Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सर्वे ऑफ इण्डिया के तहत समस्त तहसीलों में ग्राम पंचायत वार ड्रोन कैमरे द्वारा किया जायेगा सर्वेक्षण- जिलाधिकारी

    सर्वे ऑफ इण्डिया के तहत समस्त तहसीलों में ग्राम पंचायत वार ड्रोन कैमरे द्वारा किया जायेगा सर्वेक्षण- जिलाधिकारी
    पीलीभीत। जिलाधिकारी  पुलकित खरे द्वारा  स्वामित्व योजना के अन्तर्गत ड्रोन सर्वे के कार्य को सकुशल व ससमय सम्पन्न कराने हेतु बैठक देर शाम गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। आयोजित बैठक में जिलाधिकारी द्वारा समस्त उप जिलाधिकारियों व खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि यह योजना शासन की प्रमुख योजनाओं में सम्मिलित है, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी। उन्होंने कहा कि इस योजना के अन्तर्गत सर्वे आॅफ इण्डिया के तहत ड्रोन सर्वे का कार्य आज तहसील सदर से प्रारम्भ किया गया है और जिसके अन्तर्गत आगे जनपद की समस्त तहसीलों में ग्राम पंचायत वार ड्रोन कैमरे द्वारा सर्वेक्षण का कार्य किया जायेगा। आज ग्राम उमरसड़ मुस्तिकल में प्रारम्भ किया गया है। यह कार्य राजस्व व विकास विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से सम्पन्न किया जाना है। ड्रोन सर्वेक्षण के दौरान आवश्यक सहयोग राजस्व व ग्राम पंचायत के द्वारा किया जायेगा। सर्वेक्षण के दौरान सबसे प्रमुख कार्य चूने के द्वारा ग्राम पंचायत में मैपिंग का कार्य किया जायेगा, जिसमें ग्राम प्रधानों, लेखपाल व सचिवों के माध्यम से चूने मैपिंग के कार्य सहित समस्त तैयारियां एक दिन पूर्व सम्पन्न करा ली जाये। जिससे ड्रोन सर्वेक्षण में अधिक समय न लगे। उन्होेंने कहा कि समस्त तहसीलों में सर्वे कार्य हेतु 05-05 ग्रामों की सूची तैयार की गई है, सभी उप जिलाधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी सूची के अनुसार कार्य कराना सम्पन्न करेगें। उन्होंने कहा लेखपाल, ग्राम प्रधान व सचिव के माध्यम से ग्रामवासियों को स्वामित्व योजना के लाभ के बारे में जानकारी प्रदान की जाये, उनको बताया जाये कि इस योजना के अन्तर्गत ग्रामवासियों को आवासीय भूमि पर मालिकाना हक मिलेगा। जिससे योजना को सकुशल व ससमय पूर्ण करने में अधिक से अधिक लोगों का सहयोग प्राप्त कर कार्य सम्पन्न कराया जाये।  
    आयोजित बैठक में अपर जिलाधिकारी न्यायिक द्वारा स्वामित्व योजना के बारे में जानकारी देते हुये ड्रोन सर्वेक्षण के कार्य की योजना के बारे जानकारी दी गई उनके द्वारा बताया गया कि जनपद में 664 ग्राम पंचायतों में सर्वेक्षण का कार्य किया जायेगा और प्रत्येक माह लगभग 200 ग्राम का ड्रोन कैमरे के द्वारा सर्वेक्षण किया जायेगा। इसके उपरान्त मैपिंग का कार्य किया जायेगा। प्रथम चरण की तैयार मैंपिग का सत्यापन का कार्य प्रत्येक ग्राम पंचायत में किया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रारूप-5 पर समस्त ग्रामों की सूचना प्राप्त करने का कार्य प्रगति पर है।
    सर्वे आफ इण्डिया के तरफ से आये कैप्टन अजय सिंह नेगी द्वारा अवगत कराया गया कि चूने मैंपिग का कार्य  जितना अच्छा होगा, मैंपिग करने में उतनी आसानी व त्रृटि की सम्भावना कम रहेगी। अतः चूना मैंपिग का कार्य सफाई के साथ किया जाये, जिससे ड्रोन द्वारा अच्छी तस्वीरें प्राप्त हो सके। 
    बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र पाठक, समस्त उप जिलाधिकारी, डीसी मनरेगा मृणाल सिंह, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, समस्त खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

    पीलीभीत से कुंवर निर्भय सिंह की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.