Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शिक्षा की गुणवत्ता का रखें विशेष ध्यान, मिशन कायाकल्प के कार्यों को करें पूर्ण-जिलाधिकारी

    शिक्षा की गुणवत्ता का रखें विशेष ध्यान, मिशन कायाकल्प के कार्यों को करें पूर्ण-जिलाधिकारी

    पीलीभीत जिलाधिकारी  पुलकित खरे की अध्यक्षता में मिशन प्रेरणा एवं आपरेशन कायाकल्प के सम्बन्ध में बेसिक शिक्षा विभाग के समस्त नोडल संकुल शिक्षक, एआरपी, जिला समन्वयक, एसआरजी, खण्ड शिक्षाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक गांधी प्रेक्षागृह में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा उपरोक्त नोडल अधिकारियों को मिशन कायाकल्प के अन्तर्गत कराये जाने वाले कार्यों, शिक्षा की गुणवत्ता, के सम्बन्ध में निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त संकुल शिक्षकों व एआरपी का पूर्ण दायित्व है कि प्रत्येक विद्यालय में शिक्षा का अच्छा वातावरण के साथ साथ गुणवत्तापरक शिक्षा की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा शिक्षा हेतु समस्त व्यवस्थाऐं प्रदान की गई हैं, सभी दायित्व है कि अपने कर्तव्यों का निर्वाहन करते हुये आगामी पीढ़ी को अच्छी शिक्षा उपलब्ध करायें।





    उन्होंने कहा कि समस्त संकुल शिक्षक सुनिश्चित करें कि अपने क्षेत्र के विद्यालयों में मिशन कायाकल्प के अन्तर्गत समस्त मानकों को पूर्ण किया जाये यदि कोई कार्य अबशेष हैं तो सम्बन्धित ग्राम प्रधान व सचिव से सम्पर्क कर कार्य को पूर्ण करायें। उन्होंने कहा कि कम्पोजिट ग्राण्ड के तहत उपलब्ध कराई गई धनराशि का उचित उपयोग करते हुये छोटी-मोटी कमियों को पूर्ण किया जाये। उन्होंने निर्देशित करते हुये कहा कि समस्त विद्यालयों में पुस्तकालय स्थापित करने के साथ साथ बच्चों को पढ़ने हेतु पुस्तकें नियमित उपलब्ध कराई जाये। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी को एक अवसर मनाते हुये विद्यालयों की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हेतु आयोजित की गई सैट-1 व 2 परीक्षा के परिणामों की समीक्षा करते हुये, निम्न ग्रेड में आये विद्यालयों का चिन्हाकंन कर समीक्षा की जाये। ऐसे विद्यालयों के अध्यापकों को अच्छी विषयों में ग्रेड पाने विद्यालयों के अध्यापकों की टीम बनाकर कार्यशाला का आयोजन शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हेतु कार्यवाही की जाये।

    उन्होंने कहा कि ऐसे तरीकों को अपनाया जाये जिससे बच्चों को विषय में रूचि उत्पन्न हो और उनकी ग्रेड में नियमित सुधार आये। उन्होंने कहा कि हमसब का दायित्व है कि अच्छी शिक्षा प्रदान करें जिससे अच्छे समाज का निर्माण हो सके। उन्होंने कहा कि विद्यालयों के बच्चों को खेलने हेतु उपलब्ध कराई गई सामग्री का प्रयोग किया जाये तथा बच्चों को प्रोत्साहित किया जाये। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में विभिन्न विषयों पर बने चार्ट, मैप ग्लो का प्रयोग कर बच्चों सिखाया जाये। उन्होंने कहा कि विभिन्न माध्यमों का शिक्षा उपलब्ध कराने में उपयोग किया जाये। 

    बैठक के दौरान जिला बेसिक शिक्षा, समस्त नोडल संकुल शिक्षक, एआरपी, जिला समन्वयक, एसआरजी, खण्ड शिक्षाधिकारियों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

    जनपद पीलीभीत से कुंवर निर्भय सिंह की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.