियेशन की ओर से सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग, स्कूल शिक्षा सचिव और संचालक डीपीआई को पत्र लिखकर आशोक नारायण बंजारा को तत्काल उनके मूलपद पर स्थानांतरण करते हुए सामान्य प्रशासन के स्थायी निर्देशानुसार योग्य और वरिष्ठतम अधिकारी को जिला शिक्षा अधिकारी रायपुर का प्रभार सौंपने की मांग किया गया है।

    हेमंत वर्मा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.