Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: फर्जी नौकरी दिलाने वाला आरोपी जेल के सलाखों में

    अयोध्या: फर्जी नौकरी दिलाने वाला आरोपी जेल के सलाखों में 

    अयोध्या जनपद  के मेडिकल कॉलेज दर्शननगर में कम्प्यूटर ऑपरेटर है आरोपी

    अयोध्या। आज के बेरोजगारी के दौर में बेरोजगारों को धोखा देकर ठगना एक व्यवसाय हो गया है, ठगी करने वाले कई तरह से ठगी कर रहे हैं| उसमें कुछ साइबर के माध्यम से, कुछ नौकरी दिलाने के नाम पर, कुछ दो गुना  करने के नाम पर, कुछ नेटवर्किंग के माध्यम से, बेरोजगारों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर भारी भरकम रकम ऐंठने का काम कर रहे हैं  उसमें से एक  वांछित नगर कोतवाली पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पूछताछ में अपना नाम नाम ऋषभ शर्मा निवासी प्रयागराज बताया है। 



          पुलिस पुलिस सूत्रों  के मुताबिक दर्शन नगर मेडिकल कॉलेज का कंप्यूटर ऑपरेटर ऋषभ के खिलाफ शुभम निवासी मुगलपुरा हैदरगंज थाना कोतवाली नगर ने 23 दिसम्बर 20 को तहरीर दी थी। बताया था कि कंप्यूटर ऑपरेटर व वार्ड ब्वाय की नौकरी दिलाने के नाम पर फर्जी नियुक्ति पत्र व कॉल लेटर जारी कर तीन अन्य से 10 लाख रुपये लिए थे। शुभम की शिकायत के बाद डीआईजी/एसएसपी दीपक कुमार के आदेश पर एसपी सिटी  के निर्देशन   में पुलिस टीम गठित की गई। 23 दिसम्बर 20 को शुभम कुमार ने तहरीर में बताया था कि प्रयागराज निवासी ऋषभ शर्मा मेडिकल कॉलेज दर्शननगर में कम्प्यूटर ऑपरेटर है।

         जिसके आधार पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर नितीश कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में गठित टीम के एसआई  वाह कांस्टेबल  पड़ताल में लग गए। विवेचना के दौरान  वादी मुकदमा शुभम की सूचना के आधार रोडवेज सिविल लाइन से अभियुक्त ऋषभ को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस पूछताछ में अभियुक्त ने अपना जुर्म स्वीकार किया है। अभियुक्त के विरुद्ध आवश्यक विधिक कार्रवाई  किया गया।ऋषभ शर्मा मूल निवासी कांदी सहसो थाना थरवई जनपद प्रयागराज का है।

    देव बक्श वर्मा, अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.