Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: बरसात से पहले यानी 15 जून तक तैयार होगी राम मंदिर की नींव

    अयोध्या: बरसात से पहले यानी 15 जून तक तैयार होगी राम मंदिर  की नींव

    अयोध्या| धर्म नगरी अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की  जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए नींव बनाए जाने की प्रक्रिया तेज हो गई है  ट्रस्ट के मुताबिक बरसात के पहले ही नींव बनाए जाने का कार्य जून तक पूरा कर लिया जाना है। वही परिसर में मंदिर निर्माण के लिए पत्थरों को अयोध्या तक लाने के लिए टाटा कंसल्टेंसी व सोनपुरा की टीम स्थलीय जायजा लेकर तैयारी शुरू कर दी है। राम मंदिर निर्माण से जुड़े सभी कार्यदाई संस्था के अधिकारी अयोध्या में डेरा डाल दिए हैं जहां राम जन्मभूमि परिसर में भी मलवा हटाये जाने की प्रक्रिया में 15 फुट तक पूरा किया जा चुका है वहीं दूसरी तरफ नींव बनाये जाने व कार्यशाला प्रारम्भ करने के लिए सोनपुरा की टीम  तेज कर दिया है। ट्रस्ट के मुताबिक 15 जून तक नींव की भराई का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। क्योंकि 15 जून के बाद बरसात की संभावनाएं बढ़ जाती हैं जिसको ध्यान में रखते हुए कार्य तेज गति से किया जा रहा है।

    श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य  ने बताया कि ट्रस्ट को इस बात का पूरा ध्यान है कि बरसात आने के पहले नींव के कार्य को पूरा कर लिया जाएगा। परिसर में नींव खुदाई का कार्य किया जा रहा है खुदाई के बाद बरसात में पानी भरने की संभावना ज्यादा है इसलिए समय को ध्यान में रखते हुए इस तरह की दिक्कत ना आए और नीचे कार्य करने में किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसी लक्ष्य के तहत  कार्य किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए पूरे देश में हर वर्ग समर्पण निधि में अपना सहयोग दे रहा है।  हजारो करोड़ की समर्पण निधि रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के तीन बैंक खातों में जमा हो चुकी है। छोटे बच्चे भी गुल्लक के माध्यम से समर्पण निधि रामलला को अर्पित कर रहे हैं, तो मजदूर, ठेला-खोमचा, रिक्शा चालक भी अपनी सामर्थ्य के अनुसार राममंदिर के लिए सहयोग कर रहे हैं। हर जाति, मजहब, पंथ के लोग राममंदिर के लिए दान दे रहे हैं।  राम सब में हैं, राम सबके हैं, राम जन-जन के हैं। देश में एक लाख पचास हजार टोलियां संग्रह कर रही हैं। 35 हजार कार्यकर्ता बैंक में समर्पण राशि डिपॉजिट कर रहे हैं।

     राज्यों से समर्पण राशि मिल रही है। देश के हर राज्य में हर वर्ग रामलला के मंदिर में अपना सहयोग करने के लिए आतुर है। 27 फरवरी के बाद समर्पण निधि अभियान समाप्त हो जाएगा और कोई भी कार्यकर्ता राम मंदिर निर्माण के लिए कूपन लेकर किसी के घर नहीं जायेगा। रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से जारी भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और पंजाब नेशनल बैंक के अकाउंट में राम मंदिर के लिए सहयोग कर सकता है। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने  नींव खोदाई का कार्य देखा।  रामजन्मभूमि न्यास कार्यशाला में  पत्थरों को लेकर इंजीनियरों से चर्चा हो रही है।।  राममंदिर निर्माण के लिए अब तक छह मीटर खोदाई हो चुकी है। करीब 18 फीट नीचे का मलवा हटाया जा चुका है।  पश्चिम से पूरब दिशा की ओर उत्तर से दक्षिण की ओर नींव खोदने का काम चल रहा है। राममंदिर की नींव में करीब 4 लाख घनफुट पत्थर लगेंगे।  पत्थर शीघ्र अयोध्या आना शुरू हो जाएंगे।  निधि समर्पण अभियान ने साबित कर दिया है कि राम जन-जन के मन में हैं।  जितनी कल्पना थी उससे ज्यादा समर्पण हिंदी आ रही है। जून तक नींव  का काम पूरा हो जाने के बाद बरसात में भी राम मंदिर निर्माण का कार्य चलता रहेगा और समय सीमा के अंदर मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.