Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    आज हर कोई बहु तो चाहता है लेकिन बेटियोंं को जन्म देना कोई नहीं चाहता- अमृता दीक्षित

    आज हर कोई बहु तो चाहता है लेकिन बेटियोंं को जन्म देना कोई नहीं चाहता- अमृता दीक्षित

    नववर्ष पर नवजात बच्चियों को उपहार देकर सम्मानित किया

    भावलखेड़ा सीएचसी पर महिला कल्याण विभाग की ओर कार्यक्रम आयोजित

    शाहजहांपुर। नववर्ष 2021 के आगाज पर तमाम तरह से कार्यक्रम आयोजित कर लोग एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं लेकिन महिला कल्याण विभाग की डिस्ट्रिक्ट कोर्डिनेटर अमृता दीक्षित के द्वारा नये साल की शुरुआत भावलखेड़ा ब्लाक स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अंतर्गत नवजात बेटियोंं का सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया।कार्यक्रम का शुभारंभ चिकित्सा अधीक्षक डा0 अमरीश मौर्य व डिस्ट्रिक्ट कोर्डिनेटर अमृता दीक्षित के द्वारा मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया।जिसके एक सप्ताह की नवजात बच्ची व उसकी मां के द्वारा केक काटकर नववर्ष की खुशियां मनाई गई।


    सीएचसी पर एक सप्ताह के अंदर जन्म लेने वाली आठ बेटियोंं व उनकी माताओं को डिस्ट्रिक्ट कोर्डिनेटर के द्वारा उपहार देकर सम्मानित किया गया।डिस्ट्रिक्ट कोर्डिनेटर अमृता दीक्षित ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज हर कोई मां,बहन,बहु तो चाहता है।

    लेकिन बेटियोंं को जन्म लेने से पहले ही बेटियोंं को दुनिया में नही आने देते हैं कुछ लोग।जबकि बेटियोंं ही कल के भविष्य की रोशनी होती है।साथ ही उन्होंने कहा कि नववर्ष की शुरुआत पर नवजात बेटियोंं को सम्मानित करने का मुख्य उद्देश्य ही यह है कि बेटियोंं को लेकर समाज की मानसिकता बदले।

    और बेटा बेटी मे भेदभाव खत्म हो।वही चिकित्सा अधीक्षक डा अमरीश मौर्य ने कहा कि इस तरह के आयोजन हर सीएचसी पर होने चहिए।उन्होंने महिला कल्याण विभाग की सोच की सराहना करते हुए कहा कि आज वास्तविक में बेटियोंं को लेकर हम सब को आगे आना होगा।और सबसे अच्छी बात तो यह है कि नववर्ष की शुरुआत पर नवजात बच्चियों का सम्मान करना गौरव की बात है।इस दौरान आंगनबाड़ी, आशा व सहायिका मौजूद रही।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.