Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सुबह की सैर पड़ सकती है महंगी, बिना मास्क न निकलें घर से बाहर

    सुबह की सैर पड़ सकती है महंगी, बिना मास्क न निकलें घर से बाहर
    गोरखपुर। सुबह की सैर आपकी सेहत बिगाड़ सकती है। शहर की आबोहवा बेहद ही चिंताजनक स्थिति में पहुंच चुकी है। ऐसे में अब सिर्फ कोरोना से बचाव के लिए ही नहीं, बल्कि प्रदूषण से बचाव के लिए बेहद जरूरी है। शहर इस कदर प्रदूषित है कि इससे एलर्जी व अस्थमा पीड़ित लोगों के साथ-साथ सामान्य लोगों को भी भारी दिक्कतें हो सकती हैं।
    जिला आपदा विशेषज्ञ गौतम गुप्ता ने बताया कि कलक्ट्रेट परिसर में पर्यावरण प्रदूषण को मापने के लिए सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकॉस्टिंग एंड रिसर्च (सफर) स्टेशन से बीते चार दिन के पीएम 10, पीएम 2.5 और पीएम 1 के जो आंकड़ें सामने आ रहे हैं वह संतोषजनक पैमाने को काफी पीछे छोड़ चुके हैं। अधिकतर दिनों में सुबह सात बजे से 11 बजे पीएम 10 का पैमाना 850 के आंकड़ें को पार कर चुका है। हालांकि तापमान बढ़ने के साथ इसमें कमी देखी गई है। सबसे कम प्रदूषण रात एक बजे से भोर चार बजे तक है। इस दौरान पीएम-10 180 से 200 के बीच है।

    बेहद ही खतरनाक है ये प्रदूषण..

    सांस के रास्ते शरीर में प्रवेश करते हैं तो काफी खतरनाक स्थिति होती है। आमतौर पर ये वातावरण में बने रहते हैं लेकिन ठंड के समय वातावरण में मौजूद ओस की बूंदों के साथ चिपककर नीचे आ जाते हैं, ऐसे में ये और अधिक खतरनाक हो जाते हैं। पीएम 1, पीएम 2.5 व पीएम 10 के रूप में वर्गीकरण किया गया है। पीएम 1 काफी छोटे कण होते हैं।

    बाहर निकलने से बचें, घर पर ही करें व्यायाम..

    शहर के वरिष्ठ चेस्ट रोग विशेषज्ञ डॉ. वीएन अग्रवाल ने बताया कि एलर्जी या अस्थमा की दिक्कत है तो इस हवा में टहलने से सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। स्ट्रोक पड़ सकता है। अधिक उम्र वाले लोगों, सांस के रोगियों को ठंड अधिक होने पर टहलने से परहेज करना चाहिए। तापमान बढ़ने पर ही घर से बाहर निकलें। यदि सामान्य व्यक्ति भी इस तरह की हवा में लगातार रहेगा तो उसे भी परेशानी हो सकती है। मास्क लगाने से हवा के प्रदूषण से भी बचा जा सकता है।

    इंसान के बाल से भी 70 गुना पतला होता है पीएम-1...

    वायु प्रदूषण के लिए बहुत हद तक जिम्मेदार पार्टिकुलेट मैटर (पीएम) 2.5 और पीएम-10 को माना जाता है लेकिन अब तक एक महत्वपूर्ण और बेहद खतरनाक कण को नजरअंदाज कर दिया जाता है, जिसे पीएम-1 कहा जाता है। पीएम 2.5 इंसान के बाल की मोटाई की तुलना में लगभग 30 गुना महीन है जबकि पीएम 1 इंसान के बाल की तुलना में 70 गुना अधिक पतला है।
     
    अलग-अलग दिनों में वायु प्रदूषण की स्थिति..

    दिनांक समय पीएम 10 पीएम 2.5 पीएम 1
    18/12/2020 07 बजे 742.47 673.02 335.36
    17/12/2020 09 बजे 682.49 607.94 227.79
    17/12/2020 11 बजे 494.48 345.38 118.09
    16/12/2020 07 बजे 852.76 781.76 309.41
    16/12/2020 09 बजे 855.96 791.82 313.39
    16/12/2020 07 बजे 852.76 781.73 309.65
    16/12/2020 10 बजे 855.96 791.82 313.39
    15/12/2020 08 बजे 337.45 269.14 105.75

    15/12/2020 10 बजे 799.21 658.26 244.37

    अमित कुमार सिंह
    गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.