Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है फैजाबाद जक्शन

    अयोध्या: अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है फैजाबाद जक्शन

    अयोध्या| फैजाबाद रेलवे स्टेशन  जो यात्रियों की भीड़ से  दिन रात गुलजार रहता था  वह रेलवे स्टेशन आज  अपनी दुर्दशा पर  आंसू बहा रहा है क्योंकि  यात्री ही नहीं है  जिसका मूल कारण  पैसेंजर ट्रेन,  इंटरसिटी ट्रेन,  तथा अन्य ट्रेनों के बंद होने के साथ  चल रही ट्रेनों में जनरल कोच ना लगने के कारण  भीड़ पूरी तरह से छठ गई है  और फैजाबाद रेलवे स्टेशन  का टिकट घर  और  स्टेशन के बाहर  वीरान सा लग रहा है|





     मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या मैं आम लोग आने के लिए उत्सुक रहते हैं भगवान राम का दर्शन पूजन करना चाहते हैं, सरयू की सलिल धारा में स्नान करना चाहते हैं,  बजरंगबली का दर्शन करना चाहते हैं, किंतु आम यात्रियों के सामने एक सबसे बड़ी समस्या है कि अपनी सुविधा के अनुसार रेल यात्रा नहीं कर सकते हैं? क्योंकि पैसेंजर ट्रेन नहीं चल रही है! इंटरसिटी नहीं चल रही है, जो ट्रेनें चल रही है उसमें जनरल बोगी नहीं होती है! एक तरफ सभी रेलगाड़ियां नहीं चल रही है, तो वहीं दूसरी तरफ जो गाड़ियां चल रही है उस में जनरल बोगी के अभाव में गरीब व परेशान लोगों को यात्रा करने से वंचित रहना पड़ रहा है! इतना ही नहीं जल्दबाजी में यदि किसी आवश्यक कार्य से कहीं जाना है तो रेल की यात्रा नहीं कर सकते हैं क्योंकि बिना रिजर्वेशन के रेल के डिब्बे में  चढ़ना अपराध है और रिजर्वेशन के लिए कई दिन पहले से प्रयास करना पड़ता है वह भी वेटिंग में होते हुए क्लियर नहीं हो पाता है वेटिंग टिकट पर भी यात्रा नहीं हो सकती है जब हमने फैजाबाद के रेलवे स्टेशन की तरफ नजर डाला तो देखा कि फैजाबाद रेलवे स्टेशन जिसे सरकार अब अयोध्या कैंट के नाम से करने के लिए प्रयासरत है|

    कुछ दिनों में फैजाबाद जंक्शन का नाम बदलकर अयोध्या कैंट हो सकता है जनपद का यह सबसे बड़ा वह पुराना रेलवे स्टेशन है किंतु यहां के टिकट घर पर जब नजर डालते हैं तो टिकट लेने वाला कोई यात्री नहीं दिखाई पड़ता है क्योंकि टिकट लेने वाले सामान्य श्रेणी के होते हैं जो तत्काल टिकट लेकर रेल की यात्रा करते थे अब  वहां पर सामान्य श्रेणी के यात्री टिकट लेकर यात्रा करने के लिए कैसे जाएं इस कारण वह नजर नहीं आ रहा है मात्र रिजर्वेशन खिड़की पर कुछ लोग दिखाई पड़ते हैं फैजाबाद रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार पर भी देखा जाए तो वहां से भीड़ पूरी तरह से खत्म हो गई है वाहन चलाने वाले, खोमचा ठेका  वाले , तथा अन्य छोटे छोटे दुकानदार की दुकानदारी भी चौपट हो गई है तमाम बेरोजगार युवक ऐसे थे जो तीन पहिया वाहन चलाकर अपना जीविकोपार्जन करते थे अब फैजाबाद रेलवे स्टेशन से उन्हें सवारी नहीं मिल रही है इतना ही नहीं सीजनल टिकट यानी एमएसटी से यात्रा करने वाले भी वंचित नजर आ रहे हैं अब लोगों को रोडवेज की बसों, प्राइवेट बसों का ही मात्र सहारा रह गया है! सपोज करिए की किसी को जल्दबाजी में अयोध्या फैजाबाद से लखनऊ बनारस गुजरात दिल्ली जाना है तो वह कैसे जाएं रेलवे का टिकट इतना जल्दी कंफर्म होना टेढ़ी खीर लग रही है और बस का किराया इतना ज्यादा है कि उसका भार आम लोग नहीं उठा पा रहे हैं ऐसे में आम लोगों का कहना है कि सरकार जल्द से जल्द बंद पड़ी रेलगाड़ी रेलवे को चालू कराएं तथा जनरल डिब्बा को लगवाए जिससे यात्री टिकट लेकर यात्रा कर सकें पैसेंजर ट्रेन और इंटरसिटी ट्रेन को भी जल्द से जल्द चालू कराया जाए|

    देव बक्श वर्मा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.