Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जिले के छह स्वास्थ्य केंद्रों पर कोविड वैक्सीनेशन का हुआ ड्राई रन

    जिले के छह स्वास्थ्य केंद्रों पर कोविड वैक्सीनेशन का हुआ ड्राई रन

    12 सत्रों में 300 लाभार्थी हुए शामिल, जिला स्तरीय टीम ने किया भौतिक सत्यापन

    सीतापुर| जिले में मंगलवार को प्रशिक्षित वैक्सीनेटर्स द्वारा 3 ग्रामीण क्षेत्रों और 3 शहरी क्षेत्रों में कोविड वैक्सीनेशन के ड्राई रन का आयोजन किया गया। इस दौरान 12 सत्र आयोजित हुए। प्रत्येक सत्र के लिए पांच-पाच टीकाकरण कर्मियों की टीम गठित की गई थी। प्रत्येक सत्र में 25 -25 लाभार्थी शामिल हुए। कुल मिलाकर 300 लाभार्थियों को कोविड से बचाव की वैक्सीन लगाने का मॉक ड्रिल किया गया। इस पूरी प्रक्रिया का जिला स्तर पर गठित एसीएमओ और डिप्टी सीएमओ की टीमों ने भौतिक सत्यापन भी किया। 



    एसीएमओ डॉ. पीके ने बताया कि इस पूरी प्रक्रिया में किसी को भी वैक्सीन नहीं लगायी गयी बल्कि केवल वैक्सीन का मॉक ड्रिल हुआ है। इस दौरान वैक्सीन का प्रभाव भी देखा गया। वैक्सीन के गंभीर प्रतिकूल प्रभाव और हल्के प्रतिकूल प्रभाव होने पर लाभार्थियों को किस तरह से इलाज मुहैया कराया जायेगा इसका रिहर्सल किया गया। उन्होंने बताया कि इस पूरी गतिविधि के माध्यम से बायोमेडिकल वेस्ट का निष्पादन करने, ओब्सेर्वेशन कमरे में लाभार्थी को रखने के बाद वैक्सीन का प्रतिकूल प्रभाव देखने और उसका इलाज करने का ड्राई रन किया गया। प्रत्येक सत्र में सबसे पहले लाभार्थी का वेरिफिकेशन हुए जिसमें उसके पहचान पत्रों की जाँच स्वास्थ्यकर्मी द्वारा की गई। इसके बाद वेटिंग रूम, में लाभार्थी को  वेरिफिकेशन करने के उपरांत  बैठाया गया तथा कोविन पोर्टल पर डाटा अपलोड किया गया। तत्पश्चात  वैक्सीनेशन रूम में  लाभार्थियों को टीका लगाया गया। टीका लगाने के बाद ऑब्जरवेशन रूम में  लाभार्थियों को करीब आधे घंटे तक बैठाया गया। जहां पर 30 मिनट के भीतर टीका लगने वाले व्यक्ति पर टीके के प्रतिकूल प्रभाव पर विशेष नजर रखी गयी। इसके लिए एक स्पेशलिस्ट टीम तैनात थी जिसमें डाक्टर और पैरामेडिकल स्टॉफ शामिल रहे, जो एडवर्स इफेक्ट फालोइंग इम्युनाइजेशन किट के साथ देखरेख करते रहे। वैक्सीनेशन के 30 मिनट बाद ही लाभार्थी घर जा भेजा गया।

    उन्होंने बताया कि यह पूरी प्रक्रिया कोरोना से बचाव के सभी प्रोटोकॉल्स जैसे मॉस्क पहनना, बार-बार 20 सेकेण्ड तक हाथ धोना और 2 गज की शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आयोजित की गई है। उनका कहना है कि टीका लगने के बाद भी हर किसी को कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा। 

    ************

    यहां हुआ ड्राई रन...

    शहरी क्षेत्रों में जिला महिला चिकित्सालय, सदर बाजार और इस्माईपुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और ग्रामीण क्षेत्रों मे परसेंडी ,एलिया और खैराबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर कोविड वैक्सीनेशन का ड्राई रन का आयोजन किया गया। 

    माक ड्रिल के लिए गठित की गई टीकाकरण टीम में एक सुरक्षा कर्मी, एक वेरीफायर, एक एएनएम वैक्सीनेटर, एक अतिरिक्त  टीकाकर्मी, एक मोबिलाइजर और एक कार्यकर्ता सहयोगी के तौर पर शामिल हुए। 

    *************

    डीएम और एसपी ने किया निरीक्षण...

    कोविड वैक्सीनेशन के ड्राई रन का डीएम और एसपी द्वारा संयुक्त रूप से निरीक्षण किया गया। डीएम विशाल भारद्वाज एवं एसपी आरपी सिंह ने सीएचसी खैराबाद में टीकाकारण ड्राई रन का निरीक्षण किया। उन्होंने इस दौरान एसीएमओ डॉ. पीके सिंह सहित तैनात किए गए अन्य अधिकारीगणों कर्मचारियों को सभी व्यवस्थाएं बेहतर, दुरुस्त रखने हेतु समुचित दिशा निर्देश दिए।

    शरद कपूर, सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.