Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोविड-19 वैक्सीनेशन के पहले दिन 400 में से लगभग 300 लोगों को लगाया गया टीका

    कोविड-19 वैक्सीनेशन के पहले दिन 400 में से लगभग 300 लोगों को लगाया गया टीका

    सीतापुर| कोविड-19 का प्रथम दिन ऐतिहासिक सफलता का रहा जिला महिला चिकित्सालय में वैक्सीनेशन के बाद बाहर निकली डॉ रीता एवं स्टाफ नर्स सरिता ने कहा कि हम स्वस्थ महसूस कर रहे हैं| कोविड-19 को लेकर लोगों में कौतूहल बना रहा। कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे सीतापुर जिले के लिए शनिवार का दिन ऐतिहासिक बन गया है| जिले के चारों चिन्हित केंद्रों पर शनिवार को शांतिपूर्ण तरीके से टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया गया| सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इन चारों टीकाकरण केंद्रों पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोनावायरस की वैक्सीन और टीकाकरण अभियान की लांचिंग की ग जिसके बाद टीकाकरण का काम शुरू किया गया पहले चरण में जिला मुख्यालय पर जिला महिला चिकित्सालय सहित सीएचसी खैराबाद और हर गांव के अलावा निजी क्षेत्र के अटरिया के हिंद मेडिकल कॉलेज में कोरोनावायरस के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाए गए इस दौरान वैक्सीन का प्रभाव भी देखा गया जिला में ला चिकित्सालय पर स्टाफ नर्स सरिता को a.m. साधना द्वारा पहला टीका लगाया गया अटरिया के हिंद मेडिकल कॉलेज में सफाई कर्मी बिल्लू बिल्लू को पहला टीका लगाया गया इन सभी जगहों पर 100 लाभार्थियों के टीकाकरण का लक्ष्य था ।

       शाम 4:00 बजे तक इन चारों केंद्रों पर 400 में से 300 लोगों को टीका लगाया जा चुका था या सभी पूरी तरह से स्वस्थ हैं इस मौके पर नगर मजिस्ट्रेट शिशिर कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मधु गैराला, ए सी एम को डॉक्टर रविदास जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ जयराम गौतम महिला चिकित्सालय की सीएमएस डॉ सुषमा कर्णवाल आदि मौजूद रहे।

    टीकाकरण केंद्र पर पहुंचने पर सबसे पहले लाभार्थी के पहचान पत्र से वेरिफिकेशन किया गया इसके बाद लाभार्थियों को प्रतीक्षा कक्ष में बिठाया गया यहां पर गोविंद पोर्टल पर अपलोड डाटा से लाभार्थी के नाम और पहचान पत्र का मिलान किया गया इसके बाद एक-एक कर लाभार्थियों को टीकाकरण कक्ष में बुलाकर टीका लगाया गया टीका लगाने के बाद आप जब आप जब व्यसन रूम में लाभार्थियों को करीब आधे घंटे तक बिठाया गया जहां पर टीके के प्रभाव पर लगातार नजर रखी जा रही थी इसके लिए एक स्पेशलिस्ट टीम तैनात थी जिसमें डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ के लोग शामिल थे जो एडवर्स इफेक्ट फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन किसके साथ देखरेख करते रहे वैक्सीनेशन के 30 मिनट बाद ही लाभार्थी को घर भेजा गया।

    शरद कपूर सीतापुर INA NEWS

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.