Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने फीता काटकर किया खुशहाल परिवार दिवस का शुभारम्भ

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने फीता काटकर किया खुशहाल परिवार दिवस का शुभारम्भ

    शाहजहांपुर |  प्रदेश के सभी जिलों में हर माह की 21 तारीख को “खुशहाल परिवार दिवस” मनाये जाने का निर्णय शासन स्तर से लिया गया है | इसी के तहत  प्रथम बार 21 नवम्बर 2020 को “खुशहाल परिवार दिवस” मनाया गया था ,  जिसमें जनपद के लगभग 11,000 दम्पति  को लाभान्वित  किया गया था | इसी क्रम में जनपद में सोमवार  (21 दिसंबर) को दूसरा “खुशहाल परिवार दिवस” आयोजित किया गया | इसका उदघाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एस.पी गौतम ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ददरौल के प्रांगण में फीता काटकर किया  |


    मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने उपस्थित दंपति को परिवार कल्याण के लाभ और सही साधनों के चयन के विषय में जानकारी देते हुए बताया कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए परिवार कल्याण की सेवाओं को वृहद रूप देना बहुत महत्वपूर्ण है | इसी को संज्ञान में लेते हुए शासन द्वारा परिवार कल्याण की सेवाओं को सुदृढ़ बनाने के लिए समुदाय स्तर पर निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति के लिए परिवार कल्याण की महत्वता और मांग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से खुशहाल परिवार दिवस जैसी अनूठी पहल की शुरुआत की गई |

    इसके  तहत जनपद के लक्षित समूह को परिवार कल्याण के साधन अपनाने के लिए नजदीकी प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर एक निश्चित दिवस पर  योग्य दम्पतियों को बुलाकर परिवार कल्याण के विषय पर प्रेरित करने एवं सही साधन अपनाने के लिए साधन चयन करने में उनकी मदद करने पर विशेष जोर दिया जा रहा है | इसको सफल बनाने के लिए जनपद के 17 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 47 अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और 52 हेल्थ वेलनेस केंद्र सहित जिला अस्पताल में दूसरे खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया गया  |

     डा. शैलेन्द्र कुमार आर्य अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि “खुशहाल परिवार दिवस” पर जनपद के सभी लक्षित समूह को प्रेरित करने के साथ तीन समूहों को विशेष प्रोत्साहित किया जा रहा है। पहला  समूह - हाई रिस्क प्रेगनेंसी (एचआरपी) वाली महिलाएं हैं | इस समूह में ऐसी महिलाओं  को लिया गया है जिनका जोखिम पूर्ण प्रसव एक जनवरी, 2020 के बाद हुआ है। दूसरे लक्षित समूह में एक जनवरी, 2020 के बाद विवाहित नव दंपत्ति और तीसरे समूह में ऐसे लक्षित दंपत्ति को शामिल किया गया है जिनके तीन या तीन से अधिक बच्चे हैं।

    इमरान खान जिला कार्यक्रम प्रबन्धक ने बताया कि  21 दिसंबर को होने वाले खुशहाल परिवार दिवस में लक्षित दम्पति  की भागीदारी बढ़ाने के लिए विभाग की ओर से आशा और ए.एम.एम के द्वारा जन समुदाय के लोगों को सूचित किया गया था | “खुशहाल परिवार दिवस” के आयोजन का प्रमुख उद्देश्य समुदाय में परिवार नियोजन की जागरूकता तथा स्वीकार्यता बढ़ाना है।

    लाभार्थी सविता देवी ने बताया कि मेरी आशा दीदी ने मुझे अस्पताल चलने के लिए कहा था तो मैंने पहले मना  कर दिया कि मुझे मेरी सास नही भेजेगी फिर इन्होंने बताया कि वहां पर एक बहुत बड़े स्तर पर खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया जाएगा और बड़े बड़े डॉक्टरों के माध्यम से परिवार कल्याण सम्बन्धी जानकारी और  सेवाएं  प्रदान की जाएगी l तो मैंने अपने घर पर अपनी सास और पति से बात की फिर दोनों लोग राजी हो गए और यहां  आकर मैंने और मेरे पति ने सारी जानकारी ली और परिवार कल्याण के अस्थायी साधन अंतरा इंजेक्शन दोनों लोगों ने सहमति से अपनाया मेरे एक बेटी है मुझे तीन साल का अंतराल चाहिए l यहाँ आकर मुझे बहुत जानकारी मिली|

    इस अवसर पर जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ, नवीन कुमार वर्मा डा. सचिन कुमार चिकित्सा अधीक्षक , फैजुल खान बीपीएम सहित सामुदायिक स्वाथ्य केंद्र का समस्त स्टाफ मौजूद रहा


    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.