Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    राजस्व वसूली में प्रगति न होने के कारण अधिकारियों का रोका गया वेतन

    राजस्व वसूली में प्रगति न होने के कारण अधिकारियों का रोका गया वेतन

    पीलीभीत। जिलाधिकारी  पुलकित खरे की अध्यक्षता में राजस्व कार्यों व कर-करेत्तर समीक्षा बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। राजस्व कार्यो की बैठक के दौरान उन्होंने समस्त उपजिलाधिकारी तहसीलों में पुराने वादो को निस्तारण हेतु पूर्व में दिये गये निर्देशों का अनुपालन न किये जाने के कारण कड़ी चेतावनी देते हुये कहा कि अगली बैठक तक वादो का निस्तारण सुनिश्चित किया जाये अन्यथा की स्थिति में प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की जायेगी। 



    पट्टे आवंटन सम्बन्धी कार्यों की समीक्षा के दौरान तहसीलदार कलीनगर द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप पटटा आंवटन में प्रगति न होने के कारण असंतोष व्यक्त करते हुये इस माह का वेतन रोकने के निर्देश दिये गये तथा समस्त तहसीलदारों को पट्टा आवंटन के सम्बन्ध मयफोटो सहित तैयार रजिस्टर को उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया। आयोजित बैठक में समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अगले एक सप्ताह में राजस्व ग्रामों के सम्बन्ध में प्रमाण पत्र उपलब्ध करायें कि सम्बन्धित ग्राम में समस्त सार्वजनिक/सरकारी भूमि कब्जा मुक्त है। विरासत के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त उप जिलाधिकारी सुनिश्चित करे कि र्निविवादित समस्त वरासत सुनिश्चित किया जाये तथा अभियान चलाकर अगले 10 दिन में उक्त के सम्बन्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।   

    कर करेत्तर की बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने वाणिज्यकर, स्टाम्प, आबकारी, परिवहन, विद्युत, सामाजिक वानिकी, बाढ़ खंड, मण्डी, राजस्व विभाग सहित विभिन्न विभागों के निर्धारित किये गए लक्ष्य के सापेक्ष अब तक की गई राजस्व वसूली की विभागवार समीक्षा की गई। उन्होंने समस्त विभागों को शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप तैयारियां सुनिश्चित करते हुये कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया तथा निर्धारित राजस्व की शतप्रतिशत वसूली सुनिश्चित की जाये। राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान एआईजी स्टाम्प के क्रर्मिक लक्ष्य के अनुरूप वसूली में प्रगति में सब रजिस्टार पूरनपुर व सदर की प्रगति कम होने के कारण वेतन रोकने के निर्देश दिये गये। आबकारी विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान विगत माह के सापेक्ष प्रगति कम होने के कारण असंतोष व्यक्त करते हुये जिला आबकारी अधिकारी व 04 आबकारी निरीक्षको का वेतन रोकने के निर्देश दिये गये। इस दौरान संबंधित समस्त अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि प्रति माह प्रगति निश्चित रूप से सुनिश्चित की जाए यदि विगत माह से प्रगति में कमी आती है तो संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी शासन की मंशा के अनुरूप निर्धारित लक्ष्य की शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित की जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।

    बैठक में अपर जिलाधिकारी (न्यायिक.)  देवेन्द्र प्रताप मिश्र, नगर मजिस्ट्रेट अरूण कुमार, समस्त उपजिलाधिकारी, अधिशासी अभियन्ता विद्युत, एआरटीओ  अमिताभ राय, जिला आबकारी अधिकारी, सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

    जनपद पीलीभीत से कुंवर निर्भय सिंह की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.