Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    योजनाओं को समयबद्ध व लक्ष्य के अनुरूप करें पूर्ण-जिलाधिकारी

    योजनाओं को समयबद्ध व लक्ष्य के अनुरूप करें पूर्ण- जिलाधिकारी
    पीलीभीत। जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में विकास कार्यों के कुल 91 प्रपत्रों की समीक्षा बैठक गांधी सभागार पीलीभीत में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में विभागवार योजनाओं की समीक्षा के दौरान सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित करते हुये कहा कि किसानों की आवश्यकतानुसार नहरों में पानी उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाये। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की समीक्षा के दौरान उन्होंने उप निदेशक कृषि को निर्देशित करते हुये कहा कि डाटा संशोधन से सम्बन्धित अभियान चलाकर समस्त विकासखण्डों में कैम्पों का आयोजन किया जाये और साथ ही साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के सम्बन्ध में भी प्रचार प्रसार कराया जाये।
    गौशालाओं में संरक्षित पशुओं की संख्या बढ़ाने व गौ पालको को गौशाला से गौ दान में प्रगति के दौरान मुख्य पशु चिकित्साधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि गांधीनगर व बड़ागांव में गो दान में कोई प्रगति नही लाई गई है, जिसका संज्ञान लेते हुये पूरनपुर पशु चिकित्साधिकारी का स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये गये और अगले माह तक प्रगति न होने पर वेतन रोक दिया जायेगा। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ईयर टेंगिंग का सत्यापन कराने व विधानसभा बरखेडा हेतु वृहद गौशाला का प्रस्ताव तैयार कराने के निर्देश दिये गये। बैठक में पंचायत भवन निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, छात्रवृत्ति, कन्या सुमंगला योजना, पेंशन, आयुष्मान कार्ड, शादी अनुदान, स्वयं सहायता समूह, आंगनबाडी भवन निर्माण, अमृत योजना, पेयजल, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा, मत्स्य पालन, दुग्ध उत्पादन, गन्ना भुगतान की समीक्षा करते हुये समस्त अधिकारियों को योजनाओं को समयबद्व व मानक के अनुरूप पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। 
    स्वयं सहायता समूहों की समीक्षा के दौरान परियोजना निदेशक को निर्देशित किया गया कि गठित स्वयं सहायता समूहों का एआरएफ व सीसीएल भेजना सुनिश्चित किया जाये, जिससे समूहों को कार्य करने का प्रोत्साहन मिल सके। कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा के दौरान खण्ड विकास अधिकारी व बेसिक शिक्षा अधिकारी के स्तर पर लम्बित आवेदन पत्रों को 03 दिन के अन्दर निस्तारित करने हेतु निर्देशित किया। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा स्वास्थ्य विभाग के कार्यों के अन्तर्गत आयुष्मान भारत योजना के गोल्डन कार्ड जारी करने के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया कि एक कार्ययोजना बनाकर समस्त तहसीलों पर उप जिलाधिकारी के साथ लेखपाल व सचिवों की बैठक सम्पन्न कर अभियान संचालित किया जाये, जिसके अन्तर्गत योजना से लाभान्वित परिवारों का कम से कम एक गोल्डन कार्ड जारी कराना सुनिश्चित किया जाय और कोई परिवार कोई अवशेष न रहे जिसके पास गोल्डन कार्ड की सुविधा न हो। 
    निर्माणाधीन आंगनबाडी केन्द्रों की समीक्षा के दौरान मुख्य विकास अधिकारी को निर्मित भवनों की गुणवत्ता व भौतिक सत्यापन कराने के निर्देश दिये गये। निवेश पोर्टल पर समय उपरान्त लम्बित 04 शिकायतों का निस्तारण न होने पर सम्बन्धित विभागों को चेतावनी जारी कर तत्काल निस्तारण कराने हेतु उपायुक्त उद्योग को निर्देशित किया गया। उन्होंने कहा कि जिन विभागों से सम्बन्धित शिकायत पोर्टल पर आती हैं प्रतिदिन उन से वार्ता करते हुये शिकायतों का निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाये। बैठक में समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि विभागों द्वारा संचालित योजनाओं को शासन की मंशा के अनुरूप समयबद्व व लक्ष्य के अनुरूप पूर्ण करना सुनिश्चित करें, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी। प्रत्येक बैठक से पूर्व विभागीय समीक्षा करते हुये योजना की प्रगति समीक्षा की जाये। 
    बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0सीमा अग्रवाल, प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी/जिला विकास अधिकारी  योगेन्द्र पाठक, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई, परियोजना निदेशक  अनिल कुमार, जिला विद्यालय निरीक्षक संत प्रकाश, बेसिक शिक्षा अधिकारी, अर्थ एवं सख्याधिकारी, जिला पंचायतरज अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
    जनपद पीलीभीत से कुंवर निर्भय सिंह की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.