Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    26 दिसम्बर से 26 जनवरी तक चलेगा एसीएफ अभियान, संयुक्त रूप से चलेगा कोविड-19 स्क्रीनिंग और क्षय रोग खोजी अभियान

    26 दिसम्बर से 26 जनवरी तक चलेगा एसीएफ अभियान, संयुक्त रूप से चलेगा कोविड-19 स्क्रीनिंग और क्षय रोग खोजी अभियान

    टीबी हारेगा,  देश जीतेगा : डा. नरेश पाल

    शाहजहांपुर| जनपद को कोविड-19 और क्षय रोग मुक्त बनाने के लिये जनपद में  26 दिसम्बर 2020 से 26 जनवरी 2021 के मध्य तीन चरण में संयुक्त रूप से कोविड-19 स्क्रीनिंग और क्षय रोग खोजी अभियान चलाया जायेगा | 

    डा. नरेश पाल सिंह,  जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया कि जनपद को क्षयरोग मुक्त बनाने के लिए क्षय रोगियों को खोज उपचार देना विभाग की प्राथमिकता है | इसमें सभी का सहयोग बहुत जरुरी है | तभी टीबी हारेगा, देश जीतेगा | क्षय रोग उन्मूलन के लिए जनपद में संयुक्त अभियान का प्रथम चरण 26 दिसम्बर 2020 से 1 जनवरी 2021 के मध्य  चलाया जायेगा | इस दौरान अनाथालय, वृद्ध आश्रम ,नारी निकेतन ,बाल संरक्षण गृह ,मदरसा, नवोदय विद्यालय ,कारागार ,इत्यादि में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के द्वारा क्षय  रोग एवं कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग की जाएगी|  दोनों कार्यक्रमों को संयुक्त रूप से संचालित किया जाएगा |

    दूसरा चरण  2 से 8 जनवरी और 10 से 12 जनवरी 2021 के मध्य संचालित किया जायेगा | इसमें शहरी और ग्रामीण, मलिन बस्ती, हाई रिस्क जनसंख्या ( एच.आई.वी एवं डायबिटीज)  वाले क्षेत्रों की 20 प्रतिशत जनसंख्या को कवर किया जाएगा |

    तीसरा चरण 13 से 25 जनवरी 2021 तक चलेगा इस दौरान निजी अस्पतालों ने जाकर स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के द्वारा संपर्क कर क्षय रोगियों की सूचना प्राप्त की जायेगी | रंजीत कुमार सक्सेना जिला समन्वयक ने बताया कि संयुक्त अभियान के दौरान आईडीएसपी  नोडल अधिकारी द्वारा कोविड-19 की स्क्रीनिंग संबंधी सामग्री एवं रिपोर्टिंग प्रपत्र उपलब्ध कराए जाएंगे तथा  जिला क्षय रोग अधिकारी द्वारा क्षय रोगियों की स्क्रीनिंग संबंधी सामग्री एवं रिपोर्टिंग प्रपत्र उपलब्ध कराए जाएंगे l कोविड-19 की जांच के लिए सैम्पल कोविड नोडल  अधिकारी द्वारा संबंधित प्रयोगशाला में  भेजे जायेंगे और संदिग्ध क्षय रोगी के बलगम का परीक्षण सी0बी नॉट मशीन द्वारा किया जायेगा | इस अभियान की गतिविधियों का किसी भी कर्मचारी को कोई भी अतिरिक्त  इनिसेंटिव या आनरेरिययम  नहीं  दिया जाएगा|

    सिद्धार्थ गुप्ता,  जिला कार्यक्रम समन्वयक ने  बताया कि अभियान के तीनों चरण पूर्ण होने के पश्चात चिन्हित क्षय रोगियों को निक्षय पोर्टल पर पंजीकृत किया जायेगा | इसके बाद उनकी एच.आई.वी. डायबिटीज की जांच करके तत्काल क्षय रोग उन्मूलन विधि के तहत इलाज शुरू किया जायेगा |

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.