Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गोरखपुर- अयोध्या एमएलसी इलेक्शन: ध्रुव त्रिपाठी ने लगाई जीत की हैट्रिक

    गोरखपुर- अयोध्या एमएलसी इलेक्शन: ध्रुव त्रिपाठी ने लगाई जीत की हैट्रिक
    गोरखपुर। गोरखपुर-अयोध्या खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के 2020 के चुनाव में भी बाजी मारते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के प्रत्याशी ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने जीत की हैट्रिक लगाई है। इस सीट पर लगातार तीन बार जीतने वाले वह पहले प्रत्याशी बन गए हैं। उन्होंने अपने निकतटम प्रतिद्वंद्वी अजय सिंह को 1008 मतों से पराजित किया। ध्रुव को 10227 जबकि अजय सिंह को 9219 वोट मिला। चुनाव का फैसला दूसरी वरीयता के मतों की गिनती के बाद हुआ। 16 में से 14 प्रत्याशी परिणाम की दौड़ से बाहर (एलिमिनेट) होते गए। नई पेंशन के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले निर्दल प्रत्याशी राजीव यादव ने 4529 मत हासिल करते हुए तीसरा स्थान प्राप्त किया है। चौथे स्थान पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अवधेश कुमार यादव रहे, उन्हें 2667 वोट मिले। मंडलायुक्त/ रिटर्निंग आफिसर जयंत नार्लिकर ने विजयी प्रत्याशी को प्रमाण पत्र प्रदान किया।

    देर शाम को पूरी हुई मतों की गिनती....

    मतगणना प्रक्रिया गुरुवार की सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुई। दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के वाणिज्य संकाय भवन में सबसे पहले इस क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 17 जिलों से यहां लायी गई मटपेटिका का मिलान किया गया, 50-50 की गड्डी बनाई गई। उसके बाद प्रथम वरीयता के मतों की गिनती शुरू हुई। शाम करीब सात बजे तक मतों की गिनती पूरी हुई। इसमें 1277 मत अवैध रहे। प्रथम वरीयता के मतों में ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने अजय सिंह पर 854 वोटों की बढ़त बना ली थी। इलेक्टोरल कोटा (कुल वैध मतों के 50 फीसद से एक वोट अधिक) के लिए जरूरी मत न पाने के कारण दूसरी वरीयता की गणना शुरू की गई। नीचे से 14 प्रत्याशियों अनिल कुमार गौतम, अनिल कुमार श्रीवास्तव, नागेंद्र दत्त त्रिपाठी, देशबंधु शुक्ला, लाल बहादुर यादव, अरुण सिंह, रमेश कुमार विमल, नागेंद्र प्रताप सिंह, विभ्राट चंद कौशिक, राम प्रताप राम, राम जन्म सिंह, नरेंद्र सिंह, अवधेश यादव व राजीव यादव परिणाम के दौर से बाहर (एलिमिनेट) हो गए। ध्रुव कुमार त्रिपाठी एवं अजय सिंह के बीच अंत तक कांटे की टक्कर जारी रही। सपा प्रत्याशी के दौड़ से बाहर होने तक ध्रुव त्रिपाठी 729 वोटों से आगे चल रहे थे। 
    इसके पहले राउंड में भी अजय सिंह ने उनपर बढ़त बनाई थी। हालांकि अंतिम प्रत्याशी के मतों की गणना में ध्रुव त्रिपाठी ने एक बार फिर बढ़त बनाकर जीत का अंतर भी बढ़ा लिया। शिक्षक एमएलसी के चुनाव के लिए एक दिसंबर को वोट डाले गए थे। पूरे क्षेत्र में 73.94 फीसद यानी करीब 28802 मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया था। करीब 22 घंटे तक चली मतगणना के दौरान अधिकतर समय तक मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पाण्डियन, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल, अपर आयुक्त प्रशासन अजयकांत सैनी, एडीएम सिटी राकेश कुमार श्रीवास्तव व एडीएम वित्त एवं राजस्व राजेश कुमार सिंह उपस्थित रहे।

    संजय राजपूत
    रीजनल एडिटर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.