Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सुरक्षा व्यवस्था के साथ बैतुल पहुँची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप, सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मचारियों को लगाया जाएगा 'टीका'

    सुरक्षा व्यवस्था के साथ बैतुल पहुँची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप, सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मचारियों को लगाया जाएगा 'टीका'

    बैतूल| मध्यप्रदेश के बैतूल में 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगने वाले कोरोना वैक्सीन की पहली खेप बैतूल पहुंच गई है  । सशस्त्र बल की सुरक्षा के साथ पहुंची इस खेप को कड़ी सुरक्षा में कड़ी सुरक्षा  निगरानी में रखा गया है।

    अब इन वैक्सीन को सीएचसी सेंटर्स पर भेजने की तैयारी की जा रही है। कोरोना वैक्सीन को लगाए जाने को लेकर 16 जनवरी से पूरे देश में शुरू हो रहे अभियान के साथ ही यहां भी फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सिंन की पहली डोज लगाई जाएगी। आज भोपाल से एक वैक्सीन वैन में भरकर 10700 कोरोना वैक्सीन बेतूल पहुंचाई गई है। इन्हें लेने के लिए सशस्त्र सुरक्षा बल के जवानों को भेजा गया था।

    जिनकी चाक-चौबंद निगरानी में वैक्सीन वैन बेतूल पहुंच गई है।जिसके बैतूल पहुंचने को लेकर बड़ा कौतूहल था। इसकी अगवानी के लिए जिले के स्वास्थ्य अधिकारी बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। आज जैसे ही यह वैन बैतूल पहुंची मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी प्रदीप धाकड़, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ अरविंद भट्ट ने इस वैक्सीन की अगवानी की।

    सीएमएचओ प्रदीप धाकड़ ने बताया कि पहली खेप में प्राप्त हुई इस वैक्सीन को स्वास्थ्य कर्मचारियों को लगाया जाएगा। ऐसे कोरोना वारियर जो फ्रंट लाइन पर काम करते रहे हैं को इस वैक्सिंन की पहली डोज लगाई जाएगी। फिलहाल जिले को 10700 वैक्सीन प्राप्त हुए हैं|

    जबकि जिले में 9140 स्वास्थ्य कर्मियों फ्रंटलाइन वर्कर्स को यह लगाई जाना है। वैक्सिंग को चरणबद्ध तरीके से लगाया जाएगा। इसे जल्द ही हर सीएचसी पर भेजा जाएगा ।वैक्सीन की निगरानी के लिए 24 घंटे एक गनमैन को तैनात किया जा रहा है। पहले डोज के 28 दिन बाद उन्ही कर्मियों को दूसरा डोज दिया जाएगा।

    बैतुल से शशांक सोनकपुरिया की खास रिपोर्ट


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.